भारतीय, बांग्लादेश सीमा रक्षकों ने एक दूसरे को ईद की शुभकामनाएं दीं
Monday, 12 August 2019 19:07

  • Print
  • Email

अगरतला/आइजोल: सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) व बॉर्डर गार्डस बांग्लादेश (बीजीबी) ने ईद के मौके पर एक दूसरे को फूल, मिठाइयां व मुबारकबाद दी। बीएसएफ के एक अधिकारी ने सोमवार को यह जानकारी दी।

बीएसएफ अधिकारी के अनुसार, बीएसएफ और बीजीबी के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ जवानों ने शनिवार व रविवार को 4,096 किमी बांग्लादेश की सरहद पर कई जगहों पर एक-दूसरे को शुभकामनाएं दीं। 4,096 किमी लंबी सरहद भारत के पश्चिम बंगाल, त्रिपुरा, असम, मिजोरम व मेघालय से लगती है।

अधिकारी ने कहा, "हम दोनों देशों के सभी महत्वपूर्ण धार्मिक व राष्ट्रीय दिवस के कार्यक्रमों पर मिठाइयां व शुभकामनाओं का आदान-प्रदान करते हैं।"

इस बीच बड़ी संख्या में त्रिपुरा में मस्जिदों व ईदगाह में मुस्लिम विशेष प्रार्थना के लिए एकत्र हुए।

बड़ी संख्या में राजधानी के बाहरी इलाकों शिवनगर, शांतिपारा, गुलचक्कर, अरलिया व राज्य के दूसरे भागों सोनमूरा (पश्चिम त्रिपुरा), उदयपुर (दक्षिण त्रिपुरा), कैलासहर व धर्मनगर (उत्तरी त्रिपुरा) में लोगों ने नमाज अदा की।

एक विशेष पहल के तहत पत्रकार टीपू सुल्तान ने जानवर की कुर्बानी देने के बजाय मुख्यमंत्री राहत कोष में 10,000 रुपये दान किए।

सुल्तान त्रिपुरा के प्रमुख दैनिक 'स्यनदन पत्रिका' के पत्रकार हैं।

टीपू सुल्तान ने रविवार की रात मुख्यमंत्री विप्लब कुमार देब को चेक सौंपते हुए कहा, "बीते साल से कुर्बानी करने के बजाय मेरा परिवार व मैं मुख्यमंत्री राहत कोष में धन दान करते हैं।"

इस भाव की सराहना करते हुए देब ने कहा, "मेरा मानना है कि हर कोई उनके (टीपू सुल्तान) नेक भाव से प्रभावित होगा।"

मुख्यमंत्री व राज्यपाल रमेश बैस ने राज्य के लोगों को ईद पर बधाई दी।

ईसाई बहुल मिजोरम में हजारों मुसलमानों ने बड़ा बाजार, जरकावत के साथ-साथ अन्य मस्जिदों व ईदगाहों में नमाज अदा की।

--आईएएनएस

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss