कांग्रेस को समूल उखाड़ फेंकने का है चुनाव : अमित शाह

भारतीय जनता पार्टी के अध्यक्ष अमित शाह ने अपने प्रवास के दूसरे और अंतिम दिन सोमवार को कांग्रेस पर जोरदार हमले बोले और कार्यकर्ताओं से कहा कि यह चुनाव सरकार बनाने के लिए नहीं, बल्कि कांग्रेस को मूल सहित उखाड़ फेंकने के लिए लड़ना है। रीवा में रीवा-शहडोल संभाग के कार्यकर्ताओं को संबोधित करते हुए शाह ने कहा, "आपने सरकार बनाने के लिए कई चुनाव लड़े हैं, मगर आने वाला चुनाव सरकार बनाने के लिए नहीं है, यह चुनाव कांग्रेस को मूल सहित उखाड़ फेंकने के लिए है।"

उन्होंने कार्यकर्ताओं को भरोसा दिलाया, "वर्ष 2019 में नरेंद्र मोदी को फिर प्रधानमंत्री बनाओ, मैं आपको गारंटी देता हूं कि अगले 50 वर्ष तक पंचायत से संसद तक भाजपा का भगवा ध्वज ही लहराएगा।"

इससे पहले, शाह ने सतना के बीटीआई ग्राउंड में 'कमल शक्ति संवाद सम्मेलन' में कहा कि महिला कल्याण के लिए जिस प्रतिबद्धता से सरकार काम कर रही है, उसी ध्येय के साथ गरीबों के लिए भी भाजपा सरकारें दिन-रात काम कर रही हैं।

शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश के 50 करोड़ गरीबों के उत्थान के लिए जो प्रयास पिछले साढ़े चार सालों में किया है, उसे कांग्रेस 70 सालों में पूरा नहीं कर सकी। आजादी के 70 सालों तक देश के किसान फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य की मांग करते रहे, लेकिन कांग्रेस सरकारों के बहरे कानों तक किसानों की आवाज नहीं पहुंचती थी। प्रधानमंत्री मोदी ने खरीफ के साथ-साथ रबी फसलों के समर्थन मूल्य को लागत मूल्य का डेढ़गुना करने का ऐतिहासिक निर्णय लिया है, जिसकी कांग्रेस कल्पना भी नहीं कर सकती।

उन्होंने कहा, "गेहूं 1840 रुपये, मसूर 4400 रुपये, सरसों 4200 रुपये, चना 4600 रुपये और जौ की फसल 1440 रुपये में खरीदने का काम नरेंद्र मोदी सरकार ने किया।"

शाह ने कांग्रेस पर सिंधिया राजघराने की 'राजमाता' विजयाराजे सिंधिया को लेकर हमला बोलते हुए कहा कि भाजपा 12 अक्टूबर से विजयाराजे सिंधिया का जन्मशताब्दी वर्ष मना रही है, राजमाता जनसंघ और भाजपा के लिए मध्यप्रदेश के अलावा छत्तीसगढ़, राजस्थान और गुजरात में चप्पे-चप्पे पर घूमी हैं, वे मातृ वात्सल्य का रूप रही हैं। उन पर कांग्रेस ने जुल्म ढाए हैं।

भाजपा प्रमुख ने आपातकाल की याद दिलाते हुए कहा, "राजमाता को इमरजेंसी में परेशान किया गया। कांग्रेस ने उन पर ढेर सारे सितम ढाए, जब इमरजेंसी आई तो उन्हें जेल तक भेजा गया।"

शाह मध्यप्रदेश के दो दिवसीय दौरे पर हैं। उन्होंने रविवार को होशंगाबाद में कार्यकर्ता सम्मेलन को संबोधित किया था, उसके बाद भोपाल में पार्टी नेताओं से एक-एक कर चर्चा की। सोमवार सुबह से वह नेताओं से संवाद करते रहे, उसके बाद सतना के लिए रवाना हुए। 

शाह ने आगे कहा कि केंद्र की मोदी सरकार और राज्य की शिवराज सरकार द्वारा महिलाओं के सशक्तीकरण के लिए अनेक कार्य किए गए हैं। चाहे प्रधानमंत्री उज्‍जवला योजना हो, बच्चों एवं गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण अभियान हो, गर्भवती महिलाओं को पोषण के लिए आíथक सहायता हो, बालिकाओं को नि:शुल्क शिक्षा उपलब्ध कराने की बात हो, हर क्षेत्र में केंद्र की मोदी सरकार एवं राज्य की शिवराज सरकार ने काफी अच्छा काम किया है।

उन्होंने कहा कि देशभर में लगभग साढ़े सात करोड़ से अधिक शौचालयों का निर्माण करके केंद्र की मोदी सरकार ने महिलाओं को सम्मान के साथ जीने का अािकार दिया है। कानून और व्यवस्था की स्थिति सु²ढ़ कर शिवराज सिह चौहान की भाजपा सरकार ने महिलाओं को सुरक्षा प्रदान की है। मोदी सरकार ने दो करोड़ से ज्यादा घरों में बिजली पहुंचाने का काम किया। कामकाजी महिलाओं के लिए मातृत्व अवकाश को 12 सप्ताह से बढ़ाकर 26 सप्ताह का प्रसूति अवकाश कर मोदी सरकार ने देश में सबसे ज्यादा मातृशक्ति का सम्मान किया है।

इस अवसर पर भाजपा प्रदेशाध्यक्ष राकेश सिंह, प्रदेश महामंत्री विष्णुदत्त शर्मा, सांसद गणेश सिह, महापौर ममता पाण्डे, जिला अध्यक्ष नरेंद्र त्रिपाठी, विजया चोपड़ा, सुधा सिह, रश्मि सिह पटेल सहित प्रदेश पदाधिकारी उपस्थित थे।

--आईएएनएस

POPULAR ON IBN7.IN