देश में 82 फीसदी लोग मानते हैं, तकनीक बढ़ाती कार्य क्षमता
Thursday, 28 November 2019 17:51

  • Print
  • Email

बेंगलुरू: स्मार्ट तकनीक कार्यस्थल में काफी बदलाव ला चुकी है, वहीं इसकी मदद से कार्यकौशल में विविधता भी आई है। हाल ही में हुए एक नए शोध में यह खुलासा हुआ है कि 82 प्रतिशत भारतीयों का मानना है कि तकनीक से कार्यक्षमता में सुधार होने के साथ ही कार्यालय के माहौल में भी काफी बदलाव आया है। इसके साथ ही यह बेहतर नौकरी के साथ ही बेहतर अवसर भी उपलब्ध कराता है।

शोध रिपोर्ट गुरुवार को जारी किया गया।

लेनेवो द्वारा आयोजित इस सर्वे में अमेरिका, मैक्सिको, ब्राजील, चीन, भारत, जापान, ब्रिटेन, जर्मनी, फ्रांस और इटली के करीब 15 हजार लोगों को शामिल किया गया था। इस दौरान दुनियाभर के लोगों ने कार्यस्थल पर तकनीक के माध्यम से कार्य क्षमता में सुधार जैसी कई सकारात्मक राय दी।

लेनेवो पीसीएसडी इंडिया के चीफ एक्जीक्यूटिव ऑफिसर और मैनेजिंग डायरेक्टर राहुल अग्रवाल ने कहा, "लेनेवो, नए दौर के कर्मचारियों की मांगों और कार्यस्थल को बेहतर बनाने के लिहाज से उपयुक्त है।"

शोध में यह खुलासा हुआ है कि 73 प्रतिशत भारतीयों का मानना है कि तकनीक उन जैसे कई लोगों को अच्छी नौकरी का अवसर देने और करियर को बेहतर बनाने में मदद करता है।

दुनियाभर में 56 प्रतिशत लोगों का दृढ़ मत है कि तकनीक करियर को अगले स्तर तक ले जाने में मददगार है। इस मत से भारत में 85 प्रतिशत कर्मचारी, मैक्सिको में 74 प्रतिशत कर्मचारी और ब्राजिल में 72 प्रतिशत कर्मचारी सहमत हैं।

--आईएएनएस

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss