डाबर ने तेजपुर में सरकारी स्कूल का पुनर्निर्माण शुरू किया

आयुर्वेद कंपनी डाबर इंडिया लिमिटेड ने मंगलवार को तेजपुर स्थित छापागुडी सरकारी कनिष्ठ बुनियादी स्कूल को गोद लेकर इसके आधारभूत ढांचे के पूरी तरह से सुधार का कार्य शुरू किया। कंपनी ने छापागुडी सरकारी स्कूल में सीखने के माहौल में सुधार के इरादे से छात्रों के लिए डेस्क-बेंच और शिक्षकों के लिए टेबल वितरित किया। 

स्कूल में आयोजित समारोह में डाबर ने 12 डेस्क-बेंच और 2 शिक्षक टेबल वितरित किए। इस स्कूल के बुनियादी ढांचे का कायाकल्प भी किया जाएगा जिसमें लड़कों और लड़कियों दोनों के लिए नई स्वच्छता सुविधाओं का निर्माण शामिल है। यह विकास कार्य डाबर की सीएसआर संस्था जीवन्ति वेलफेयर व चैरिटेबल ट्रस्ट द्वारा किया जा रहा है।

इस अवसर पर डाबर इंडिया लिमिटेड के उपाध्यक्ष-एचआर पार्थो गांगुली ने कहा, "डाबर ने स्कूलों में बुनियादी ढांचे में सुधार लाने और ग्रामीण भारत के बच्चों के लिए सीखने के अनुभव में सुधार लाने के लिए कार्य कर रही है। हमारा उद्देश्य क्षेत्र के लिए इस स्कूल को आदर्श विद्यालय के रूप में विकसित करना और सहयोग करना है।" 

डाबर इंडिया लिमिटेड के सीएसआर प्रमुख ए. सुधाकर ने कहा, "स्कूल की इमारत और कक्षाओं को पूरी तरह से नवीनीकृत किया गया है और लर्निग एड (बाला) कार्यक्रम के रूप में स्वास्थ्य, स्वच्छता और शिक्षा से संबंधित संदेशों को स्कूल की दीवारों पर चित्रित किया गया है। डाबर ने ग्रामीण क्षेत्रों की आबादी, विशेषकर महिलाओं और बच्चों की आजीविका में सुधार लाने के उद्देश्य से कई विकास पहल को शुरू करने की योजना बनाई है।"