दोस्‍त के घर भाई को मारा, काट कर सूटकेस में भरा

उत्तर प्रदेश के वृंदावन इलाके से पुलिस ने 20 साल के एक लड़के विशाल त्यागी को गिरफ्तार किया है। NEET (National Eligibility and Entrance Test) पास विशाल एक डॉक्टर का बेटा है। पुलिस ने विशाल को उस वक्त दबोचा जब यह अपने भाई की लाश के टुकड़े कर उसे सूटकेश में भरकर ठिकाने लगाने की कोशिश में था। पुलिस ने इस मामले में विशाल के एक और मित्र पौरस कुमार को भी गिरफ्तार किया है। मृतक लड़के की उम्र 23 साल बतलाई जा रही है और उसका नाम दीपांशु है। विशाल और उसका मित्र दीपांशु के शव को यमुना नदी में फेंकने के चक्कर में थे।

वृंदावन में सुरक्षा व्यवस्था देख रही पुलिस की टीम यहां की सड़कों पर गश्ती लगा रही थी। पुलिस को इन दोनों पर उस वक्त शक हुआ जब ये दोनों हाथ में सुटकेश लिए एक ई-रिक्शा से घूम रहे थे। पुलिस को सूटकेश में खून के निशान लगे होने का शक हुआ। जिसके बाद पुलिस ने ई-रिक्शा को रुकवाया और फिर जांच के दौरान इन्हें धर दबोचा। पुलिस के मुताबिक यह दोनों ग्रेटर नोएडा स्थित एक मकान में किराये पर रहते थे।

विशाल के पिता गाजियाबाद में डॉक्टर हैं। पूछताछ के दौरान इन दोनों ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है। इन दोनों ने पुलिस को बतलाया कि रविवार (10 जून) की रात ग्रेटर नोएडा स्थित फ्लैट पर इन दोनों ने दीपांशु के साथ शराब पी। शराब के नशे में इनका दीपांशु से किसी बात पर झगड़ा हो गया। जिसके बाद इन दोनों ने मिलकर दीपांशु की हत्या कर दी।

इन दोनों ने पुलिस को बतलाया कि दीपांशु ने इनके साथ बुरा बर्ताव किया था। जिसके बाद उनके बीच संघर्ष हुआ और फिर दीपांशु की हत्या करने के बाद इनलोगों ने उसके शव के दो टुकड़े कर दिया ताकि बॉडी सूटकेस में आसानी से आ जाए। पुलिस के मुताबिक यह लोग रेडियो कैब लेकर ग्रेटर नोएडा से वृंदावन पहुंचे।

इसके बाद इन लोगों ने तय किया कि दीपांशु के शव को यह लोग यमुना नदी में ठिकाने लगा देंगे लेकिन इससे पहले कि यह दोनों अपने मकसद में कामयाब होते पुलिस ने इन्हें सूटकेश के साथ धर लिया। विशाल ने इसी साल NEET की परीक्षा पास की है औऱ उसका परिवार गाजियाबाद के सेक्टर – 23 में रहता है। फिलहाल इस मामले में आगे की कार्रवाई की जा रही है।

POPULAR ON IBN7.IN