कोविड19 : हरियाणा में 17 मामले, अकेले गुड़गांव में 10 कोरोना पॉजिटिव
Wednesday, 25 March 2020 16:55

  • Print
  • Email

नई दिल्ली: हरियाणा में कोरोना वायरस से ग्रस्त रोगियों की संख्या बढ़कर 17 हो चुकी है। इनमें से कोरोना वायरस से ग्रस्त 10 रोगी गुरुग्राम इलाके से हैं। कोरोना वायरस के फरीदाबाद में 2, पानीपत में 2, पलवल, पंचकूला और सोनीपत में 1-1 रोगी का पता चला है। स्वास्थ्य विभाग ने सावधानी बरतते हुए कोरोनावायरस के टेस्ट में पॉजिटिव पाए गए इन लोगों के परिजनों को पृथक रखा है। वहीं ऐसे लोगों की भी जांच की जा रही और उन्हें बाकी समाज से पृथक रखा जा रहा है, कोरोना के ये रोगी पिछले दिनों जिनके संपर्क में आए हैं।

हरियाणा में विदेश से आए यात्रियों एवं उनके संपर्क में आए लोगों समेत 9097 लोगों को सर्विलांस पर रखा गया है। बड़ी संख्या में लोगों को घरों में अन्य लोगों से अलग-थलग रहने की सलाह दी गई है। अभी तक कुल 461 लोगों के नमूने जांच के लिए भेजे गए हैं। जांच के लिए भेजे गए सैंपल में से 336 सैंपल नेगेटिव पाए गए हैं। 17 व्यक्ति कोरोना से ग्रस्त पाए गए हैं। वहीं 108 व्यक्तियों की जांच रिपोर्ट आना अभी बाकी है।

हरियाणा में सबसे अधिक सतर्कता गुड़गांव में बरती जा रही है जहां अभी तक कोरोनावायरस के 10 रोगी सामने आ चुके हैं। यहां लॉक डाउन लागू किए जाने से पहले ही सभी जिम, स्वीमिंग पूल, नाईट क्लब आदि बंद करवाए जा चुके थे। इसके अलावा राज्य सरकार गुड़गांव में एक साथ 5 से अधिक लोगों के एकत्र होने पर भी रोक लगा चुकी है।

हरियाणा सरकार के एक अधिकारी ने कहा, "सरकार द्वारा कोरोनावायरस की रोकथाम के लिए जारी किए गए इन निर्देशों का पालन अब वरिष्ठ आईएएस अधिकारी करवा रहे हैं। हरियाणा सरकार ने खासतौर पर गुरुग्राम समेत सभी जिलों में कोरोना वायरस की रोकथाम के लिए वरिष्ठ अधिकारियों को विशेष ड्यूटी देकर तैनात किया है।"

प्रदेश में पहले आगामी 31 मार्च तक लॉक डाउन की घोषणा की गई थी। हालांकि अब 14 अप्रैल तक सिनेमा हॉल, स्कूल, जिम, स्विमिंग पूल, नाइट क्लब बंद रहेंगे। इसके अलावा सामाजिक, राजनीतिक, सांस्कृतिक, शैक्षणिक, खेल प्रतियोगिताएं स्थगित कर दी गई हैं। यहां पूरे राज्य में धारा 144 लागू है। जिसके अंतर्गत किसी भी सार्वजनिक स्थान पर 5 से अधिक लोग एकत्र नहीं हो सकते। यदि इससे अधिक लोग किसी सार्वजनिक स्थान पर एकत्र होते हैं तो उनके खिलाफ पुलिस कार्रवाई की जा सकती है।

गुड़गांव में एक 42 वर्षीय व्यक्ति 7 मार्च को लंदन से लौटा था। 9 मार्च की सुबह इस व्यक्ति को दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया। जहां अब इसके कोरोना वायरस से ग्रस्त होने की पुष्टि हुई है। हरियाणा सरकार के मुताबिक लंदन से लौटे इस व्यक्ति के संपर्क में आठ अन्य व्यक्ति भी आए थे। इन सभी व्यक्तियों को आइसोलेशन में रखा गया है और जांच के लिए सभी के सैंपल प्रयोगशाला में भेज दिए गए हैं।

राज्य के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने लोगों से हाथ ना मिलाने की अपील करते हुए कहा, "हाथ जोड़कर अभिवादन करो। हाथ मत मिलाओ, कोरोना जैसी बीमारियां घर मत लाओ। अपने आप को व परिवार को बचाओ ।"

राज्य सरकार ने सभी सरकारी तथा प्राईवेट अस्पतालों से कहा है कि वे क्वारनटाईन तथा आइसोलेशन वार्ड पर फोकस करें। सरकारी अस्पताल में दो एंबुलेंस सिर्फ कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों के लिए आरक्षित रखें। यहां फेस मास्क तथा हैंड सैनिटाइजर को आवश्यक वस्तु अधिनियम में रखा गया है। कोरोना से बचाव के लिए फैक्ट्रियों तथा संस्थानों व आरडब्ल्यूए आदि को ट्रेनिंग दी जाएगी।

--आईएएनएस

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss