ऐसे लोगों को सोशल मीडिया पर बेइज्जत करने की सलाह दे रहीं कंगना रनौत

हाल ही में कंगना रनौत दिल्ली में नज़र आईं। वे एक इवेन्ट में शामिल होने पहुंची थी जहां महिलाओं के अधिकारों को लेकर गहन चर्चा हुई। इस इवेन्ट में कंगना के अलावा दिल्ली कमीशन फॉर वीमेन चीफ स्वाति मालीवाल, फैशन डिज़ाइनर और सोशल वर्कर शायना एनसी और एक्ट्रेस गुल पनाग जैसी कई हस्तियां शामिल हुईँ। अलीबाबा फाउंडेशन द्वारा ऑर्गेनाइज़ किए गए इस इवेन्ट में इन सितारों ने महिला के अधिकारों से जुड़ी अपनी बात लोगों के सामने  रखी।

कंगना ने कहा कि ये बेहद दुर्भाग्यपूर्ण है कि आज के दौर में भी महिलाओं को कपड़ों और घर से बाहर निकलने की आज़ादी जैसे कई बुनियादी सवालों पर भी संघर्ष करना पड़ रहा है। जब आपको बेहद बुनियादी चीज़ों के लिए लड़ाई लड़नी पड़ती है तो समझ लीजिए कि उस देश का समाज बहुत अच्छे हालातों में नहीं है। कंगना ने कहा कि ‘ज्यादातर लोग फेमिनिज़्म का गलत मतलब निकाल लेते हैं। फेमिनिज्म दरअसल एक आयडिया है। लेकिन इस दुनिया में आपका हक आपको आसानी से नहीं मिलता और अपने हक के लिए आपको संघर्ष करना पड़ता है। जो भी इंसान इस हक की लड़ाई लड़ता है, उसका सम्मान होना चाहिए और जो इंसान इस लड़ाई के खिलाफ जाता है, उसे सोशल मीडिया पर ट्रोल किया जाना चाहिए। महिलाओं के अधिकारों और हक की लड़ाई लड़ने वाले लोगों को ट्रोल करने के बजाए ऐसे लोगों को ट्रोल किया जाना ज़्यादा ज़रूरी है।’

गौरतलब है कि कंगना पिछले कुछ दिनों से कई अलग-अलग कारणों के चलते चर्चा में रही हैं। हाल ही में डायरेक्टर अश्विनी अय्यर तिवारी ने उन्हें अपनी नई फिल्म पंगा में साइन किया है। हालांकि रिपोर्ट्स के मुताबिक, कंगना से इस फिल्म के शूट करने से पहले ‘नो इंटरफेरेंस’ कॉन्ट्रेक्ट साइन करवाया जाएगा। इस कॉन्ट्रेक्ट का मतलब होगा कि कंगना इस फिल्म में किसी भी तरह की दखलअंदाजी नहीं कर पाएंगी। हाल ही में कंगना के बिहेवियर के चलते सोनू सूद ने फिल्म ‘मणिकर्णिका’ को छोड़ दिया था। इसके अलावा कंगना की इस महत्वाकांक्षी फिल्म का बजट भी कई गुणा बढ़ गया है। इस फिल्म को पहले केतन मेहता डायरेक्ट करने वाले थे पर रिपोर्ट्स के मुताबिक, केतन ने इस प्रोजेक्ट से अलग होना बेहतर समझा।

--आईएएनएस

POPULAR ON IBN7.IN