गुरुग्राम में 300 करोड़ रुपये की लागत से बनेगा बिजनेस स्कूल
Friday, 10 April 2020 16:00

  • Print
  • Email

नई दिल्ली: प्रमुख व्यावसायिक दिग्गजों, शीर्ष शिक्षाविदों और वरिष्ठ नौकरशाहों के एक समूह ने गुरुवार को घोषणा की कि वे मास्टर्स यूनियन स्कूल ऑफ बिजनेस के निर्माण के लिए 300 करोड़ रुपये का निवेश करेंगे।

गुरुग्राम में बनने वाला यह नए युग का संस्थान तकनीक पर केंद्रित होगा, जो डिजिटल अर्थव्यवस्था के लिए व्यावसायिक पेशेवरों की अगली पीढ़ी तैयार करने का काम करेगा।

मास्टर्स यूनियन स्कूल ऑफ बिजनेस का कैंपस साइबरसिटी गुरुग्राम में स्थित होगा और स्पेशल इकोनॉमिक जोन (एसईजेड) में स्थित 600 से अधिक बहुराष्ट्रीय निगमों से जुड़ाव के साथ अपनी गहरी औद्योगिक पकड़ बनाने के लिए अपनी स्थानीयता का लाभ उठाएगा।

यह संस्थान अरुण मायरा (पूर्व चेयरमैन, बोस्टन कंसल्टिंग ग्रुप), मुकुंद राजन (पूर्व एमडी, टाटा टेलीसर्विसेज लिमिटेड), कार्तिक रमन्ना (निदेशक, ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय), नरेंद्र जाधव (राज्यसभा सदस्य और पूर्व मुख्य अर्थशास्त्री, आरबीआई), तथागत दासगुप्ता (चीफ डेटा साइंटिस्ट, वायकॉम) और भास्कर चक्रवर्ती (पूर्व प्रोफेसर, हार्वर्ड बिजनेस स्कूल और मैकिन्से एंड कंपनी के पूर्व पार्टनर) जैसे पूर्व-प्रख्यात विचारकों और उद्योग के दिग्गजों की सामूहिक ²ष्टि का परिणाम है।

मास्टर्स यूनियन स्कूल ऑफ बिजनेस के एक संस्थापक मास्टर रमन्ना ने एक बयान में कहा, "मैं जिस बात को लेकर सबसे अधिक उत्साहित हूं, वह यह कि पाठ्यक्रम को बिजनेस लीडर, सरकार में नेताओं के साथ-साथ थर्ड सेक्टर के लीडरों के इनपुट के साथ मिलकर विकसित किया जाएगा।"

उन्होंने आगे कहा, "यह पाठ्यक्रम यह सुनिश्चित करेगा कि विद्यार्थियों को उद्योग से जुड़ी हुई और उसकी आवश्यकता को पूरा करने के अनुरूप चीजें सीखने की आवश्यकता है।"

--आईएएनएस

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss