बालों को काला करने वाले इन घरेलू नुस्खों के चक्कर से बचें
Monday, 11 June 2018 08:30

  • Print
  • Email

सफेद बाल आजकल उम्र की सीमा से बाहर हो गए हैं। अब तो बहुत ही कम उम्र में ही लोगों के बाल सफेद होने लगे हैं। ऐसे बहुत से लोग हैं जो इस समस्या से परेशान हैं। ऐसे लोगों में अधिकांश बाजार में मिलने वाले केमिकल युक्त हेयर डाइ से बचते हैं और घरेलू नुस्खों को तरजीह देते हैं। बालों को काला करने वाले अनेक घरेलू नुस्खे काफी प्रभावी भी हैं लेकिन इन नुस्खों में कुछ ऐसे भी चलन में हैं जो बालों को काला नहीं करते। लोगों को इनके बारे में गलत जानकारी है। ऐसे में इनके इस्तेमाल से लोगों का समय तो बरबाद होता ही है साथ ही बालों को भी काफी नुकसान पहुंचता है। ऐसे नुस्खों से बचने की कोशिश करनी चाहिए। आज हम आपको 4 ऐसे ही नुस्खों के बारे में बताने वाले हैं।

प्याज – बालों के लिए प्याज काफी उपयोगी माना जाता है। इसे बालों की ग्रोथ बढ़ाने में इस्तेमाल किया जाता है। बहुत से लोग इसे सफेद बालों का भी इलाज मानते हैं और बालों को काला करने के लिए इसका इस्तेमाल करते हैं। लेकिन ऐसा है नहीं। प्याज बालों को काला नहीं बनाता। लेकिन यह झड़ते बालों से निजात जरूर दिला सकता है।

दही – दही में एंटी-बैक्टीरियल गुण होता है। यह बालों से डैंड्रफ दूर करती है। लोग इसे बालों को काला करने के लिए भी इस्तेमाल करते हैं। लेकिन यह बालों को किसी तरह काला नहीं बनाती। हां, नेचुरल कंडीशनर के तौर पर इसका इस्तेमाल किया जा सकता है।

लहसुन – लहसुन भी ऐसा ही एक घरेलू नुस्खा है जिसके बारे में कहा जाता है कि यह बालों को काला बनाने में मददगार होती है, जबकि ऐसा नहीं है। लहसुन में सल्फर होता है जो बालों की ग्रोथ बढ़ाने में कारगर है।

करी के पत्ते – करी के पत्ते बाल काले करने के लिए प्रयोग में लाए जाते हैं। लेकिन करी के पत्ते बाल काले नहीं करते। उल्टा यह बालों के लिए नुकसानदेह जरूर हो सकते हैं। बहुत से लोगों को करी के पत्तों से एलर्जी होती है। ऐसे लोग जब इसका इस्तेमाल करते हैं तो उन्हें बालों में खुजली आदि की समस्या होने लगती है।

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss