लोकसभा चुनाव : छठे चरण में 59 सीटों पर 64 फीसदी मतदान
Monday, 13 May 2019 08:07

  • Print
  • Email

नई दिल्ली: लोकसभा चुनाव के छठे चरण में सात राज्यों की 59 सीटों पर रविवार को 63.75 फीसदी मतदान दर्ज किया गया। इसमें सबसे ज्यादा पश्चिम बंगाल में 80.45 फीसदी और सबसे कम उत्तर प्रदेश में 54.74 फीसदी मतदान दर्ज किया गया। पश्चिम बंगाल इस बार भी हिंसक घटनाओं से अछूता नहीं रहा, जहां एक भाजपा कार्यकर्ता की हत्या कर दी गई।

चुनाव आयोग के वोटर टर्नआउट एप के मुताबिक, पश्चिम बंगाल में 80.45 फीसदी, उत्तर प्रदेश में 54.74, बिहार में 59.29, हरियाणा में 69.17, मध्य प्रदेश में 64.94, झारखंड में 64.50 और दिल्ली में 60.35 फीसदी मतदान दर्ज किया गया।

इस चरण में उत्तर प्रदेश की 14, हरियाणा की 10, पश्चिम बंगाल, मध्यप्रदेश और बिहार की आठ-आठ, दिल्ली की सात और झारखंड की चार सीटों पर मतदान हुआ।

इस चरण में 4.75 करोड़ महिलाओं सहित 10.17 करोड़ मतदाता मतदान के पात्र थे और कुल 989 उम्मीदवार चुनावी मैदान में थे। इसके लिए 1.13 लाख मतदान केंद्र बनाए गए थे।

दिल्ली में सात सीटों पर 164 उम्मीदवार चुनावी मैदान में थे। यहां 1.43 करोड़ मतदाता पात्र थे।

उत्तर प्रदेश में कुल 2़ 53 करोड़ मतदाता पात्र थे। यहां 14 महिलाओं सहित 177 प्रत्याशियों के राजनीतिक भाग्य का फैसला अब ईवीएम में बंद हो गया। इसके लिए कुल 16998 मतदान केंद्र और 29076 मतदान बूथ बनाए गए थे। भाजपा ने यहां से 14, कांग्रेस ने 11, सपा-बसपा-रालोद गठबंधन के तहत बसपा ने 11 और सपा ने तीन सीटों पर उम्मीदवार उतारे थे। भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) के तीन उम्मीदवार चुनाव मैदान में थे।

उत्तर प्रदेश में पूर्वाचल की 14 सीटों पर मतदान हुआ, जिसमें सुलतानपुर, प्रतापगढ़, फूलपुर, इलाहाबाद, अंबेडकरनगर, श्रावस्ती, डुमरियागंज, बस्ती, संत कबीर नगर, लालगंज, आजमगढ़, जौनपुर, मछलीशहर और भदोही शामिल थे। इनमें से आजमगढ़, सुलतानपुर, फूलपुर और प्रयागराज पर देश की नजरें थीं।

बिहार में आठ लोकसभा सीटों पर मतदान हुआ, जिसमें वाल्मीकिनगर, गोपालगंज, सीवान, पूर्वी चंपारण, पश्चिमी चंपारण, शिवहर, महाराजगंज और वैशाली शामिल रहे। इस चरण में यहां 16 महिलाओं सहित 127 उम्मीदवार मैदान में थे।

इस तरह 543 सदस्यीय लोकसभा की 484 सीटों के लिए रविवार को मतदान संपन्न हो जाएगा। बाकी बची 59 सीटों के लिए अंतिम चरण में 19 मई को मतदान होगा। मतगणना 23 मई को होगी।

लोकसभा चुनाव के छठे चरण में रविवार को मतदान करने वाले प्रमुख लोगों में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, संयुक्त प्रगतिशील गठबंधन (सप्रंग) की अध्यक्ष सोनिया गांधी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी शामिल रहे।

कोविंद ने राष्ट्रपति भवन में एक मतदान केंद्र पर पत्नी के साथ वोट डालने के बाद स्याही लगी उंगली दिखाई।

पश्चिम बंगाल में इस बार भी हिंसक घटनाएं हुईं। झारग्राम में एक भाजपा कार्यकर्ता की हत्या कर दी गई, जबकि पश्चिम मिदनापुर के केशपुर जिले में तृणमूल कांग्रेस के कई समर्थक गोली लगने से घायल हो गए।

उत्तर प्रदेश में, जहां भाजपा और सपा-बसपा गठबंधन के बीच कड़ा मुकाबला है, वहीं कांग्रेस तीसरा फैक्टर बन गई है। जौनपुर और सुलतानपुर, दोनों जगह सड़क पर झड़पों की सूचना मिली। सुलतानपुर से केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी भाजपा की उम्मीदवार थीं।

इस चरण की 45 सीटों पर पिछले चुनाव में भाजपा ने जीत दर्ज की थी, जिनमें बिहार में सात, हरियाणा में आठ, झारखंड में चार, मध्य प्रदेश में सात, उत्तर प्रदेश में 12 और दिल्ली में सभी सात सीटें शामिल हैं।

राहुल गांधी वोट डालने मतदान केंद्र तक पैदल गए और उन्होंने जोर देकर कहा कि उनकी पार्टी इस चुनावी लड़ाई को भारी बहुमत से जीत रही है।

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (आप) के नेता अरविंद केजरीवाल ने मतदाताओं से 'नफरत' को अस्वीकार करने का आग्रह करने के बाद अपनी पत्नी के साथ मतदान किया। सोनिया गांधी और कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी ने भी राष्ट्रीय राजधानी में मतदान किया।

979 उम्मीदवारों के बीच प्रमुख चेहरों में तीन बार दिल्ली की मुख्यमंत्री रह चुकीं शीला दीक्षित उत्तर पूर्वी दिल्ली से भाजपा की दिल्ली इकाई के प्रमुख मनोज तिवारी के खिलाफ खड़ी थीं। समाजवादी पार्टी (सपा) के अध्यक्ष अखिलेश यादव उत्तर प्रदेश के आजमगढ़ से चुनाव लड़ रहे। भोपाल लोकसभा सीट से मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह भाजपा की साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर के खिलाफ खड़े हैं। पूर्वी दिल्ली में पूर्व क्रिकेटर गौतम गंभीर भाजपा की ओर से आप की आतिशी के खिलाफ चुनावी मैदान में हैं। जबकि ओलंपिक पदक विजेता बॉक्सर विजेंद्र सिंह दक्षिण दिल्ली में आप के राघव चड्ढा और मौजूदा भाजपा सांसद रमेश बिधूड़ी से मुकाबला कर रहे हैं।

उत्तर प्रदेश के सुलतानपुर से केंद्रीय मंत्री मेनका गांधी, बिहार के पूर्वी चंपारण से राधामोहन सिंह, दिल्ली के चांदनी चौक से हर्षवर्धन, गुरुग्राम से राव इंद्रजीत सिंह, मध्य प्रदेश के गुना से कांग्रेस महासिचव ज्योतिरादित्य सिंधिया, सोनीपत से हरियाणा के पूर्व मुख्यमंत्री भूपिंदर सिंह हुड्डा चुनाव लड़ रहे हैं। पश्चिम बंगाल के घाटल में बंगाली अभिनेता दीपक अधिकारी 'देव' (तृणमूल कांग्रेस) पूर्व आईपीएस अधिकारी व भाजपा उम्मीदवार भारती सिंह के खिलाफ चुनाव लड़ रहे हैं।

सात चरणों में निर्धारित लोकसभा चुनाव 11 अप्रैल को शुरू हुआ था और 19 मई को समाप्त होगा। मतगणना 23 मई को होगी।

--आईएएनएस

 

 

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.