श्रीसंत सहित राजस्थान के 3 खिलाड़ी स्पॉट फिक्सिंग के आरोप में गिरफ्तार
Thursday, 16 May 2013 17:09

  • Print
  • Email

दिल्ली पुलिस ने स्पॉट फिक्सिंग के आरोपों में इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) की फ्रेंचाइजी राजस्थान रॉयल्स के तीन खिलाड़ियों को मुम्बई में गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार गिए खिलाड़ी हैं-शांताकुमारन श्रीसंत, अंकित चव्हाण और अजीत चंदोलिया। राजस्थान रॉयल्स टीम के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रघु अय्यर ने एक निजी समाचार चैनल से बातचीत के दौरान तीन खिलाड़ियों की गिरफ्तारी की पुष्टि की है लेकिन फ्रेंचाइजी ने उनके नाम स्पष्ट नहीं किए हैं। इस बीच दिल्ली पुलिस एक सूत्र ने गिरफ्तार खिलाड़ियों में श्रीसंत के शामिल होने की पुष्टि की है।

राजस्थान रॉयल्स ने अपने बयान में कहा, "हमें बताया गया है कि हमारे तीन खिलाड़ियों को स्पॉट फिक्सिंग के आरोपों में जांच के लिए हिरासत में लिया गया है। हम इससे हैरान हैं। हमारे पास इससे अधिक जानकारी नहीं है और इसी कारण हम दूसरी बातों की पुष्टि नही कर सकते।"

"हम इस मामले को लेकर बीसीसीआई के सम्पर्क में हैं। हमने साफ कर दिया है कि जांच में हम पूरा सहयोग करेंगे। राजस्थान रॉयल्स टीम प्रबंधन स्पॉट फिक्सिंग या फिर खेल को बदनाम करने वाले किसी अन्य तरह के मामले को लेकर कड़ा रुख रखता है।"

टेलीविजन रिपोर्ट के मुताबिक पुलिस ने कहा है कि यह गिरफ्तारी देर रात मुम्बई के होटल ट्राइडेंट से हुई है। तीन खिलाड़ियों के साथ-साथ कई सट्टेबाजों को गिरफ्तार किया गया है। इन खिलाड़ियों को गुरुवार को दिल्ली की एक अदालत में पेश किया जाएगा।

सट्टेबाजों की संख्या की पुष्टि नहीं हो सकी है लेकिन इसनकी संख्या सात बताई जा रही है। इन्हीं सटट्ेबाजों से मिली सूचना के आधार पर दिल्ली पुलिस ने एक गुप्त कार्रवाई के तहत मुम्बई के ट्राइडेंट होटल में छापा मारकर तीन खिलाड़ियों को हिरासत में लिया।

राजस्थान और मुम्बई इंडियंस टीमों के बीच बुधवार को वानखेड़े स्टेडियम में आईपीएल मैच खेला गया था। उस मैच में राजस्थान की हार हुई थी। उस मैच में हालांकि हिरासत में लिए गए तीनों खिलाड़ी नहीं खेले थे। ऐसा माना जा रहा है कि दिल्ली पुलिस के पास इससे पूर्व कई मैचों में स्पॉ फिक्सिंग करने का इनके खिलाफ सबूत है।

स्पॉट फिक्सिंग एक तरह की सट्टेबाजी है, जिसमें सट्टेबाज खिलाड़ी को मैच के दौरान ऐसे काम करने के बदले पैसे देते हैं, जिनसे मैच का परिणाम प्रभावित नहीं होता। मसलन इसके तहत खिलाड़ी पूर्व निर्धारित तरीके से जानबूझकर नो बॉल फेंक सकता है।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss