Print this page

संजय को मानवीय अधार पर माफी दी जानी चाहिए : काटजू
Saturday, 23 March 2013 09:17

भारतीय प्रेस परिषद (पीसीआई) के अध्यक्ष और सर्वोच्च न्यायालय के पूर्व न्यायाधीश मरक डेय काटजू ने शुक्रवार को कहा कि अभिनेता संजय दत्त को मानवीय आधार पर माफी दे दी जानी चाहिए। संजय दत्त को मुंबई में 1993 में हुए श्रंखलाबद्ध विस्फोटों के मामले में पांच साल की सजा सुनाई गई है।

पूर्व न्यायाधीश ने टीवी चैनल सीएनएन-आईबीएन से कहा, "मैंने महाराष्ट्र के राज्यपाल को एक अपील भेज कर संजय को माफी देने की अपील की है। मैंने कहा है कि यह अपील मानवीय आधार पर की जा रही है।"

उन्होंने कहा, "मैं सर्वोच्च न्यायालय के आदेश पर सवाल नहीं उठा रहा हूं। सर्वोच्च न्यायालय के अवकाश प्राप्त न्यायाधीश के रूप में नहीं, बल्कि एक आम नागरिक के रूप में मैं यह अपील कर रहा हूं।"

अपने इस कदम के कारणों का खुलासा करते हुए काटजू ने कहा कि संजय कोई आतंकवादी नहीं था और न ही उसे आतंकवादी गतिविधि में संलिप्त पाया गया। उसने बिना लाइसेंस के हथियार रखने का अपराध किया था।

काटजू ने कहा, "संजय दत्त के पिता ने सामाज सेवा की और उसने भी सिनेमा में गांधीवादी दर्शन को बढ़ावा देने के अलावा कुछ अच्छे काम किए हैं। उसके दो छोटे-छोटे बच्चे हैं और वह 20 वर्षो तक कानूनी लड़ाई झेल चुका है।"

काटजू ने कहा कि अभिनेता 18 माह तक जेल में बंद रहा और उसने कई संकटों का सामना किया है।