नई दिल्ली: दिल्ली की एक अदालत ने शुक्रवार को कई बांग्लादेशी नागरिकों को जमानत दे दी है, जिन्होंने मार्च में दिल्ली के निजामुद्दीन मरकज में तबलीगी जमात बैठक में हिस्सा लिया था। साकेत कोर्ट मुख्य महानगर दंडाधिकारी गुरमोहिना कौर ने प्रत्येक विदेशी को 10,000-10,000 रुपये के निजी मुचलके पर यह राहत दी। मामले की सुनवाई वीडियो-कॉन्फ्रेंसिंग के माध्यम से हुई।

आरोपियों ने आज कोर्ट में समझौता आवेदन (प्ली बार्गेनिंग एप्लिकेशन) दिया। इस तरह के आवेदन के तहत आरोपी अपना दोष स्वीकार कर लेता है और कम दंड देने की याचना करता है।

अब तक, अफगानिस्तान, ब्राजील, चीन, अमेरिका, यूक्रेन, ऑस्ट्रेलिया, मिस्र, रूस, अल्जीरिया, बेल्जियम, सऊदी अरब और अन्य सहित विभिन्न देशों के नागरिकों को जमानत दी गई है।

सभी आरोपित पर वीजा नियमों का कथित उल्लंघन करने के अलावा कोविड-19 के मद्देनजर भारत सरकार द्वारा जारी दिशा-निर्देशों का उल्लंघन करके जमात में हिस्सा लेने का आरोप है।

दिल्ली पुलिस की अपराध शाखा ने मामले के संबंध में 900 से अधिक विदेशी नागरिकों का नाम लिया है। उन्हें गिरफ्तार नहीं किया गया है, हालांकि केंद्र ने उनका वीजा रद्द कर दिया है और उन्हें ब्लैकलिस्टेड कर दिया है। तबलीगी जमात नेता मौलाना साद और अन्य के खिलाफ 31 मार्च को प्राथमिकी दर्ज की गई थी।

आरोपियों पर भारतीय दंड संहिता (आईपीसी), महामारी रोग अधिनियम, आपदा प्रबंधन अधिनियम के प्रावधानों के तहत और आपराधिक प्रक्रिया संहिता की धारा 144 के तहत निषेधात्मक आदेशों के उल्लंघन के लिए मामला दर्ज किया गया है।

--आईएएनएस

मुंबई: निर्देशक व कोरियोग्राफर फराह खान कुंदर ने 'दिल बेचारा' के टाइटल ट्रैक के लिए दिवंगत अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत को कोरियोग्राफ करने के पल को याद किया और साथ ही उन्होंने कहा कि इसमें देखा जा सकता है कि 'वह कितने जिंदादिल और खुशमिजाज दिख रहे हैं।'

यह टाइटल ट्रैक शुक्रवार को लॉन्च हुआ।

गाने की एक तस्वीर के साथ फराह ने इंस्टाग्राम पर लिखा, "यह गाना खास तौर पर मेरे करीब है, क्योंकि यह पहली बार था जब मैं सुशांत को कोरियोग्राफ कर रही थी .. हम लंबे समय से दोस्त थे, लेकिन कभी एक साथ काम नहीं किया।"

उन्होंने आगे कहा, "मैंने मुकेश छाबड़ा से यह भी वादा किया था कि जब वह अपना निर्देशन करेंगे तो मैं उनके लिए एक गाना करूंगी . मैं चाहती थी कि यह गाना एक शॉट में शूट किया जाए, क्योंकि मुझे पता था कि सुशांत इसे पूरी तरह से कर पाएंगे।"

फराह ने आगे कहा, "मुझे याद है कि सुशांत एक बार एक रियलिटी डांस शो में आए थे, जिसे मैं एक सेलिब्रिटी गेस्ट के रूप में जज कर रही थी और उस शो में सिर्फ एक बार मेहमान गेस्ट ने प्रतियोगियों से बेहतर डांस किया था। हमने दिन भर रिहर्सल किया और फिर आधे दिन में शूटिंग पूरी की! इसे अच्छी तरह से पूरा करने के लिए पुरस्कार के रूप में सुशांत चाहते थे कि मेरे घर से खाना मैं उन्हें खिलाऊं, जो मैंने उन्हें खिलाया।"

