गुरुग्राम के 10 सबसे ज्यादा प्रदूषित स्थानों पर लगेंगे एयर प्यूरिफायर
Wednesday, 11 November 2020 19:12

  • Print
  • Email

गुरुग्राम: हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने गुरुग्राम में प्रदूषण के बढ़ते स्तर की जांच करने और लोगों को कुछ राहत प्रदान करने के लिए बुधवार को 65 विंड ऑग्मेंटेशन एयर प्यूरिफिकेशन यूनिट्स (वेयू) का उद्घाटन किया। आबोहवा को साफ एवं स्वच्छ करने वाले इन 65 एयर प्यूरिफायर को ऐसे 10 स्थानों पर स्थापित किया जाएगा, जहां एक्यूआई (वायु गुणवत्ता सूचकांक) सबसे अधिक होगा। यह पहल गुरुग्राम में 'प्रोजेक्ट एयर केयर' का हिस्सा है।

प्रोजेक्ट एयर केयर, गुरुग्राम मेट्रोपॉलिटन डेवलपमेंट अथॉरिटी (जीएमडीए) एवं ग्लैक्सोस्मिथक्लाइन (जीएसके) कंज्यूमर हेल्थकेयर के बीच एक सार्वजनिक-निजी साझेदारी (पब्लिक प्राइवेट पार्टनरशिप) के तहत शुरू किया जाएगा। इसके तहत 65 अत्याधुनिक वेयू एयर प्यूरिफायर यूनिट गुरुग्राम में सबसे प्रदूषित वाले स्थानों पर लगाई जाएंगी।

जीएमडीए के एक अधिकारी ने कहा, "कई क्षेत्रों के फिर से खुलने, वाहनों की आवाजाही में वृद्धि होने और पराली जलाए जाने के कारण राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र (एनसीआर) की हवा की गुणवत्ता प्रभावित हुई है और यह गंभीर कैटेगरी तक पहुंच गई है। यही वजह है कि हमने शहर के प्रमुख स्थानों पर 65 एयर प्यूरिफायर स्थापित करने का फैसला किया है।"

आयोजन के दौरान खट्टर ने कहा, "हरियाणा, विशेष रूप से गुरुग्राम में वायु प्रदूषण का बढ़ता स्तर हम सभी के लिए एक गंभीर चिंता का विषय है। जैसे-जैसे हम त्योहारी सीजन की ओर बढ़ रहे हैं, हम प्रमुख स्थानों पर वेयू एयर प्यूरिफायर स्थापित करके नागरिकों को कुछ राहत दिलाना चाहते हैं। यह पहल एक स्वच्छ और हरे-भरे (क्लीन एंड ग्रीन) शहर का निर्माण करने में मदद करेगी।"

पहला एयर प्यूरिफायर पहले ही सेक्टर-44 में जीएमडीए कार्यालय के पास स्थापित हो चुका है।

इसके अलावा इफको चौक, सिकंदरपुर मेट्रो स्टेशन, राजीव चौक, साइबर सिटी, हुडा सिटी सेंटर, जेनपैक्ट चौक जैसे स्थानों पर एयर प्यूरिफायर लगाए जा रहे हैं।

मुख्यमंत्री खट्टर ने लोगों से भी अपील की कि हम सभी को वायु प्रदूषण पर अंकुश लगाने के लिए आगे आना चाहिए।

उन्होंने कहा, "प्रदूषण के स्तर पर अंकुश लगाना हर किसी की जिम्मेदारी है और हमें बदलाव लाने के लिए एक साथ आने की आवश्यकता है। सरकार और उद्योग निकाय विभिन्न कानूनों को लागू कर रहे हैं। मैं नागरिकों से आग्रह करता हूं कि वे अपने रोजमर्रा के जीवन में छोटे बदलाव करके योगदान करें।"

इसके लिए खट्टर ने कारपूलिंग (एक ही कार में कई व्यक्तियों द्वारा सफर) को प्रोत्साहित करने के साथ ही साइकिल के उपयोग की भी सलाह दी।

जीएसके कंज्यूमर हेल्थकेयर, भारतीय उपमहाद्वीप के एरिया मैनेजिंग डायरेक्टर नवनीत सलूजा ने कहा, "हम अपने सीएसआर प्रोजेक्ट के तहत गुरुग्राम के विभिन्न स्थानों और ट्रैफिक जंक्शनों पर एयर प्यूरिफायर लगाने की योजना बना रहे हैं।"

--आईएएनएस

एकेके/एएनएम

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss