अफरीदी के थप्पड़ के बाद फिक्सिंग पर बोले थे आमिर : रज्जाक
Thursday, 13 June 2019 08:18

  • Print
  • Email

कराची: पाकिस्तान के पूर्व हरफनमौला खिलाड़ी अब्दुल रज्जाक ने कहा है कि पूर्व क्रिकेटर शाहिद अफरीदी के थप्पड़ के बाद तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर ने फिक्सिंग की बात कबूली थी।

रज्जाक ने साथ ही कहा कि आमिर के साथ दोषी करार दिए गए सलमान बट्ट पाकिस्तान के 2010 इंग्लैंड दौरे के काफी पहले से फिक्सिंग में शामिल थे।

रज्जाक ने जीएनएन समाचार चैनल से कहा, "उन्होंने (अफरीदी) मुझसे कमरे से चले जाने को कहा लेकिन कुछ देर बाद मैंने चांटे की आवाज सुनी और फिर आमिर ने सच्चाई बताई।"

रज्जाक ने देश का नाम बदनाम होने के लिए तत्कालीन पाकिस्तान क्रिकेट बोर्ड (पीसीबी) को जिम्मेदार ठहराया।

रज्जाक ने कहा, "मुझे लगता है कि आईसीसी के पास जाने के बजाए पीसीबी को खुद इन तीनों को इनके मना करने के बाद भी आड़े हाथों लेना चाहिए था और तुरंत घर भेज देना चाहिए था। उन्हें एक साल के लिए प्रतिबंधित कर दिया जाना चाहिए था। पीसीबी ने ऐसा नहीं किया और पाकिस्तान क्रिकेट की इज्जत मटियामेट हो गई।"

2011 में बट्ट, आमिर और मोहम्मद आसिफ को आईसीसी ने पांच साल के लिए प्रतिबंधित कर दिया था। यह तीनों अब मैदान पर वापसी कर चुके हैं। आमिर इस समय विश्व कप में खेल रहे हैं।

रज्जाक ने बताया कि बट्ट इस मामले के सामने आने से पहले ही फिक्सिंग से जुड़े थे और जान बूझकर डॉट बॉल खेला करते थे।

उन्होंने कहा, "मैंने अफरीदी से इस बारे में अपनी चिंता जाहिर की थी लेकिन उन्होंने कहा था कि यह मेरा वहम है और कुछ भी गलत नहीं हो रहा है। लेकिन, जब मैं टी-20 विश्व कप में वेस्टइंडीज के खिलाफ बट्ट के साथ बल्लेबाजी कर रहा था तब मुझे पक्का यकीन हो गया कि वह टीम को नीचा दिखा रहा है।"

उन्होंने कहा, "मैंने उससे कहा कि मुझे स्ट्राइक दो तो उन्होंने इस बात पर मना कर दिया जिसे सुनकर मुझे हैरानी हुई और तब मुझे अहसास हुआ कि ये क्या कर रहा है। हर ओवर में वह जानबूझ कर दो-तीन गेंद खाली खेल रहा था और इसके बाद मुझे स्ट्राइक देता था। मुझे गुस्सा आ गया था और मैं दबाव में आउट हो गया था।"

--आईएएनएस

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.