रणजी ट्रॉफी : गेंदबाजों की मेहनत का लाभ नहीं उठा पाया कर्नाटक

हुबली : केएससीए हुबली क्रिकेट ग्राउंड पर जारी रणजी ट्रॉफी के ग्रुप-ए मुकाबले में सोमवार को कर्नाटक गेंदबाजों की मेहनत का लाभ उठाने में नाकाम रही। जम्मू एवं कश्मीर की पहली पारी 160 रनों पर समेटने के बाद दिन का खेल खत्म होने तक कर्नाटक भी 123 रन बनाने में पांच विकेट गंवा बैठी। टॉस जीतकर गेंदबाजी चुनते हुए कर्नाटक के लिए विनय कुमार और स्टुअर्ट बिन्नी ने शानदार प्रदर्शन किया और मिलकर जम्मू एवं कश्मीर के सात बल्लेबाजों को पवेलियन की राह दिखाई। विनय ने चार जबकि बिन्नी ने तीन विकेट चटकाए।

अभिमन्यु मिथुन (23/2) ने उनका अच्छा साथ और बेहद कसी हुई गेंदबाजी की।

जम्मू एवं कश्मीर के लिए कप्तान परवेज रसूल (39) ने सर्वाधिक रन जुटाए।

ग्रुप-ए में शीर्ष पर विराजमान कर्नाटक हालांकि बल्लेबाजी करते हुए मात्र 14 रन बनाने में दो विकेट गंवा बैठी। कुणाल कपूर (23) और मनीष पांडेय (33) ने तीसरे विकेट के लिए 53 रनों की साझेदारी कर टीम को संभालने की पूरी कोशिश की, लेकिन मोहम्मद मुदासिर ने जल्दी-जल्दी दोनों बल्लेबाजों को चलता कर एक बार फिर कर्नाटक को संकट में डाल दिया।

अमूमन पारी की शुरुआत करने वाले रोबिन उथप्पा (नाबाद 37) पांचवें क्रम पर बल्लेबाजी करने उतरे और चिदंबरम गौतम (नाबाद 14) के साथ छठे विकेट के लिए नाबाद 40 रनों की साझेदारी कर टीम को फिर से स्थिरता प्रदान की।

मुदासिर अब तक तीन विकेट हासिल कर चुके हैं।

POPULAR ON IBN7.IN