ट्वीट पर बवाल के बाद हरियाणा का कांग्रेस नेता देर रात गिरफ्तार, कांग्रेस की मुश्किल बढ़ी
Thursday, 21 May 2020 08:26

  • Print
  • Email

करनाल: कांग्रेस अक्‍सर अपने नेताओं के विवादित बोलों से परेशानी में पड़ती रही है। इस बार हरियाणा के एक नेता ने काग्रेस के लिए मुसीबत में डाल दिया है। कांग्रेस के पूर्व प्रदेश सचिव और करनाल के पार्टी के नेता पंकज पूनिया के विवादित व अशोभनीय ट्वीट से सियासी उबाल आ गया है। इसके बाद देर रात पूनिया को करनाल पुलिस ने एफआइआर दर्ज कर गिरफ्तार कर लिया।

थाना मधुबन पुलिस ने विवादित ट्वीट करने के आरोपित कांग्रेस नेता पंकज पूनिया को गिरफ्तार किया। पूनिया के खिलाफ आइटी एक्ट सहित विभिन्न धाराओं में यह कार्रवाई की गई है। विवादित ट्वीट के चलते हरियाणा से लेकर देशभर में चर्चा का विषय बने इस मामले में विवेक लांबा द्वारा पंकज पूनिया के खिलाफ शिकायत दर्ज कराई गई थी। इसमें आरोप लगाया गया कि पंकज पूनिया ने अपने ट्विटर अकाउंट पर धार्मिक भावनाओं और उनके विश्वास को जानबूझ कर दुर्भावना पूर्ण रूप से अपमानित किया है।

 

इस संबंध में थाना मधुबन में देर रात पंकज पूनिया के खिलाफ भादंसं की धारा 153-ए, 295-ए, 505 (2) और आइटी एक्ट की धारा 67 में मुकदमा दर्ज किया और उन्‍हें गिरफ्तार कर लिया। करनाल के एसपी एसएस भौरिया ने इसकी पुष्टि करते हुए बताया कि पूनिया को बृहस्पतिवार को अदालत में पेश किया जाएगा।

इससे पहले पूनिया के विवादित ट्वीट पर आरएसएस व विहिप कार्यकर्ता भड़क गए और सोशल मीडिया पर लोग अब भी अपना गुस्‍सा जाहिर कर रहे हैं। इसके साथ ही मामला पुलिस में पहुंच गया। मामला बिगड़ता देख पूनिया ने अपना विवादित ट्वीट डिलीट कर दिया है और माफी भी मांगी है। करनाल में पंकज पूनिया के खिलाफ पुलिस में तीन‍ शिकायतें दी गईं। इसके साथ ही उत्‍तर प्रदेश के लखनऊ में पूनिया के खिलाफ एफआइआर दर्ज हुआ है और गाजियाबाद में भी पुलिस में शिकायत दी गई है।

 

पूनिया का ट्वीट सोशल मीडिया पर ट्रोल हो रहा है। उनके ट्वीट की कड़ी निंदा की जा रही है और उनके खिलाफ कड़े शब्‍दों का इस्‍तेमाल किया गया है। इस बीच आरएसएस, विश्व हिंदू परिषद तथा भाजपा कार्यकर्ताओं ने पूनिया के खिलाफ करनाल के दो थानों में अलग-अलग शिकायत देकर कड़ी कार्रवाई की मांग की। ट्विटर पर कई हस्तियों ने भी उनके बिगड़े बोल की निंदा करने के साथ कड़ी कार्रवाई की पुरजोर मांग उठाई।

 

बुधवार को यह मामला एकाएक चर्चा में आने के साथ ही करनाल में विश्व हिंदू परिषद की ओर से विवेक लांबा के नेतृत्व में जुगल बठला, सतीश कालड़ा, विनित खेड़ा, विजय शर्मा, आकाश घेरा, ललित अरोड़ा सहित दर्जनों लोग सदर थाने पहुंचे और पूनिया के खिलाफ शिकायत दी।इसके बाद देर रात पूनिया के खिलाफ केस दर्ज कर उन्‍हें गिरफ्तार किया गया।

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss