480 दिनों के बाद टीम में वापस लौटे जडेजा ने यादगार बनाया मैच

सुपरफोर के पहले मुकाबले में भारत ने बांग्लादेश को सात विकेट से हरा दिया। बांग्लादेश के खिलाफ रविंद्र जडेजा ने शानदार गेंदबाजी कर सबसे अधिक चार विकेट झटकने में कामयाबी हासिल की। हार्दिक पांड्या की जगह जडेजा को प्लेइंग इलेवन में खेलना का मौका मिला और इस मौके को उन्होंने दोनों हाथों से लपक लिया। मैन ऑफ द मैच रहे जडेजा ने मैच के बाद वनडे टीम में अपनी वापसी पर खुशी जाहिर की। जडेजा ने मैच के बाद कहा, ”वनडे में खेलने के लिए मैंने 480 दिनों तक इंतजार किया, आज का दिन मैं कभी नहीं भूल सकता। प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान जडेजा ने कहा, ”इससे पहले वनडे टीम में वापसी करने के लिए इतने लंबे अंतराल का समय नहीं लगा था। इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी मैच से मुझे आत्मविश्वास मिला। इसके बाद विजय हजारे ट्रॉफी में खेल रहा था। इसी दौरान मेरे पास चयनकर्ताओं का फोन आया और उन्होंने मुझे दुबई आने के लिए कहा। इस खबर को सुन मैं बेहद खुश था, मेरी कोशिश इस प्रदर्शन को आगे भी बरकरार रखने की होगी।

बता दें कि इंग्लैंड के खिलाफ टेस्ट सीरीज में जडेजा भारतीय टीम का हिस्सा थे, लेकिन उन्हें प्लेइंग इलेवन में खेलने का मौका अंतिम मैच में मिला था। इस मैच में जडेजा गेंद और बल्ले दोनों से ही अपनी छाप छोड़ने में कामयाब रहे थे। इंग्लैंड टूर को लेकर जडेजा ने कहा, ” विदेशी सीरीज पर खेले गए पिछले कुछ मुकाबलों में मुझे लगातार मौके नहीं मिल रहे थे। इस वजह से मैंने सोच लिया था कि मौका मिलते ही मुझे अपना बेस्ट देना है।”

वनडे क्रिकेट में वापसी करने के बाद जडेजा से वर्ल्ड कप 2019 में खेलने को लेकर सवाल किया गया। इस पर जडेजा ने कहा, ”अभी इस बारे में कुछ भी कहना जल्दबाजी होगा। मैं अभी इतनी आगे की बात नहीं सोच रहा। वर्ल्डकप से होने वाले मैचों में जब भी मुझे खेलने का मौका मिलेगा मेरी कोशिश उनमें बेहतर प्रदर्शन की होगी।”