Print this page

पुणे टेस्ट : घर में भारत ने जीती रिकार्ड लगातार 11वीं टेस्ट सीरीज
Sunday, 13 October 2019 17:33

पुणे: भारतीय क्रिकेट टीम ने शानदार प्रदर्शन करते हुए रविवार को यहां महाराष्ट्र क्रिकेट संघ मैदान पर दूसरे टेस्ट मैच में दक्षिण अफ्रीका को एक पारी और 137 रनों से हरा दिया। यह घर में भारत की रिकार्ड लगातार 11वीं सीरीज जीत है। इस जीत के साथ भारत ने तीन मैचों की सीरीज में 2-0 की अजेय बढ़त बनाकर फ्रीडम ट्रॉफी पर भी कब्जा कर लिया। मैच के चौथे दिन फॉलोऑन का सामना करते हुए दक्षिण अफ्रीका की पूरी टीम अपनी दूसरी पारी में महज 189 रनों पर सिमट गई। मेहमान टीम के लिए दूसरी पारी में सबसे ज्यादा रन डीन एल्गर (48) बनाए। उप-कप्तान टेम्बा बावुमा (38) दूसरे सफल बल्लेबाज रहे। मेजबान टीम की ओर से उमेश यादव और रवींद्र जडेजा ने तीन-तीन विकेट चटकाए। रविचंद्रन अश्विन को दो सफलता मिली।

यह पहला मौका था जब भारत ने दक्षिण अफ्रीका को फॉलोऑन कराया है। पहली पारी में नाबाद 254 रन बनाने में वाले भारतीय कप्तान विराट कोहली को 'मैन ऑफ द मैच' चुना गया। तीसरा टेस्ट मैच रांची में 19 अक्टूबर से खेला जाएगा।

यह 2013 से लेकर अब तक भारत की घर में लगातार 11वीं सीरीज जीत है। इससे पहले भारत और आस्ट्रेलिया के नाम घर में सबसे अधिक 10-10 टेस्ट सीरीज जीतने का रिकार्ड था। 2013 से लेकर अब तक भारत ने 32 टेस्ट मैच खेले हैं और 25 मे जीत हासिल की है जबकि सिर्फ एक मैच में उसे हार मिली है। पुणे में 2017 में आस्ट्रेलिया के खिलाफ उसे हार मिली थी।

इस जीत से भारत को 40 अंक मिले है और वह आईसीसी टेस्ट चैम्पियनशिप की तालिका में 200 अंकों के साथ शीर्ष पर मौजूद है। सीरीज के पहले मैच में भारत ने 203 रनों के बड़े अंतर से जीत दर्ज की थी।

भारत ने अपनी पहली पारी पांच विकेट पर 601 रनों पर घोषित कर दी थी और दक्षिण अफ्रीको को पहली पारी में शनिवार को केवल 275 रनों पर ऑल आउट कर दिया था। कोहली ने चौथे दिन मेहमान टीम को फॉलोऑन के लिए बुलाया।

कोहली के इस फैसले को भारतीय गेंदबाजों ने सही साबित किया और चौथे दिन मेजबान टीम को दमदार शुरुआत दिलाई।

सलामी बल्लेबाज एडिन मार्कराम बिना खाता खोले ही पवेलियन लौट गए और 21 रन के कुल योग पर थेयुनिस डे ब्रयून (8) के रूप में दक्षिण अफ्रीका को दूसरा झटका लगा। मार्कराम को ईशांत शर्मा और डे ब्रयून को यादव ने पवेलियन की राह दिखाई।

कप्तान फाफ डु प्लेसिस और डीन एल्गर के बीच तीसरे विकेट के लिए 49 रनों की साझेदारी हुई। डु प्लेसिस (5) को आउट करके अश्विन ने इस साझेदारी को तोड़ा। उन्होंने एल्गर को 48 के निजी स्कोर पर आउट करके मेहमान टीम को चौथा झटका दिया।

दक्षिण अफ्रीका ने दूसरे सत्र में कुल तीन विकेट गंवाए। विकेटकीपर-बल्लेबाज क्विंटन डी कॉक को पांच रन के निजी स्कोर पर ऑलराउंडर जडेजा ने अपना शिकार बनाया।

छठे विकेट के लिए उप-कप्तान टेम्बा बावुमा और सेनुरान मुथुसामी के बीच 46 रनों की साझेदारी हुई। बावुमा (38) के आउट करके इस साझेदारी को जडेजा ने तोड़ा। मुथुसामी भी ज्यादा देर टिक नहीं सके और नौ के निजी स्कोर पर तेज गेंदबाज मोहम्मद शमी का शिकार हुए।

पहली पारी में शतकीय साझेदारी करने वाले वार्नोन फिलेंडर (37) और केशव महाराज (22) ने आठवें विकेट के लिए 56 रनों की साझेदारी की, लेकिन वे ज्यादा देकर भारतीय गेंदबाजों को पेरशान नहीं कर पाए। फिलेंडर को यादव जबकि महाराज को जडेजा ने अपना शिकार बनाया। कागिसो रबादा केवल चार रन बनाए पाए।

--आईएनएस