मनोरंजन के लिए दंगल टीवी को हासिल हुई जीत
Thursday, 05 September 2019 20:40

  • Print
  • Email

नई दिल्ली: पुराने कार्यक्रमों, क्राइम धारावाहिकों और पौराणिक कथाओं से संबंधित हर तरह के शोज से परिपूर्ण दंगल टीवी छोटे पर्दे पर एंटरटेनमेंट फैक्टर को बढ़ा रहा है और रेटिंग गेम्स में भी जीत हासिल कर रहा है। एंटर10 टेलीविजन प्राइवेट लिमिटेड द्वारा खरीदे गए इस चैनल ने अपनी शुरुआत एक भोजपुरी चैनल के तौर पर की थी, लेकिन जल्द ही इसमें हिंदी में मनोरंजक कार्यक्रम दिखाए जाने लगे और इसके साथ ही दर्शकों की मांग को ध्यान में रखते हुए डेली शोप को लाए जाने का भी वायदा किया गया।

मनीष सिंघल ने 2004 में एंटर10 टेलीविजन की शुरुआत की। इसके प्रमुख चैनल की शुरुआत साल 2006 में की गई जिसके बाद दंगल, भोजपुरी सिनेमा और फक्त मराठी इन तीन नए चैनलों को भी लॉन्च किया गया।

इसके ऑफिशियल साइट के मुताबिक, "एक चैनल के रूप में दंगल अच्छी विषय सामग्री को दिखा रही है जो हर रोज दर्शकों के साथ हमारे रिश्ते को मजबूत बना रही है और यह लगातार प्रदर्शन से सही साबित हुआ है।"

ब्रॉडकास्ट ऑडियंस रिसर्च काउंसिल (बीएआरसी) के मुताबिक, 856987 इम्प्रेशन्स के साथ 2019 के 34वें सप्ताह में सभी प्लेटफॉर्म पर समस्त शैलियों में शीर्ष दस चैनलों की साप्ताहिक सूची में दंगल टीवी सबसे ऊपर है। इस प्रतियोगिता में कलर्स, स्टार प्लस, जी टीवी, सोनी एंटरटेनमेंट टेलीविजन, सोनी सब सहित कई अन्य चैनलों को दंगल ने पछाड़ा।

फिलहाल चैनल में कुछ और पुराने हिट कार्यक्रमों को भी शामिल किया गया है जिनमें 'बाबा ऐसो वर ढूंढो', 'रहना है तेरी पलकों की छांव में' और 'बंदिनी' है। इनके अलावा 'क्राइम अलर्ट', 'सीआईएफ' और 'फिर लौट आई नागिन' का प्रसारण भी इसमें किया जाता है।

ऐसी खबरें हैं कि जल्द ही इसमें 'एक इच्छाधारी नागिन का इंतकाम' जैसे एक सुपरनैचुरल कार्यक्रम की शुरुआत की जाएगी जिसमें निकिता शर्मा और जतिन भारद्वाज मुख्य किरदारों में होंगे।

--आईएएनएस

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss