झारखंड पुलिस 'कम्युनिटी किचन' खोलेगी
Saturday, 28 March 2020 21:12

  • Print
  • Email

रांची: झारखंड में पुलिस लॉकडाउन में गरीबों और बाहर से आए मजदूरों की सुविधा के लिए राज्य के प्रत्येक थाना क्षेत्रों में 'कम्युनिटी किचन' (सामूहिक रसोईघर) खोलेगी। इस बीच राज्य सरकार असहायों के लिए भोजन पॉकेट भी बनवाएगी। झारखंड के पुलिस महानिदेशक एम़ वी़ राव ने सभी जिलों के पुलिस अधीक्षक को प्रत्येक थाना क्षेत्र में 'कम्युनिटी किचन' खोलने के निर्देश दे दिए हैं।

पुलिस महानिदेशक ने सभी जिले के पुलिस अधीक्षकों को निर्देश दिया कि जिन बाहरी आगंतुकों के पास आजीविका के साधन उपलब्ध नहीं हैं, उनके संबंधित थाना क्षेत्रों में प्रवेश के दौरान चिकित्सीय जांच कराएं। इसके बाद भोजन की व्यवस्था थाना अथवा ्रपुलिस पिकेट के स्तर से की जाए।

पुलिस महानिदेशक ने उपायुक्त और खाद्य आपूर्ति विभाग से समन्वय और सहयोग प्राप्त कर कम्युनिटी किचन खोलने का निर्देश जिलों के पुलिस अधीक्षकों को दिया।

राव ने निर्देश देते हुए कहा, "पुलिस अधीक्षक तत्काल यह व्यवस्था करें साथ ही भोजन-आपूर्ति के समय सोशल डिस्टेंस के मानक का पालन भी किया जाए।"

पुलिस महानिदेशक ने सभी पुलिस अधीक्षकों द्वारा एहतियातन कदम उठाने की भी बात कही है।

इधर, कोरोना संक्रमण को देखते हुए राज्य सरकार गरीबों और असहायों के लिए फूड पॉकेट बनवाने का निर्णय लिया है। झारखंड के खाद्य एवं आपूर्ति विभाग के मंत्री रामेश्वर उरांव ने बताया कि आपातकाल के लिए रांची में 5000 और बाकी सभी जिलों में दो-दो हजार पॉकेट तैयार किए जाएंगे। इसमें दो किलो चूड़ा, आधा किलो गुड़ और आधा किलो चना गरीबों के लिए रहेगा।

उरांव ने बताया कि राज्य की राशन कार्ड धारी जनता को अगले दो महीने का राशन दिया जाएगा। वहीं, जिनलोगों ने कार्ड बनवाने के लिए आवेदन किया है उन्हें भी राशन दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि केंद्र सरकार ने एक किलो दाल का प्रावधान किया है, इसे राज्य सरकार उनसे बात कर जनता को उपलब्ध कराएगी।

-- आईएएनएस

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss