बल्लेबाजों को ज्यादा इच्छाशक्ति और साफ मानसिकता से खेलना होगा : रहाणे
Thursday, 27 February 2020 16:49

  • Print
  • Email

क्राइस्टचर्च: भारतीय टेस्ट टीम के उप-कप्तान अजिंक्य रहाणे ने कहा है कि टीम के बल्लेबाजों को न्यूजीलैंड के खिलाफ शनिवार से शुरू हो रहे दूसरे टेस्ट मैच में ज्यादा इच्छाशक्ति और साफ मानसिकता के साथ खेलना होगा। दोनों टीमों के बीच दूसरा मैच हेग्ले ओवल मैदान पर शुरू हो रहा है।

वेलिंग्टन में खेले गए पहले टेस्ट मैच में भारतीय बल्लेबाज संघर्ष करते दिखे थे।

रहाणे ने यहां गुरुवार को संवाददाताओं से कहा, "मैं नहीं कह रहा कि हमें ज्यादा आक्रामकता से खेलना होगा लेकिन ज्यादा इच्छाशक्ति और साफ मानसिकता से हमें मदद मिलेगी।"

उन्होंने कहा, "मेरे लिए, एक बल्लेबाज के तौर पर मुझे लगता है कि आपको गेंदबाज के सामने अपनी इच्छाशक्ति का प्रदर्शन करना होता है। अगर आप एक स्थान पर खड़े रहे तो गेंदबाजों को ज्यादा कुछ बदलने की जरूरत नहीं है। इस तरह की बातों पर हम अभ्यास सत्र में ध्यान दे रहे हैं। साथ ही किस तरह से क्रीज और एंगल का उपयोग करना है उस पर भी ध्यान दिया जा रहा है। लेकिन आप कितना भी अभ्यास कर लें, आपको पिच पर बल्लेबाजी करने के लिए अपने पर विश्वास होना चाहिए।"

पहले टेस्ट मैच में रहाणे उन बल्लेबाजों में से थे जिन्होंने विकेट पर टिकने की हिम्मत दिखाई थी। वह हालांकि बड़ा स्कोर नहीं कर पाए थे, लेकिन दाएं हाथ के इस बल्लेबाज ने विकेट पर अच्छा समय बिताया था।

उन्होंने अपनी टीम के बल्लेबाजों से एक अलग एंगल को ध्यान में रखते हुए बल्लेबाजी अभ्यास करने की बात भी कही है।

उन्होंने कहा, "मुझे लगता है कि उनके गेंदबाजों ने वेलिंग्टन में एक अच्छे कोण का उपयोग किया था। वह क्रिज से कोने और मध्य में रहकर गेंदबाजी कर रहे थे। शॉर्ट गेंद फेंकते हुए वह एंगल बदल रहे थे। उनकी रणनीति साफ थी। एक बल्लेबाज के तौर पर अगर आप एक निश्चित शॉट के बारे में सोच रहे तो आपको अपने आप को उस शॉट के लिए तैयार करना होगा और उस पर भरोसा करना होगा और शक नहीं करना होगा।"

उन्होंने कहा, "इसलिए मैंने कहा, हमने एक टीम के तौर पर क्या गलतियां की, उनसे हमें सीखना होगा। मुझे लगता है कि हमें उन एंगल के सामने बल्लेबाजी करने का अभ्यास करना होगा। हमने अभी अभ्यास किया है और कल भी हमारा अभ्यास सत्र है।"

--आईएएनएस

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss