कुछ महीनों में मर जाऊंगा- सोचता हूं लिख कर गले में टांग लूं: इरफान खान

बॉलीवुड सुपरस्टार इरफान खान ने अपने हेल्थ को लेकर बयान दिया है। इरफान इन दिनों लंदन में हैं। वहां उनका इलाज चल रहा है।  इरफान खान NeuroEndocrine tumour नाम की खतरनाक बीमारी से जूझ रहे हैं। उनके साथी कलाकारों से लेकर दुनिया भर के फैंस उनके जल्दी ठीक होने के लिए दुआएं मांग रहे हैं। इस बीच असोसिएटेड प्रेस से बात करते हुए इरफान ने अपने सेहत की मौजूद स्थिति के बारे में बताया है।  इरफान खान ने बताया कि, ‘उनको जिस तरह का कैंसर है उसमें कीमोथेरपी के 6 सेशन होने हैं। कीमो के 6 सेशन में से 4 पूरे हो चुके हैं। चौथे सेशन के बाद स्कैन में अच्छे संकेत मिले हैं। मेरा टेस्ट पॉजिटिव रहा है। अब बाकी के 2 सेशन और बचे हैं। जब ये सभी 6 सेशन्स पूरे हो जाएंगे इसके बाद एक बार फिर से कैंसर स्कैन होगा। हालांकि तीसरे सेशन पूरा होने पर ही रिजल्ट पॉजिटिव रहा है। लेकिन बावजूद इसके 6ठे सेशन तक इंतजार करना होगा और रिजल्ट देखना होगा। फिर देखते हैं किये मुझे किस राह ले जाता है।’

इरफान ने आगे कहा कि, ‘किसी भी इंसान की जिंदगी की कोई गारंटी नहीं है। कभी सोचता हूं कि गले में एक बोर्ड टांग लूं और उसपर लिखवा दूं कि मुझे यह बीमारी है और मैं कुछ दिनों में मरने वाला हूं। हमेशा मेरे दिमाग में ये चलता रहता है कि मुझे बीमारी है और कुछ महीनों में, साल में, दो साल में मैं मर सकता हूं। या फिर इन सभी बातों को भुला कर मैं जिंदगी को जी सकता हूं। जैसे जिंदगी मुझे फिर से जीने का मौका दे रही है, मुझे ऐसा लग रहा है जैसे मेरे चारों तरफ अंधेरा है, मैं देख नहीं पा रहा कि मुझे जिंदगी क्या दे रही है।’

इरफान ने ये भी कहा कि, ‘सोचना कम करिए योजना बनाना छोड़िए। इसके बाद जिंदगी के असली पहलू सामने आते हैं। ऐसे में यह रीजन है कि मेरे पास कोई अन्य शब्द नहीं है। कोई डिमांड नहीं है और न ही कोई रिक्वेस्ट है।’