Print this page

अमेरिका ने किया शीर्ष भारतीय अंतरिक्ष वैज्ञानिक को सम्मानित
Thursday, 28 March 2013 19:50

अमेरिका के 'सोसाइटी ऑफ सैटेलाइट प्रोफेशनल्स इंटरनेशनल' ने अमेरिकी शहर वाशिंगटन के सैटेलाइट हॉल ऑफ फेम में शीर्ष भारतीय अंतरिक्ष वैज्ञानिक यू. आर. राव को शामिल किया। भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) ने गुरुवार को एक वक्तव्य में कहा, "सैटेलाइट हॉल ऑफ फेम में शामिल किए गए यू. आर. राव पहले भारतीय अंतरिक्ष वैज्ञानिक हैं। 50 सदस्यों वाली इस सूची में राव का नाम आर्थर सी. क्लार्क, वैन एलेन, हैरॉल्ड रोसेन, पीटर जैक्सन तथा रॉबर्ट र्बेी के साथ जुड़ गया।"

गुजरात के अहमदाबाद स्थित भौतिक अनुसंधानशाला के अध्यक्ष राव 1960 से ही भारतीय अंतरिक्ष प्रौद्योगिकी के विकास में अपना योगदान देते आ रहे हैं। राव ने अंतरिक्ष विज्ञान के कम्युनिकेशन के क्षेत्र में अनुप्रयोगों एवं रिमोट सेंसिंग द्वारा प्राकृतिक संसाधनों का पता लगाने में महत्वपूर्ण योगदान दिया है।

राव, इसरो के अध्यक्ष भी रह चुके हैं। राव ने भारतीय रॉकेट प्रौद्योगिकी के विकास में भी महत्वपूर्ण कार्य किया है, जिसके परिणामस्वरूप भारत 1992 में एएसएलवी तथा पीएसएलवी रॉकेटों का निर्माण कर सका।

राव ने भारत में सूचना प्रसारण, शिक्षा, मौसम विज्ञान, रिमोट सेंसिंग तथा आपदा चेतावनी कार्यक्रमों में अंतरिक्ष विज्ञान के उपयोग को बढ़ावा दिया।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।