नई दिल्ली: देश में स्टेनलेस स्टील बनाने वाली अग्रणी कंपनियों में शुमार जिंदल स्टेनलेस लिमिटेड (जेएसएल) ने कोरोना काल में भी विदेश व्यापार के क्षेत्र में तेजी से रिकवरी की है। कंपनी ने मई महीने में 12,000 टन स्टेनलेस स्टील का निर्यात किया है और जून में 18000 टन से ज्यादा निर्यात होने की उम्मीद है। जेएसएसएल ने गुरूवार को बताया कि कंपनी ने मई महीने में 12,000 टन से ज्यादा का निर्यात किया, जो कि कंपनी के कुल निर्यात के 40 फीसदी हिस्से से भी अधिक है। कंपनी के मुतातिबक, आमतौर पर यह संख्या 18-20 फीसदी रहती है।

कंपनी को चालू महीने जून में कोविड-19 से पहले की तरह 18,000 टन से ज्यादा निर्यात होने की उम्मीद है।

जेएसएल के प्रबंध निदेशक अभ्युदय जिंदल ने एक बयान में कहा, "हम परिस्तिथि के अनुसार खुद को ढाल रहे हैं। यूरोप और रूस के पारंपरिक निर्यात बाजारों पर हमारा विशेष ध्यान है क्योंकि हमारे अधिकतर निर्यात इन्ही देशों में जाते हैं।"

उन्होंने आगे कहा, "इसके अलावा, निर्यात में वृद्धि की ²ष्टि से, हम कोरिया और दक्षिण अमेरिका जैसे अन्य बाजारों का भी आंकलन कर रहे हैं। बाजार की स्थिति के अनुरूप, हम अपने परिचालन में उच्चतम स्तर बरकरार कर रहे हैं और हालात में सुधार आने पर हम घरेलू मांग को पूरा करने के लिए भी तैयार रहेंगे।"

मई के पहले सप्ताह में विनिर्माण इकाई के फिर से खुलने के बाद से जेएसएल ने अपने परिचालन में धीरे-धीरे बढ़ोतरी की है। मई के अंत तक, जेएसएल की डाउनस्ट्रीम इकाइयां अपनी स्थापित क्षमता के लगभग 60 फीसदी स्तर पर परिचालन कर रही थीं। इस दौरान कंपनी की उपयोगिता कुल क्षमता का लगभग 40 फीसदी रही।

कंपनी ने कहा कि निर्बाध परिचालन और वस्तुओं के आवागमन को सुगम बनाने के लिए जेएसएल स्थानीय प्रशासन के साथ मिलकर काम कर रही है।

कंपनी ने कहा कि सरकार द्वारा लॉकडाउन में नियोजित तरीके से ढील देने के साथ सूक्ष्म, लघु और मध्यम उपक्रमों (एमएसएमई) को पुनर्जीवित करने पर ध्यान दिये जाने के मद्देनजर, अगले कुछ महीनों में स्टेनलेस स्टील की घरेलू मांग बढ़ने की उम्मीद है।

-- आईएएनएस

 

 

 

मुंबई: अभिनेता सिद्धांत चतुर्वेदी चाहते हैं कि उनके प्रशंसक अपना हेडफोन और धूप का चश्मा अपने पास रखें, क्योंकि उनका पहला गाना 'धूप' रिलीज हो चुका है। बीते सप्ताह से वह 'धूप' से जुड़ी जानकारियां साझा कर रहे थे। इस गाने को उन्होंने खुद ही लिखा और गाया है।

अब सिद्धांत ने अपने गाने को सोशल मीडिया पर साझा किया है, वहीं इसके कैप्शन में उन्होंने लिखा है, "हैशटैगधूप रिलीज हो चुकी है। अपना हेडफोन और सनग्लासेज पास रखें।"

सिद्धांत द्वारा गाए गए गाने में कविता के साथ एक भावपूर्ण वाइब है।

अभिनेता ने डीएडब्ल्यू गीक के साथ गाने को कंपोज्ड किया था और म्यूजिक वीडियो गाने के बोल और एनिमेशन के साथ बनाया गया है।

'गली बॉय' अभिनेता ने अपने घर में और अपने परिवार की मदद से गाने की शूटिंग की थी।

--आईएएनएस

मुंबई: घरेलू शेयर बाजार में लगातार छह सत्रों की तेजी पर गुरूवार को ब्रेक लग गया, लेकिन निफ्टी 10,000 के मनोवैज्ञानिक स्तर को बनाए रखने में कामयाब रहा। हालांकि सेंसेक्स फिसलकर 34,000 के नीचे बंद हुआ। बैंक, वित्त, कैपिटल गुड्स और रियल्टी सेक्टर में बिकवाली से बाजार में कमजोरी आई। सेंसेक्स पिछले सत्र से 128.84 अंक यानी 0.38 फीसदी फिसलकर 33,980.70 पर बंद हुआ और निफटी भी 32.45 अंकों यानी 0.32 फीसदी की कमजोरी के साथ 10,029.10 पर ठहरा।

बंबई स्टॉक एक्सचेंज (बीएसई) के 30 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक सेंसेक्स पिछले सत्र की क्लोजिंग के मुकाबले 37.04 अंकों की कमजोरी के साथ 34072.50 पर खुला और दिनभर के कारोबार के दौरान 34310.14 तक उछला जबकि सेंसेक्स का निचला स्तर 33,711.24 रहा।

नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) के 50 शेयरों पर आधारित संवेदी सूचकांक निफ्टी ने भी पिछले सत्र के मुकाबले 7.30 अंक फिसलकर 10054.25 पर खुला और 10123.85 तक चढ़ा जबकि इसका निचला स्तर 9944.25 रहा।

बीएसई मिडकैप सूचकांक पिछले सत्र से 7.36 अंकों की गिरावट के साथ 12333.29 पर बंद हुआ। वहीं, बीएसई स्मॉल कैप सूचकांक पिछले सत्र से 5.86 अंक फिसलकर 11564.79 पर ठहरा।

सेंसेक्स के 30 शेयरों में से 15 शेयरों में तेजी जबकि 15 में गिरावट दर्ज की गई। सबसे ज्यादा तेजी वाले पांच शेयरों में टेक महिंदरा (5.34 फीसदी), सनफार्मा (3.98 फीसदी), भारती एयरटेल (3.89 फीसदी), पावारग्रिड (2.89 फीसदी) और एचसीएलटेक (2.79फीसदी) शामिल रहे।

सेंसेक्स के सबसे ज्यादा गिरावट वाले पांच शेयरों में एशियन पेंट (4.85 फीसदी), बजाज फाइनेंस (4.13 फीसदी), एचडीएफसी (3.95 फीसदी), कोटक बैंक (3.88 फीसदी) और इंडसइंड बैंक (3.81 फीसदी) शामिल रहे।

बीएसई 19 सेक्टरों में से 12 में तेजी जबकि सात में गिरावट दर्ज की गई। सबसे ज्यादा तेजी वाले पांच सेक्टरों में टेलीकॉम (3.47 फीसदी), टेक (2.28 फीसदी), आईटी (1.86 फीसदी), एनर्जी (1.81 फीसदी) और हेल्थकेयर (1.65 फीसदी) शामिल रहे।

बीएसई के सबसे ज्यादा गिरावट वाले पांच सेक्टरों के सूचकांकों में बैंक इंडेक्स (2.70 फीसदी) फाइनेंस (2.54 फीसदी), कैपिटल गुडस (1.73 फीसदी), रियल्टी (1.66 फीसदी) और कंज्यूमर डयूरेब्लस (1.26 फीसदी) शामिल रहे।

बीएसई पर कुल 2852 शेयरों में कारोबार हुआ जिनमें से 1406 में तेजी रही, जबकि 1257 में गिरावट दर्ज की गई। वहीं, 189 शेयर बिना किसी बदलाव के बंद हुए।

-- आईएएनएस

 

नई दिल्ली: भारत और आस्ट्रेलिया ने गुरुवार को हिंद-प्रशांत में सामुद्रिक सहयोग के साझा विजन के साथ एक व्यापक संयुक्त घोषणापत्र पर हस्ताक्षर कर समग्र रणनीतिक साझेदारी के क्षेत्र में कदम रखा। यह दूरगामी महत्व का फैसला प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और उनके आस्ट्रेलियाई समकक्ष स्कॉट मॉरिसन के बीच गुरुवार को हुए वर्चुअल शिखर सम्मेलन में लिया गया।

प्रधानमंत्री मोदी ने इसे भारत-आस्ट्रेलिया साझेदारी का एक नया मॉडल बताया जिसके जरिए दोनों देश सहयोग की नई बुलंदियों को छू सकते हैं।

मॉरिसन ने कहा कि दोनों देशों का आपसी विश्वास, साझा मूल्य और समान हित इन्हें और अधिक निकटता के साथ काम करने की एक मजबूत बुनियाद मुहैया कराते हैं।

आस्ट्रेलिया की विदेश मंत्री माराइज पाएने ने कहा गुरुवार को हुआ फैसला आस्ट्रेलिया और भारत के सुरक्षा एवं रक्षा सहयोग को आगे ले जाने के संदर्भ में काफी महत्वपूर्ण है।

दोनों देशों ने साइबर और साइबर संबद्ध क्रिटिकल टेक्नोलॉजी सहयोग के फ्रेमवर्क समझौते पर और खनन तथा स्ट्रेटजिक खनिज पदार्थो के प्रसंस्करण के क्षेत्र में सहयोग के लिए एक समझौता ज्ञापन (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए।

दोनों देशों ने साझा लॉजिस्टिक सहयोग पर करार पर दस्तखत किया। साथ ही रक्षा क्षेत्र में सहयोग के एमओयू पर भी दस्तखत किए जिसमें रक्षा, विज्ञान व प्रौद्योगिकी शामिल हैं।

इनके अलावा, नागरिक प्रशासन व शासन सुधार, व्यावसायिक शिक्षा व प्रशिक्षण तथा जल संसाधन प्रबंधन के क्षेत्र में भी सहयोग के लिए एमओयू पर दस्तखत किए गए।

मुंबई स्थित पॉलिसी इंस्टीट्यूट गेटवे हाउस के फेलो समीर पाटिल ने आईएएनएस से कहा कि यह साइबर कूटनीति आस्ट्रेलिया के साइबर सहयोग कार्यक्रम से अच्छे से मेल खाती है जिसके तहत आस्ट्रेलिया साइबर अपराधों को रोकने और अभियोजन के लिए हिंद-प्रशांत क्षेत्र के देशों की क्षमता निर्माण में मदद देता है।

पाटिल ने यह भी कहा कि दोनों देशों की सेनाओं को विकसित हो रही सैन्य प्रौद्योगिकियों की जरूरत है। इनमें सेंसर, प्रोपुलजन एवं नैनो-मैटेरियल प्रौद्योगिकियां शामिल हैं।

उन्होंने कहा कि दोनों देश सरकारी रक्षा शोध प्रयोगशालाओं और निजी क्षेत्र की दक्षता के अनुभवों को शामिल कर अपने विकास पर मिलकर काम कर सकते हैं। दोनों ही देश अपने घरेलू रक्षा उद्योग को लाभ पहुंचा सकते हैं।

--आईएएनएस

ढाका: बांग्लादेशी सुरक्षा बलों ने 30 से अधिक श्रमिकों को लीबिया भेजने के लिए जिम्मेदार 16 मानव तस्करों को गिरफ्तार किया है। इन श्रमिकों में से अधिकांश पिछले सप्ताह हुए जघन्य हमले में मारे गए थे। डीआईजी (ऑर्गनाइज्ड क्राइम) इम्तियाज अहमद ने गुरुवार दोपहर प्रेस वार्ता में कहा कि गिरफ्तार किए गए तस्करों में से सात को सीआईडी ने पकड़ा है।

उन्होंने ऐसे ट्रैवल एजेंटों की भी पहचान की है, जो मानव तस्करी से जुड़े हैं।

लीबिया के वारलॉर्ड खालिद अल-मिशाई लीबिया के सरकारी बलों द्वारा कथित ड्रोन हमले में मारा गया है। मिजदा शहर में 26 बांग्लादेशियों और चार अफ्रीकी प्रवासियों की हत्या के लिए इसे ही जिम्मेदार माना जाता है।

लीबिया के अंग्रेजी दैनिक लीबिया ऑब्जर्वर ने एक ट्वीट में कहा है कि खालिद अल-मिशाई को मंगलवार को लीबिया की वायुसेना द्वारा ड्रोन हमले में मार दिया गया है।

रैपिड एक्शन बटालियन (आरएबी)-14 के सहायक निदेशक चंदन देवनाथ ने आईएएनएस को बताया कि गिरफ्तार किए गए लोगों में से चार एक बड़े गिरोह हाजी कमाल से जुड़े हुए हैं, जो कोलकाता और मुंबई के माध्यम से मध्य पूर्व और यूरोप में बांग्लादेश के श्रमिकों की तस्करी करते थे।

लीबिया के एक मजदूर ठेकेदार के गुर्गों ने 28 मई को 38 बांग्लादेशी और कुछ अफ्रीकी श्रमिकों पर जानलेवा हमला कर दिया था।

इस हमले में 26 बांग्लादेशी और चार अफ्रीकी प्रवासी कामगारों की मौके पर ही मौत हो गई और दो श्रमिकों ने बाद में एक अस्पताल में दम तोड़ दिया।

श्रमिकों ने यह भी आरोप लगाया कि लीबिया के ठेकेदार उन्हें काफी प्रताड़ित करते थे।

दो पीड़ित मोहम्मद अली और महबूब को तस्कर खबीरुद्दीन और हेलालुद्दीन हिलू ने भेजा था और इन दोनों को आरएबी ने गिरफ्तार कर लिया है। एक अन्य पीड़ित राजन खांडेकर को तस्कर शाहिद मिया द्वारा भेजा गया था, जिसे आरएबी द्वारा पकड़ा जा चुका है।

आरएबी अधिकारी देवनाथ ने कहा कि घायल प्रवासी जानू मिया को तस्करों खबीरुद्दीन और हेलालुद्दीन ने भेजा था।

आरएबी-3 ने मानव तस्करी के सरगना कमाल उद्दीन उर्फ हाजी कमाल (55) को भी गिरफ्तार किया है।

उसे सोमवार तड़के राजधानी के गुलशन इलाके के शहजादपुर से आरएबी-3 की एक टीम ने गिरफ्तार किया था।

आरएबी-3 के वरिष्ठ पुलिस सुपर अब्दुल जब्बार ने कहा कि कमाल ने कथित तौर पर 28 मई को लीबिया में मारे गए 26 बांग्लादेशी नागरिकों में से कई की तस्करी की थी।

आरएबी के अधिकारी जब्बार ने आईएएनएस को बताया, कमाल इमारतों के लिए टाइल्स की आपूर्ति करता था, लेकिन एक बड़े श्रमिक समूह से भी जुड़ा हुआ था। वह मजदूरों को लीबिया और फिर यूरोप भेजने का वादा करता था। इसके बाद वह पैसे लेने के बाद उनकी विदेशों में तस्करी करता था। इसी तरह से उसने लीबिया में कम से कम 400 लोगों को भेजा था।

उसकी गिरफ्तारी के बाद आरएबी ने पिछले लगभग 10 वर्षों में कथित तौर पर मानव तस्करी के लिए इस्तेमाल किए गए कमाल के कई पासपोर्ट जब्त किए।

बांग्लादेश ने 28 मई को त्रिपोली से 180 किलोमीटर दक्षिण में लीबियाई शहर मिजदा में हुए नरसंहार का कड़ा विरोध जताया है।

विदेश मंत्री ए. के. अब्दुल मोमिन ने लीबिया और अंतर्राष्ट्रीय एजेंसियों से मारे गए लोगों के परिवारों के लिए न्याय और मुआवजे की मांग की है।

--आईएएनएस

लंदन: इंग्लिश प्रीमियर लीग (ईपीएल) क्लब साउथम्पटन ने फॉरवर्ड शेन लोंग के साथ अपने करार को दो साल और आगे बढ़ा दिया है, जिस पर लोंग ने सहमति प्रकट की है। क्लब ने गुरुवार को एक बयान में कहा कि आयरलैंड का अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी अब 2021-22 सीजन तक क्लब के साथ बने रहेंगे।

33 वर्षीय लोंग 2014 में साउथम्पटन क्लब से जुड़े थे। उन्होंने हाल में टीम के लिए 200वां मैच खेला था।

साउथम्पटन ने एक बयान में कहा, " मैं क्लब चलाने के तरीके को पसंद करता हूं। आगे आने वाले समय को लेकर मैं उत्साहित हूं। मैं क्लब को लीग को आगे बढ़ाते हुए देख सकता हूं। मैं उसका हिस्सा बनना चाहता हूं। मैं इसे पूरा करने के लिए खुश हूं।"

साउथम्पटन लीग की अंकतालिका में 29 मैचों के बाद 14वें नंबर पर है। कोरोनावायरस के कारण लीग मार्च से ही स्थगित है और अब 17 जून से इसकी शुरुआत होने जा रही है।

- -आईएएनएस

नई दिल्ली/अहमदाबाद: गुजरात की राज्यसभा सीटों के लिए होने जा रहे चुनाव से पहले कांग्रेस पार्टी को एक तगड़ा झटका लगा है। गुजरात कांग्रेस की मुश्किलें बढ़ाते हुए पार्टी के दो विधायकों ने इस्तीफा दे दिया है। उनके अपने पद से त्यागपत्र देने के बाद कांग्रेस के विधायकों की संख्या विधानसभा में और कम हो गई है। पार्टी के लिए अब राज्यसभा की दूसरी सीट जीतना मुश्किल भरा होगा।

जिन दो विधायकों ने इस्तीफा दिया, वे करजन से अक्षय पटेल और कपराडा सीट से जीतू चौधरी हैं।

गुजरात विधानसभा के अध्यक्ष राजेंद्र त्रिवेदी ने कहा, "दोनों कांग्रेस विधायक कल (बुधवार) शाम त्यागपत्र के साथ मेरे पास आए। मैंने उनका सत्यापन किया। उन्होंने मास्क (कोविड-19 संक्रमण के मद्देनजर) लगाए थे। मैंने उन्हें उसे हटाने के लिए कहा और उनके चेहरों की पहचान करने के बाद फिर उनके इस्तीफे स्वीकार कर लिए। वे अब सदन के सदस्य नहीं हैं।"

कांग्रेस ने दो उम्मीदवारों- शक्ति सिंह गोहिल और भरत सिंह सोलंकी को मैदान में उतारा है। गोहिल को पहली वरीयता का वोट मिलेगा और उनका राज्यसभा के लिए निर्वाचित होना निश्चित है, लेकिन भरत सिंह सोलंकी का भविष्य अधर में लटका है। अब केवल प्रबंधन कौशल ही उन्हें निर्वाचित कर सकता है।

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अर्जुन मोडवाडिया ने आईएएनएस से कहा, "भाजपा हमारे विधायकों को लुभाने के लिए पैसे के साथ ही धमकी का इस्तेमाल कर रही है। अक्षय पटेल की खनन में व्यावसायिक हित हैं और इसलिए उन्हें लालच दिया गया है।"

कांग्रेस ने पहले राजीव शुक्ला को नामित किया था लेकिन राज्य इकाई के विरोध के बाद पार्टी ने पूर्व केंद्रीय मंत्री भरत सिंह सोलंकी को मैदान में उतारा है।

पार्टी के एक नेता ने कहा, "कांग्रेस को दोनों सीटों पर जीत के लिए जरूरी 71 वोटों की जरूरत है, लेकिन अब ताजा इस्तीफे के बाद संख्या कम हो गई है, जबकि भाजपा को अपने तीन उम्मीदवारों के लिए 106 वोटों की जरूरत है और वर्तमान में इसकी संख्या विधानसभा में 103 है। भाजपा ने तीसरी सीट जीतने के लिए कांग्रेस को फंसाया है।"

--आईएएनएस

श्रीनगर: दक्षिण कश्मीर के कुलगाम जिले के यारीपोरा में गुरुवार को एक पुलिस दल पर आतंकवादियों ने गोलीबारी की, जिसमें एक नागरिक घायल हो गया। अधिकारियों ने इसकी जानकारी दी। आतंकवादियों की सैंट्रो कार को पुलिस ने चेक पॉइंट पर रुकने को कहा, जिसपर आतंकवादियों ने पुलिस पर गोलियां चलाईं और मौके पर कार छोड़ कर भाग निकले। इस गोलीबारी में एक नागरिक घायल हो गया, जिसे अस्पताल पहुंचाया गया।

सुरक्षा बलों ने इलाके की घेराबंदी कर अतिरिक्त बल तैनात कर दिए हैं और हमलावरों को पकड़ने के लिए तलाशी अभियान शुरू किया है।

--आईएएनएस

 

नई दिल्ली: सुप्रीम कोर्ट ने मुंबई में फंसे उत्तर प्रदेश के प्रवासी मजदूरों को वापस उनके घर भेजने के लिए 25 लाख रुपये की मदद की पेशकश करने वाले मुंबई के वकील को रजिस्ट्री के साथ रकम जमा करने की इजाजत दी है। न्यायाधीश अशोक भूषण, संजय किशन कौल और एम. आर. शाह की पीठ ने गुरुवार को अधिवक्ता सगीर अहमद खान से कहा कि वे एक सप्ताह के अंदर महासचिव के नाम रकम रजिस्ट्री के साथ जमा करें।

सुनवाई के दौरान, खान ने कहा कि प्रवासी श्रमिकों के लिए उनकी चिंता वास्तविक है और वह 25 लाख रुपये जमा करने के लिए तैयार हैं, जिसका उपयोग उत्तर प्रदेश में उनके मूल स्थानों तक पहुंचाने की व्यवस्था करने के लिए किया जा सकता है। उन्होंने कहा कि इस राशि का इस्तेमाल मुंबई से बस्ती और उत्तर प्रदेश के संत कबीर नगर तक ट्रेन के किराए के रूप में किया जा सकता है।

याचिकाकर्ता ने पीएम केयर फंड या राज्य सरकार के राहत कोष में राशि जमा करने को लेकर आशंका व्यक्त की थी और कहा था कि वह पीएम या सीएम फंड में पैसे नहीं डालना चाहते हैं। वो चाहते हैं कि उनके पैसे का सीधे तौर पर इस्तेमाल, उनके गृह जिला के प्रवासी श्रमिक जो मुंबई में फंसे हैं उन्हें जल्दी से जल्दी घर पहुंचाने में किया जाए।

अदालत ने इस मामले को 12 जून को आगे की सुनवाई के लिए सूचीबद्ध किया है।

खान ने एडवोकेट-ऑन-रिकॉर्ड एजाज मकबूल के माध्यम से दलील दी थी। याचिका में कहा गया है कि याचिकाकर्ता खुद संत कबीर नगर से प्रवासी हैं और उन प्रवासियों की दुर्दशा से भली-भांति वाकिफ हैं, जो कोविड-19 महामारी के प्रसार को रोकने के लिए लागू किए गए देशव्यापी बंद के बीच परेशानी झेल रहे हैं। ये रुपये बस्ती और संत कबीर नगर जिलों के प्रवासियों की यात्रा की लागत के तौर पर जमा की जाएगी, जो किसी की जाति, पंथ और धर्म को तय किए बगैर खर्च किए जाएंगे।

खान ने दलील में कहा कि उन्होंने इससे पहले केंद्र और महाराष्ट्र सरकार से संपर्क करके प्रवासियों की मदद करने की कोशिश की, मगर प्रवासियों की दुर्दशा को दूर करने में संबंधित अधिकारियों के असफल रहने के बाद ही उन्होंने शीर्ष अदालत का रुख किया।

याचिकाकर्ता ने दलील दी कि उन्होंने शीर्ष अदालत का रुख किया, क्योंकि मुंबई में प्रवासी श्रमिक, जिनके पास बंद के कारण आजीविका का कोई स्रोत नहीं है, वह मुंबई छोड़ने के लिए विवश हैं।

उल्लेखनीय है कि कोरोना वायरस के प्रसार को रोकने के लिए लागू किए गए राष्ट्रव्यापी बंद के बाद कई लोग प्रवासी मजदूरों की मदद के लिए सामने आए हैं। फिल्म अभिनेता सोनू सूद इन दिनों लोगों के मसीहा बनकर सामने आए हैं। उन्होंने अब तक हजारों मजदूरों और छात्रों को उनके घर पहुंचाने में मदद की है।

--आईएएनएस

लॉस एंजेलिस: शो रिवरडेल में बेट्टी कूपर के किरदार के लिए मशहूर अभिनेत्री लिली रेनहार्ट ने इस बात को स्वीकारा है कि वह एक बाईसेक्सुअल हैं और उन्हें इस पर गर्व है। ब्लैक लाइव्स मैटर मूवमेंट के लिए वेस्ट हॉलीवुड एलजीबीटीक्यू प्लस का प्रचार करते हुए रेनहार्ट ने इंस्टाग्राम स्टोरीज में लिखा, "यद्यपि मैंने सार्वजनिक तौर पर इसकी घोषणा पहले कभी नहीं की है कि मैं एक गर्वित बाईसेक्सुअल महिला हूं और मैं आज इस विरोध में शामिल होउंगी। आप भी शामिल होइए।"

हाल ही में खबरें आई थीं कि 'रिवरडेल' में उनके सह-कलाकार कोल स्प्राउस से वह अलग हो गई हैं, जिसके बाद ही 23 वर्षीय इस अभिनेत्री का यह बयान आया है। कोल ने शो में जुगेड जोन्स की भूमिका निभाई है।

पिछले हफ्ते के रपटों के मुताबिक, इस जोड़े ने अपने तीन साल के रिश्ते का अंत कर दिया और दोनों ने ही आधिकारिक तौर पर इस खबर की पुष्टि की है।

--आईएएनएस

Don't Miss