Print this page

महाराष्ट्र में 120 दिनों में कोविड-19 से मौतों का आंकड़ा 1 से बढ़कर 11 हजार के पार
Friday, 17 July 2020 18:04

मुंबई: मुंबई के कस्तूरबा अस्पताल में 17 मार्च को कोविड-19 से एक 64 वर्षीय व्यक्ति की पहली मौत हुई थी। तब से अब तक के 120 दिनों में आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक कोविड-19 से मौतों की संख्या एक से बढ़कर 11,194 तक पहुंच गई है।

इस वैश्विक महामारी का बड़ा केन्द्र 2.25 वर्ग किमी में फैली एशिया की सबसे बड़ी झुग्गी धारावी रही। यहां करीब आठ लाख लोग रहते हैं। इस इलाके ने जिस तरह इस बीमारी से जंग लड़ी, उसने विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) के महानिदेशक ट्रेडोस घेब्रेयेसस को भी तारीफ करने पर मजबूर कर दिया।

बृहन्मुंबई नगर निगम(बीएमसी) की बात करें तो पहली मौत के बाद से अब तक यहां 5,523 मौतें हो चुकी हैं। इस लिहाज से हर दिन देश की वाणिज्यिक राजधानी में औसतन 46 कोविड-19 रोगियों की मौत हुई है।

वहीं इस वायरस के संक्रमण और प्रसार की बात करें तो नौ मार्च को पुणे में सामने आए दो कोविड मामलों से अब यह संख्या बढ़कर 2,84,281 पर पहुंच गई है। यानी यहां पिछले लगभग 130 दिनों में रोजाना औसतन 2,187 नए मामले सामने आए हैं।

वर्तमान में, महाराष्ट्र ने दुनिया में सबसे अधिक प्रभावित देशों की सूची में 11वें स्थान पर आने वाले ईरान (2,67,061 मामले) को भी पछाड़ दिया है।

हालांकि, राज्य में रिकवरी की दर में सुधार हुआ है। यहां 18 जून की रिकवरी दर 50.49 प्रतिशत से बढ़कर 55.63 प्रतिशत पर पहुंच गई है। यहां अब तक 1,58,140 लोग पूरी तरह से ठीक हो चुके हैं।

वहीं 4.77 प्रतिशत की मृत्यु दर अब घटकर 3.94 प्रतिशत हो गई है।

मानसून आने के बाद जुलाई से यहां हालात बिगड़ रहे हैं। आलम यह है कि राज्य में हर दिन 200 से ज्यादा मौतें हो रही हैं और छह हजार से ज्यादा मामले सामने आ रहे हैं।

--आईएएनएस