बजट सत्र के पूर्वार्ध में 68 में से 11 विधेयक पारित
Saturday, 23 March 2013 18:33

  • Print
  • Email

बजट सत्र के पहले हिस्से में सरकार केवल 11 विधेयक ही पारित करा सकी है। पारित विधेयकों में से नौ विनियोग विधेयक हैं। शुक्रवार को संपन्न सत्र के पूर्वार्ध में 68 विधेयक कार्यसूची में शामिल थे। एक अधिकारी ने अपना नाम जाहिर नहीं होने देने की शर्त पर बताया, "बजट सत्र के पहले हिस्से में राष्ट्रपति के अभिभाषण पर धन्यवाद प्रस्ताव और वित्तीय मामले ही पारित हो सके। शेष समय में दो और विधेयक पारित किए गए।"

पूर्वार्ध में सरकार केवल दो विधेयक ही पेश कर सकी। पहला विधेयक कृषि जैवसुरक्षा (संशोधन) विधेयक 2013 और दूसरा राष्ट्रीय प्रौद्योगिकी संस्थान विज्ञान शिक्षा एवं अनुसंधान (संशोधन) विधेयक 2013 है।

बजट सत्र की शुरुआत 21 फरवरी को हुई अब इसका उत्तरार्ध 22 अप्रैल से 10 मई तक चलेगा।

कई मुद्दों पर मचे बवाल के कारण संसद का समय जाया हुआ। जिन मुद्दों ने संसदीय कार्यवाही की बलि ली उनमें केंद्रीय गृहमंत्री सुशील कुमार शिंदे का हैदराबाद विस्फोट से संबंधित विवादास्पद बयान, श्रीलंका पर संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार परिषद में आ रहे प्रस्ताव में प्रभावी संशोधन, डीएमके नेता स्टालिन के आवास पर सीबीआई के छापे, केंद्रीय इस्पात मंत्री बेनी प्रसाद के सपा अध्यक्ष मुलायम सिंह यादव के खिलाफ बयान शामिल हैं।

कांग्रेस सूत्रों ने कहा कि बजट सत्र के दूसरे हिस्से के लिए तीन महत्वपूर्ण विधेयक हैं। ये विधेयक खाद्य सुरक्षा विधेयक, भूमि अधिग्रहण एवं पुनर्वास विधेयक, लोकपाल विधेयक और आर्थिक सुधारों से संबंधित विधेयक हैं।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss