Advertisement

सेक्स एडिक्शन आम बात नहीं बल्कि है मेंटल डिस्ऑर्डर, WHO ने की पुष्टि

सेक्स एडिक्शन आम बात नहीं बल्कि है मेंटल डिस्ऑर्डर, WHO ने की पुष्टि

1 अक्सर लोगों को सेक्स की लत पड़ जाती है. लेकिन क्‍या आप जानते हैं सेक्स एडिक्शन एक मेंटल डिस्ऑर्डर है. ये हम नहीं कह रहे बल्कि खुद वर्ल्डं हेल्थ ऑर्गनाइजेशन (WHO) ने इस बात की पुष्टि की है. इस महीने की शुरूआत में ही इस बात को घोषित किया गया है की ये ऐ मेंटल डिस्ऑरर्डर है.

2 WHO के मुताबिक, कंपल्सिव सेक्सुअल बिहेवियर को एक डिस्ऑर्डर माना गया है जिसमें व्यक्ति अपनी सेक्सुअल इच्छाओं को नियंत्रि‍त करने में असमर्थ होता है. बेशक इसके चलते वे अपनी हेल्थ को भी नजरअंदाज कर देता है. इतना ही नहीं, इस डिस्ऑर्डर में व्यक्ति को इंटीमेट होने पर कोई खुशी नहीं मिलती.

3 सेक्स एडिक्शन के मरीजों को एडिक्शन के बारे में तकरीबन 6 महीने के बाद पता चलता है. इसकी वजह से वे परेशान रहते हैं. कॉमेडियन रशेल ब्रांड सेक्स एडिक्शन के लिए रिहैब सेंटर जा चुके हैं.

4 आमतौर पर लोगों के मन में सवाल उठता है कि आखिर सेक्स एडिक्शन क्या है. WHO इसे मेंटल डिस्ऑर्डर करार कर चुका है. वहीं बहुत से एक्स‍पर्ट इस बात से सहमत नहीं है कि इस डिस्ऑर्डर को जल्दी डायग्नोज करना आसान है.

5 रिलेशनशिप एक्सपर्ट कहती हैं कि सेक्‍स एडिक्श‍न को आप कह सकते हैं कि ऐसी इंटीमेट एक्टिविटी जिसमें आपको आउट ऑफ कंट्रोल महसूस होता है. इसमें पार्टनर से संबंध, पोर्नोग्राफी, मास्टरबेशन या प्रोस्टिट्यू के पास जाना सभी कुछ शामिल है.

6 कुछ मामलों में लोग अपनी सेक्सुअल इच्छाओं पर कंट्रोल नहीं कर पाते जिससे उनकी लाइफ बहुत प्रभावित होती है.

7 ये रिसर्च के दावे पर हैं. IBN7 न्यूज़ इसकी पुष्टि नहीं करता. आप किसी भी सुझाव पर अमल या इलाज शुरू करने से पहले अपने एक्सपर्ट की सलाह जरूर ले लें.

POPULAR ON IBN7.IN