Print this page

भाजपा आज राज्यपाल से मिलेगी, महाराष्ट्र में जल्द बन सकती है नई सरकार; शिवसेना 50-50 की मांग पर अड़ी
Thursday, 07 November 2019 10:06

मुंबई: महाराष्‍ट्र में किसकी सरकार बनने जा रही है? इस सवाल का जवाब अभी महाराष्‍ट्र के किसी राजनीतिक दल के पास नहीं है। हां, महाराष्‍ट्र विधानसभा चुनाव में सबसे ज्‍यादा सीटें हासिल करने वाली भाजपा ये दावा जरूर कर रही है कि सरकार उसी की बनेगी, लेकिन कैसे? शिवसेना 50-50 के फॉर्मूले की अपनी मांग पर कायम है। इधर, भाजपा ने भी साफ कर दिया है कि वह मुख्‍यमंत्री पद के मुद्दे पर पीछे हटने वाली नहीं है। गुरुवार को महाराष्‍ट्र में सरकार गठन को लेकर कुछ तस्‍वीर साफ हो सकती है। भाजपा गुरुवार को राज्‍यपाल भगत सिंह कोश्‍यारी से मुलाकात करने जा रही है।

एनसीपी का महाराष्‍ट्र में किसी पार्टी के साथ मिलकर सरकार बनाने का कोई विचार फिलहाल नहीं है, पार्टी प्रमुख शरद पवार इस बात को कई बार साफ कर चुके हैं। इस बीच शिवसेना का कहना है कि अगर भाजपा नेता गुरुवार को राज्‍यपाल से मिलकर सरकार बनाने का दावा करने जा रहे हैं, तो उन्‍हें सरकार बनानी चाहिए, क्‍योंकि सबसे ज्‍यादा सीटें उन्‍हीं को मिली हैं। पवार कहते हैं कि राकांपा और कांग्रेस मिलकर भी 100 से आगे नहीं जा रहे हैं, तो हमारी सरकार बनने का तो सवाल ही पैदा नहीं होता। महाराष्ट्र की राजनीति में एक विचार यह भी चल रहा था कि भाजपा को सत्ता से दूर रखने के लिए शरद पवार स्वयं मुख्यमंत्री बन सकते हैं। इससे संबंधित सवाल को पवार ने यह कहते हुए खारिज कर दिया कि वह चार बार राज्य के मुख्यमंत्री रह चुके हैं। अब वह मुख्यमंत्री नहीं बनेंगे।