फराह ने आगे कहा, "मैंने गाना देखा और मैं यह देख सकती हूं कि वह कैसे जिंदादिली से इसे कर रहे हैं, वह इसमें कितने खुश हैं . हां यह गीत मेरे लिए बहुत खास है। थैंक यू कास्टिंग छाबरा, जो आपने अपनी इस यात्रा में मुझे शामिल किया। हैशटैगमिसयूसुशांतसिंहराजपूत।"

--आईएएनएस

मुंबई: अभिनेत्री तापसी पन्नू का कहना है कि उन्होंने जीवन में जिस चीज के लिए भी प्रयास किया उस चीज में उन्हें कई उतार-चढ़ाव देखने पड़े हैं। तापसी ने इंस्टाग्राम पर एक पुरानी तस्वीर साझा की। यह तस्वीर तब की है, जब उनकी टीम पुणे सेवन एसेस ने प्रीमियर बैडमिंटन लीग (पीबीएल) जीती थी।

तस्वीर के साथ तापसी ने लिखा, "जहां मैंने शुरू किया था उसे वापस जीना ... 2020 बहुत परेशान करने वाला रहा। हालांकि कई कारण हैं, लेकिन बात यह है कि समय किसी का इंतजार नहीं करता है। या इसे देखने का एक बेहतर तरीका है, यह भी बीत ही जाएगा।"

तस्वीर में तापसी स्पोटिर्ंग पिगटेल, एक नीली जैकेट और गुलाबी टी-शर्ट पहने नजर आई थीं।

उन्होंने आगे लिखा, "यह पल याद है, जब मेरी टीम ने पीबीएल में अपना पहला टाई जीता था, तब लगभग हर कोई सोच रहा था हमने कर दिखाया। एक के बाद एक खेल हारना जाहिर है कि हममें से किसी ने भी इसकी कल्पना नहीं की थी। इस जीत ने निश्चित रूप से मेरे चेहरे पर वह मुस्कान ला दी, लेकिन यह भी आश्वस्त किया कि बुरा समय तब तक नहीं टिकेगा, जब आप आशा और सकारात्मकता के साथ रहेंगे और आप एक सफल कल जरूर देखेंगे।"

उन्होंने आगे लिखा, "मैंने जीवन में जिस चीज को पाने का प्रयास किया, उसमें अनगिनत उतार-चढ़ाव देखे हैं, लेकिन सफलता के स्वाद चखने के बाद मुझे लगा कि सफलता का स्वाद सबसे मीठा है।"

--आईएएनएस

नई दिल्ली: उत्तर प्रदेश में कानपुर के पास शुक्रवार सुबह गैंगस्टर विकास दुबे को मारे जाने को लेकर विभिन्न विपक्षी नेताओं की ओर से कई आरोप और दावे सामने आए हैं। विशेषकर राज्य के विपक्षी नेताओं ने इस मुठभेड़ को बड़ी मछलियों को बचाने की एक कोशिश बताया है। मुठभेड़ पर संदेह की उंगली उठाने वालों में कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा, समाजवादी पार्टी (सपा) सुप्रीमो अखिलेश यादव, बहुजन समाज पार्टी (बसपा) प्रमुख मायावती, कांग्रेस के जितिन प्रसाद और राष्ट्रीय लोकदल (रालोद) के नेता जयंत चौधरी शामिल हैं।

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री और समाजवादी पार्टी के नेता अखिलेश यादव ने कटाक्ष करते हुए कहा, दरअसल ये कार नहीं पलटी है, राज खुलने से सरकार पलटने से बचाई गई है। एक दिन पहले यादव ने दुबे के कॉल डिटेल रिकॉर्ड को सार्वजनिक करने की मांग की थी।

एक वीडियो बयान जारी करते हुए उत्तर प्रदेश के कांग्रेस नेता जितिन प्रसाद ने आरोप लगाया, अगर खून का बदला खून ही है तो न्यायपालिका की क्या जरूरत है? उन्होंने कहा कि कथित एनकाउंटर ने इस बारे में सवाल उठाया, कौन वे लोग हैं, जो चाहते थे कि इस कुख्यात अपराधी का अंत हो जाए और उसी के साथ सारे राज दफन हो जाएं?

इस बीच कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा ने ट्वीट किया, अपराधी का अंत हो गया, अपराध और उसको संरक्षण देने वाले लोगों का क्या?

बसपा सुप्रीमो मायावती, जिन्होंने हाल ही में भारत-चीन के बीच व्याप्त तनाव से निपटने के लिए केंद्र का समर्थन भी किया था, उन्होंने कथित एनकाउंटर की उच्चस्तरीय जांच की मांग की है।

मायावती ने हिंदी में किए एक ट्वीट में कहा, कानपुर पुलिस हत्याकांड की तथा साथ ही इसके मुख्य आरोपी दुर्दान्त विकास दुबे को मध्यप्रदेश से कानपुर लाते समय आज पुलिस की गाड़ी के पलटने व उसके भागने पर यूपी पुलिस द्वारा उसे मार गिराए जाने आदि के समस्त मामलों की माननीय सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में निष्पक्ष जांच होनी चाहिए।

मायावती ने इसके बाद एक अन्य ट्वीट में कहा, यह उच्चस्तरीय जांच इसलिए भी जरूरी है, ताकि कानपुर नरसंहार में शहीद हुए आठ पुलिसकर्मियों के परिवार को सही इंसाफ मिल सके। साथ ही, पुलिस व आपराधिक राजनीतिक तत्वों के गठजोड़ की भी सही शिनाख्त करके उन्हें भी सख्त सजा दिलाई जा सके। ऐसे कदमों से ही यूपी अपराध-मुक्त हो सकता है।

रालोद नेता जयंत चौधरी मुठभेड़ को ड्रामा करार देते हुए सबसे ज्यादा मुखर दिखे। उन्होंने कई ट्वीट्स करते हुए सरकार पर जमकर निशाना साधा।

उन्होंने हिंदी में किए एक ट्वीट में कहा, विकास दुबे के एनकाउंटर के बाद देश के सारे न्यायाधीश को इस्तीफा दे देना चाहिए। भाजपा के ठोक दो राज में अदालत की जरूरत ही नहीं है!

चौधरी ने दूसरे ट्वीट में कहा, आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के असली अपराधियों को बचाने के लिए ये सब ड्रामा रचा गया है!

--आईएएनएस

नई दिल्ली: क्रिकेट जगत ने 'लिटल मास्टर' सुनील गावस्कर को उनके 71वें जन्मदिन पर शुक्रवार को बधाई दी। कई शानदार रिकॉर्ड अपने नाम रखने वाले पूर्व भारतीय बल्लेबाज गावस्कर भारत की विश्व कप विजेता टीम का हिस्सा थे। दिग्गज बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर ने गावस्कर को अपना आदर्श बताते हुए कहा, "मैं 19़87 में पहली बार मेरे आदर्श गावस्कर सर से मिला था। 13 साल की उम्र में मैं अपनी किस्मत पर विश्वास नहीं कर सकता था कि मैं उस व्यक्ति से मिल रहा हूं जिसे मैं देख रहा था और अनुकरण करना चाहता था। वह भी क्या दिन थे। आपको 71वें जन्मदिन की हार्दिक शुभकामनाएं सर। आप स्वस्थ और सुरक्षित रहें।"

भारतीय टेस्ट टीम के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे ने कहा, "सुनील गावस्कर सर को जन्मदिन की बहुत बहुत बधाई। आप को ढेर सारी खुशियां मिलें।"

भारतीय टीम के पूर्व तेज गेंदबाज और 1983 विश्व कप विजेता टीम के सदस्य मदन लाल ने कहा, "दुनिया के सबसे अच्छे सलामी बल्लेबाजों में से एक को जन्मदिन की शुभकामनाएं। सनी भाई आप स्वास्थ्य और खुश रहें। एक शानदार दिन।"

गावस्कर टेस्ट में 10000 रन बनाने वाले पहले बल्लेबाज हैं। वह एक टेस्ट की दोनों पारियों में तीसरी बार शतक बनाने वाले पहले बल्लेबाज हैं। 2005 तक उनके नाम टेस्ट क्रिकेट में सबसे ज्यादा शतक बनाने का रिकॉर्ड था। इसके अलावा वह टेस्ट मैच में 100 कैच लेने वाले पहले भारतीय फिल्डर हैं।

--आईएएनएस

गौतमबुद्धनगर (उप्र): ग्रेटर नोएडा के जिम्स में कोरोना मरीजों के इलाज के लिए प्राइवेट रूम की सुविधा शुरू की गई है। 50 बेड वाले इस वार्ड में भर्ती होने वाले मरीज को रोजाना 3000 रुपये चुकाने होंगे। इस वार्ड के एक कमरे में अगर 2 मरीज रहेंगे, तब रोजाना 2000 रुपये शुल्क देना होगा। इस वार्ड के सभी कमरों में अटैच वाशरूम होगा। हालांकि उपचार और खानपान सामान्य ही रहेगा। अभी तक आईसीयू कमरों का शुल्क तय नहीं किया गया है, लेकिन अनुमान लगाया जा रहा है कि लगभग 6 हजार रुपये रोजाना तय किया जाएगा। जिम्स में ये कमरे चौथे और तीसरे माले पर बनाए गए हैं।

जिम्स के निदेशक डॉ. आर.के. गुप्ता ने बताया, "इन कमरों में एसी की सुविधा भी दी जाएगी। वहीं यहां आने वाले सभी मरीजों को जनरल वार्ड में शिफ्ट किया जाएगा। उनके कहने पर ही निजी वार्ड आवंटित किया जाएगा।"

पिछले कुछ दिनों से यहां भर्ती मरीज निजी वार्ड की मांग कर रहे थे। इसको देखते हुए यह सुविधा शुरू की गई है।

उन्होंने बताया, "जिम्स पिछले 3 महीने में करीब साढ़े 3 करोड़ रुपये से ज्यादा खर्च कर चुका है। लोग अगर पैसा खर्च करेंगे तो हम उस पैसे को आम जनता के ऊपर ही लगाएंगे, ताकि अस्पताल की गुणवत्ता बेहतर हो।"

--आईएएनएस

लॉस एंजेलिस: अभिनेता ऑस्कर इसाक और मिशेल विलियम्स इंगमार बर्गमैन की 'सीन्स फ्रॉम अ मैरिज' पर आधारित एक सीमित सीरीज में अभिनय करने के लिए पूरी तरह तैयार हैं। साल 1973 में बर्गमैन वर्जन का प्रसारण स्वीडिश टेलीविजन पर हुआ था। बर्गमैन ने प्रोजेक्ट का निर्देशन लिव उल्लमान और अर्लैंड जोसेफसन के साथ किया था।

वेरायटी डॉट कॉम की रिपोर्ट के अनुसार, एचबीओ द्वारा शो के नए संस्करण में एक समकालीन अमेरिकी जोड़े के माध्यम से प्यार, घृणा, इच्छा, एकरसता, विवाह और तलाक के चित्रण को फिर से दिखाया जाएगा।

विलियम्स और इसाक इसमें नजर आने के अलावा इसे एक्जीक्यूटिव प्रोड्यूस भी करेंगे। हगाई लेवी इसका लेखन, निर्देशन, और एक्जीक्यूटिव प्रोड्यूस भी करेंगे। माइकल एलेनबर्ग भी प्रोजेक्ट को प्रोड्यूस करेंगे।

एलेनबर्ग सालों से 'सीन्स फ्रॉम अ मैरिज' के अडॉप्शन पर काम कर रहे हैं।

--आईएएनएस

दिल्ली/भोपाल/रीवा: मध्य प्रदेश के रीवा जिले में स्थापित एशिया के सबसे बड़े सौर उर्जा संयंत्र रीवा अल्ट्रा मेगा सोलर परियोजना का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली से वीडियो कॉफ्रेंसिंग के जरिए राष्ट्र को समर्पित करते हुए कहा कि भारत विश्व में 'क्लीन एनर्जी' का मॉडल बनेगा। भारत ने सौर ऊर्जा को बढ़ावा देने के लिये 'अंतर्राष्ट्रीय सोलर एलायंस' का निर्माण किया है। हमारे प्रयास हैं कि आम आदमी अपनी जरूरत की बिजली घर पर ही पैदा करे। इस कार्य में सरकार मदद करेगी।

प्रधानमंत्री मोदी ने दिल्ली से वीडियो कॉफ्रेंसिंग के जरिए शुक्रवार को एशिया की इस सबसे बड़ी सौर उर्जा परियोजना का लोकार्पण किया। लखनऊ से राज्य की प्रभारी राज्यपाल आनंदी बेन पटेल, भोपाल में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, रीवा में क्षेत्रीय जनप्रतिनिधि और दिल्ली में केंद्रीय ऊर्जा मंत्री आर के सिंह, ग्रामीण विकास मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर, धर्मेद्र प्रधान, थावरचंद्र गहलोत, प्रहलाद पटेल मौजूद रहे।

प्रधानमंत्री मोदी ने भावी योजनाओं का जिक्र करते हुए कहा, "हमारा प्रयास है कि देश में बेहतर सोलर पैनल, बैट्री, स्टोरेज बनें तथा हमें विदेशों से उपकरण आयात नहीं करना पड़े। मध्यप्रदेश में सौर ऊर्जा के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य हो रहे है। मध्यप्रदेश सस्ती एवं साफ-सुथरी बिजली का हब बन रहा है। रीवा ने आज वाकई इतिहास रच दिया है। नर्मदा नदी और सफेद बाघ के नाम से जाना जाने वाला रीवा अब विश्व में सेालर प्लांट के नाम से भी जाना जाएगा। यहां खेतों में लगे हजारों पैनल ऐसा एहसास दिलाते हैं, मानो खेतो में फसल लहरा रही हो या गहरे समंदर का नीला पानी हो।"

प्रधानमंत्री मोदी ने राज्य में मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान की सराहना करते हुए कहा "कोरोना के प्रभावी नियंत्रण के साथ ही मध्यप्रदेश ने गेहूं का रिकार्ड उत्पादन किया है। अब मध्यप्रदेश सौर ऊर्जा उत्पादन में भी रिकार्ड बनाएगा। शासन ऐसी योजना बना रहा है, जिसके माध्यम से अब किसान अपनी बंजर एवं अनुपयोगी भूमि पर सोलर पैनल लगाकर बिजली का उत्पादन कर सकेगा। वह स्वयं की आवश्यकता की पूर्ति के साथ ही दूसरों को भी बिजली दे पायेगा। हमारा अन्नदाता किसान अब ऊर्जादाता भी बन सकेगा।"

इस सौर उर्जा संयंत्र से उत्पादित हो रही बिजली के उपयोग का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि रीवा सोलर परियोजना से न केवल मध्यप्रदेश को बिजली प्राप्त हो रही है बल्कि यह हर्ष का विषय है कि परियोजना अपनी 24 प्रतिशत बिजली दिल्ली मेट्रो को प्रदान कर रही है। दिल्ली की मेट्रो रीवा से चलेगी।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, " हमारे देश में सूर्य उपासना का विशेष स्थान है। सूर्य हमें पवित्र तो करता ही है, हमारे लिये अक्षय ऊर्जा का स्त्रोत भी है। सूर्य श्योर, प्योर एवं सिक्योर ऊर्जा देता है। सौर ऊर्जा के क्षेत्र में भारत विश्व के टॉप पांच देशों में पहुंच गया है। भारत ने सिद्ध कर दिया है कि सौर ऊर्जा अर्थव्यवस्था एवं पर्यावरण दोनों की दृष्टि से लाभदायी है। वर्ष 2014 में जहां सौर ऊर्जा की कीमत सात से आठ रुपये प्रति यूनिट हुआ करती थी, आज वह घटकर 2.25 से 2.50 रुपये प्रति यूनिट हो गयी है। रीवा सोलर प्लांट के माध्यम से सस्ती बिजली का उत्पादन बड़ी उपलब्धि है।"

पर्यावरण सुधार के लिए किए जा रहे प्रयासों का जिक्र करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, "साफ सुथरी ऊर्जा के प्रति हम संकल्पित है। हमें पर्यावरण की सुरक्षा तो करना ही है, साथ ही जनजीवन को आसान भी बनाना है। हमने हर घर में एलपीजी, सीएनजी आधारित वाहन व्यवस्था तो की ही है, अब बिजली आधारित परिवहन की व्यवस्था के प्रयास किये जा रहे हैं। देश में गत वर्षो में 36 करोड़ एलईडी बल्ब के माध्यम से लगभग 600 अरब यूनिट बिजली बचाई गई है। हमारा ध्येय है हर व्यक्ति तक सस्ती बिजली पहुंचे तथा वातावरण हवा-पानी भी शुद्ध बना रहे। इसके साथ 24 हजार करोड़ की बिजली हर साल बचाई जा रही है।"

इस दौरान प्रधानमंत्री मोदी ने कोरोना से बचाव के उपयोग का जिक्र करते हुए कहा, "थोड़े से प्रयासों दो गज की दूरी, चेहरे पर मास्क लगाना, हाथ को 20 सेकेंड तक साबुन से धोना, जगह-जगह नहीं थूकना आदि के माध्यम से हम कोरोना जैसी भयानक बीमारी को आसानी से हरा सकते हैं। नियमों का पालन करें तथा अनुशासन में कमी न आने दें।"

मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चैहान ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी तो 'मैन ऑफ आईडियास' हैं तथा उनकी प्रेरणा एवं दूरदृष्टि से ही हर क्षेत्र में मध्यप्रदेश आगे बढ़ रहा है।

मुख्यमंत्री चैहान ने बताया कि रीवा सोलर प्लांट ने कई नये कीर्तिमान स्थापित किए हैं। यह सौर ऊर्जा के क्षेत्र में 'गेम चेंजर' परियोजना है। मात्र 2.97 रुपये प्रति यूनिट की सस्ती बिजली, प्रथम बार राज्य के बाहर व्यावसायिक संस्थान को बिजली प्रदाय करना, विश्व बैंक से बिना गारंटी के न्यूनतम ब्याज दर पर कर्ज प्राप्त करना, दो करोड़ 60 लाख पेड़ों के बराबर कार्बन उत्सर्जन बचाना आदि ऐसे प्रतिमान हैं कि जो इस परियोजना को अनूठी बनाते हैं।

यह परियोजना 1500 हेक्टेयर में है, इसमें 250 मेगावॉट की तीन सौर इकाइयां स्थित हैं। प्रत्येक इकाई 500 हेक्टेयर भूमि पर स्थापित है। सौर पार्क को मध्यप्रदेश ऊर्जा विकास निगम मर्यादित तथा सार्वजनिक क्षेत्र के उपक्रम सोलर एनर्जी कॉपोर्रेशन ऑफ इण्डिया की संयुक्त कम्पनी रीवा अल्ट्रा मेगा सोलर लिमिटेड (आरयूएमएसएल) द्वारा विकसित किया गया है। पार्क को विकसित करने के लिये आरयूएमएसएल को केन्द्र से 138 करोड़ रुपये की वित्तीय सहायता प्रदान की गई है।

--आईएएनएस

नई दिल्ली: बहुजन समाज पार्टी (बसपा) के लोकसभा सांसद कुंवर दानिश अली ने भारतीय इंजीनियरिंग सेवा (आईईएस) के एक 27 वर्षीय अधिकारी के लद्दाख में वाहन दुर्घटना के बाद से लापता होने के मामले में शुक्रवार को रक्षामंत्री राजनाथ सिंह को पत्र लिखकर आग्रह किया कि वह अधिकारी का पता लगाने में मदद करें। लद्दाख में हुई दुर्घटना के बाद 22 जून से ही अधिकारी लापता है।

राजनाथ सिंह को लिखे पत्र में बसपा सांसद ने कहा, सुभान अली 22 जून को मिनमर्ग क्वारंटीन केंद्र के निरीक्षण के लिए गए थे, लेकिन वापस नहीं आए।

उत्तर प्रदेश के अमरोहा से लोकसभा सांसद अली ने कहा कि 27 वर्षीय अधिकारी के परिवार को 23 जून को सूचित किया गया था कि जिस वाहन में वह यात्रा कर रहे थे, वह एक गहरी खाई में गिर गया और द्रास में तेजी से बहती नदी में बह गया।

अली ने कहा कि चार दिन बाद मारुति जिप्सी वाहन को नदी से बाहर निकाल लिया गया था, लेकिन अधिकारी और उनके ड्राइवर पलविंदर सिंह अभी भी लापता हैं।

बसपा नेता ने कहा, सीमा सड़क संगठन और कारगिल प्रशासन अधिकारी को खोजने की कोशिश कर रहे हैं और उन्होंने अपने सीमित संसाधनों के साथ जो प्रयास किए हैं, वह लापता अधिकारी को खोजने में सफल नहीं हो सके हैं।

उन्होंने कहा, मैं आपसे आग्रह करता हूं कि इस मामले में आप व्यक्तिगत रूप से दखल दें और काबिल अधिकारियों और साधनों को सुभान अली को ढूढ़ने में लगाएं। इस अधिकारी का परिवार बहुत परेशान है और हर पल एक भयानक पीड़ा से गुजर रहा है।

--आईएएनएस

ढाका: भारतीय निवेशकों को समर्पित बांग्लादेश का आर्थिक क्षेत्र भारत से तीसरी क्रेडिट लाइन के तहत 11.5 करोड़ डालर का लाभ उठाने के लिए तैयार है। बांग्लादेश आर्थिक क्षेत्र प्राधिकरण (बीईजेडए) के निवेश प्रोत्साहन के संयुक्त सचिव व महाप्रबंधक मोहम्मद मोनिरुज्जमान ने आईएएनएस से इस बात की पुष्टि की है।

गवर्नमेंट-टू-गवर्नमेंट करार पर आधारित यह प्रस्तावित जोन 1,000 एकड़ से अधिक क्षेत्र में बनना है और इसे बनाने की जिम्मेदारी भारत के अडानी पोर्ट्स एंड स्पेशल इकोनॉमिक जोन लिमिटेड को दी गई है। बांग्लादेश के प्रधानमंत्री के कार्यालय (पीएमओ) ने इस साल की शुरुआत में अडानी को एक डेवलपर के रूप में मंजूरी दी थी।

बीईजेडए, प्रधानमंत्री कार्यालय के तहत एक निवेश प्रोत्साहन एजेंसी है। इसने जून 2015 में इस जोन को विकसित करने के लिए भारत सरकार के साथ एक समझौता ज्ञापन पर हस्ताक्षर किए थे।

बांग्लादेश में नए आर्थिक क्षेत्रों ने पहले ही अच्छी संख्या में विदेशी निवेशकों को आकर्षित किया है। मोनिरुज्जमान ने कहा कि मोंगला बंदरगाह पर एक और आर्थिक क्षेत्र के लिए भारतीय निवेश की पुष्टि हो गई है।

भारत सरकार ने हाल ही में 11 जून को अपने निवेशकों के लिए जोन के वित्तपोषण को सिद्धांत रूप में स्वीकृति दी।

मोनिरुज्जमान ने कहा कि अत्याधुनिक सुविधाओं से लैस यह प्रतिष्ठित निवेश परियोजना चटग्राम के मीरसराय के पास बांग्लादेश के प्रमुख औद्योगिक शहर बंगबंधु शेख मुजीब शिल्प नगर के एक हिस्से के रूप में विकसित की जा रही है और राष्ट्रीय आर्थिक परिषद की कार्यकारी समिति द्वारा इसे अनुमोदित किया जा चुका है।

उन्होंने कहा कि फिलहाल बीईजेडए और एक भारतीय जोन डेवलपर के बीच संयुक्त उद्यम समझौते को लेकर अंतिम बातचीत हो रही है।

बीईजेडए के दस्तावेजों के अनुसार, परियोजना के तहत परियोजना प्रबंधन सलाहकारों को नियुक्त करने के लिए कदम उठाया जा रहा है। इससे जुड़े आवश्यक दस्तावेज 23 जून को भारतीय एक्जिम बैंक को भेजे गए हैं।

एक सूत्र ने कहा कि यह प्रस्तावित देश-विशिष्ट क्षेत्र जब शुरू हो जाएगा, तब इससे एक लाख लोगों को रोजगार मिलने और दो अरब डालर से अधिक के निवेश को आकर्षित करने की उम्मीद है।

भारतीय जोन को कनेक्टिविटी की दृष्टि से भी अच्छी लोकेशन का लाभ मिलेगा। यह सनद्वीप चैनल के पास है और बांग्लादेश की आर्थिक जीवन रेखा मानी जाने वाले ढाका-चटग्राम राजमार्ग से एक फोर-लेन सड़क से जुड़ा है।

--आईएएनएस

Page 1 of 15458

Don't Miss