बीजेपी विधायक को ‘दारूवाली’ कहने वाले नेता को कांग्रेस ने बनाया सचिव

पिछले दिनों विदेश मंत्री सुषमा स्वराज और कांग्रेस प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी को ट्विटर पर ट्रोल किए जाने पर कांग्रेस ने पूरे प्रकरण की कड़ी निंदा की थी। तब मामले में भाजपा की कथित चुप्पी पर कांग्रेस ने आलाकमान पर निशाना था। हालांकि हाल में कांग्रेस के एक फैसले से पार्टी नेता तक हैरान है। दरअसल मध्य प्रदेश के पूर्व विधायक गोविंद सिंह राजपूत को ऑल इंडिया कांग्रेस कमिटी का सचिव बनाया गया है। पार्टी के इस फैसले पर राजपूत नेताओं ने दबी जुबान में कहा कि पिछले साल एक सार्जनिक कार्यक्रम में उन्होंने भाजपा की महिला विधायक को ‘दारूवाली’ तक कह डाला था। तब भाजपा विधायक पारुल साहू ने AICC मुख्यालय के बाहर प्रदर्शन भी किया था। उन्होंने गोविंद सिंह के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की मांग की थी। खबर के मुताबिक साहू के परिवार का तब शराब का कारोबार था। जिस समय यह विवाद पैदा हुआ तब गोविंद सिंह मध्य प्रदेश कांग्रेस के उपाध्यक्ष थे। उन्हें कांग्रेस के दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया का काफी करीबी माना जाता है।

बता दें कि पिछले दिनों एक दंपत्ति ने लखनऊ पासपोर्ट अधिकारी पर अपमानजनक व्यवहार का आरोप लगाया था। दंपत्ति ने आरोप लगाया की पासपोर्ट अधिकारी ने उनपर धार्मिक टिप्पणी की। अधिकारी ने कथित तौर पर कहा कि उन्हें अपना पासपोर्ट रिन्यू कराना है तो अपना धर्म बदल लें। बाद में दोनों ने मामले की शिकायत ट्वीट के जरिए विदेश मंत्री सुषमा स्वराज से की। विदेश मंत्री ने शिकायत पर तुरंत संज्ञान लेते हुए लखनऊ पासपोर्ट अधिकारी तबादला कर दिया और दंपत्ति को उनका पासपोर्ट सौंप दिया गया है 

हालांकि मामला शांत नहीं हुआ बल्कि इसने और तूल पकड़ लिया। सुषमा स्वराज के खिलाफ ट्विटर पर अभद्र टिप्पणी की गई। ट्विटर यूजर्स ने उनपर मुस्लिम तुष्टिकरण का आरोप लगाया। कुछ यूजर्स ने उन्हें ट्विटर पर भद्दी गालियां तक दे डाली। एक ट्वीट में लिखा गया कि जिस धर्म के शख्स की उन्होंने मदद की वो कभी भाजपा को वोट नहीं देगा। एक अन्य मामले में कांग्रेस प्रवक्ता प्रियंका चतुर्वेदी के खिलाफ एक यूजर्स ने अपमानजनक शब्द कहे। उनकी बेटी को बुरी-भला कहा गया।

POPULAR ON IBN7.IN