मोदी से 'मन की बात' में पीएनबी घोटाले पर सुनना चाहता है देश : राहुल

कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने बुधवार को एक बार फिर पंजाब नेशनल बैंक (पीएनबी) में अरबों के घोटाले और राफेल विमान सौदे पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की 'चुप्पी' पर करारा प्रहार करते हुए कहा कि देश 'मन की बात' में इन मुद्दों पर सुनना चाहता है। राहुल ने मोदी की एक तस्वीर के साथ ट्वीट किया। तस्वीर में मोदी अपने मासिक रेडियो कार्यक्रम 'मन की बात' के लिए लोगों से अपने विचार साझा करने की अपील कर रहे हैं। इसके साथ राहुल ने लिखा, "मोदी जी, आपने पिछले महीने अपने एकालाप 'मन की बात' के लिए मेरी सलाह को नजरंदाज कर दिया। लोगों की सलाह क्यों मांग रहे हैं जब आप अपने दिल में जानते हैं कि इस समय भारत का हर नागरिक नीरव मोदी की 22 हजार करोड़ रुपये की महालूट और 58 हजार करोड़ रुपये के राफेल घोटाले पर आपसे सुनना चाहता है।"

राहुल ने कहा, "हम आपके उपदेशों की प्रतीक्षा कर रहे हैं।"

इससे पहले मंगलवार को भी मेघालय में चुनावी रैली संबोधित करते हुए राहुल ने प्रधानमंत्री पर हमला करते हुए कहा था, "मैं, इन (नरेंद्र) मोदी से हम सभी की तरफ से आग्रह करना चाहता हूं कि जब अपनी कई विदेश यात्राओं में से एक पर अगली बार जाएं तो साथ में दूसरे (नीरव) मोदी को वापस लेते आएं।"

कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा, "एक देश के तौर पर हम सभी अपने खून-पसीने की कमाई वापस पाकर बहुत खुश होंगे।"

उन्होंने प्रधानमंत्री और नीरव मोदी की तुलना करते हुए कहा, "नीरव मोदी हीरे बेचता था जो उसके दावे के अनुसार सपनों के बने होते हैं। बेशक, कह सकते हैं कि नीरव ने सरकार और कई लोगों को सपने बेचे। जब वह जनता की गाढ़ी कमाई लेकर जा रहा था तब सरकार आराम से सो रही थी।"

राहुल ने कहा, "कुछ वर्षो पहले एक अन्य मोदी (प्रधानमंत्री) ने भी भारत के लोगों को सपने बेचे थे। उन्होंने अच्छे दिन, सभी बैंक खातों में 15 लाख रुपये, दो करोड़ रोजगार और जाने कितने सपने बेचे थे।"

बैंक घोटाला खुलने से ठीक पहले नीरव मोदी देश छोड़कर भाग गया। उस पर आरोप है कि उसने पीएनबी से धोखाधड़ी कर 11,300 करोड़ से ज्यादा रुपये का घोटाला किया है। इस मुद्दे पर सत्ताधारी भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और कांग्रेस एक दूसरे पर आरोप-प्रत्यारोप लगा रहे हैं।