Print this page

बर्फ की चादर में लिपटा शिमला
Monday, 06 January 2020 11:43

शिमला: हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला और इसके आसपास के पर्यटन स्थलों पर सोमवार को बर्फबारी हुई, जिससे रिसॉर्ट और इसके आसपास के इलाकों का नजारा बेहद खूबसूरत हो गया है। अधिकारियों ने कहा कि शिमला जिले में ऊंचे इलाकों वाले कस्बों में सड़कों के बर्फ से ढके होने के कारण यातायात आंशिक रूप से प्रभावित हुआ।

बर्फबारी होने की खबर फैलते ही पर्यटक शिमला और इसके आसपास के स्थानों जैसे कुफरी, मशोबरा और नारकंडा में पहुंचने लगे।

हालांकि, स्थानीय मौसम विभाग ने अपने पूर्वानुमान में मंगलवार तक बड़े पैमाने पर बर्फबारी होने की बात कही की है, जिससे राज्य के अंदरूनी हिस्सों में सड़क मार्ग बंद होने की संभावना है।

मौसम विभाग के एक अधिकारी ने आईएएनएस को बताया कि मंगलवार तक कुल्लू, चंबा, लाहौल-स्पीति, शिमला, कांगड़ा और किन्नौर जिलों में अलग-अलग स्थानों पर भारी बारिश या बर्फबारी होने की संभावना है।

उन्होंने कहा कि अपेक्षित भारी वर्षा या बर्फबारी के कारण, कुछ स्थानों, विशेषकर चंबा, कुल्लू, लाहौल-स्पीति, शिमला और किन्नौर जिलों में यातायात बाधित हो सकता है। भूस्खलन की भी आशंका है।

शिमला में न्यूनतम तापमान 0.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया।

शिमला के कुछ इलाकों जैसे माल रोड, रिज, यूएस क्लब और जाखू हिल्स में बर्फबारी देखी जा सकती है।

चंबा जिले के भरमौर में 5 सेंटीमीटर की बर्फबारी हुई।

लाहौल-स्पीति का जिला मुख्यालय केलांग शून्य से 9 डिग्री सेल्सियस नीचे तापमान के साथ राज्य में सबसे ठंडा जगह रहा।

किन्नौर जिले के कल्पा में न्यूनतम तापमान शून्य से 2.2 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज हुआ, जबकि मनाली में शून्य से 0.4 डिग्री सेल्सियस नीचे दर्ज हुआ। वहीं, धर्मशाला में 3.8 डिग्री सेल्सियस और कुफरी में शून्य से 3.2 डिग्री सेल्सियस नीचे तापमान दर्ज किया गया।

--आईएएनएस