ईसीबी निदेशक ने खारिज किया 'अतिरिक्त रन' का विवाद
Tuesday, 16 July 2019 09:37

  • Print
  • Email

लंदन: इंग्लैंड एंड वेल्स क्रिकेट बोर्ड (ईसीबी) के निदेशक एशले जाइल्स ने आईसीसी विश्व कप-2019 के फाइनल में इंग्लैंड को ओवरथ्रो में अतिरिक्त रन मिलने वाली बात को खारिज कर दिया है। 242 रनों के लक्ष्य का पीछा करते हुए जब आखिरी ओवर में इंग्लैंड के बेन स्टोक्स ने गेंद को बाउंड्री के पास खेला और दूसरा रन लेने के लिए दौड़े तो क्रीज में पहुंचने से पहले न्यूजीलैंड के क्षेत्ररक्षक द्वारा फेंकी गई गेंद उनके बल्ले से लगकर चौके को चली गई और इंग्लैंड के खाते में कुल छह रन आ गए और यह रन न्यूजीलैंड पर कितने भारी पड़े, अब यह सभी के सामने है।

पूर्व अंपायर साइमन टॉफेल ने कहा है कि इंग्लैंड को एक रन अतिरिक्ति मिला क्योंकि जब गेंद स्टोक्स के बल्ले से टकरा कर चौके को गई तब दूसरा रन पूरा नहीं हुआ था और ऐसे में दौड़ने का एक रन और चौका मिलकर इंग्लैंड के खाते में पांच रन आने चाहिए थे न कि छह रन।

पूर्व स्पिनर जाइल्स ने हालांकि इस तरह की बातों को खारिज किया है।

बीबीसी ने जाइल्स के हवाले से लिखा है, "बिलकलु नहीं। आप मुझसे यह भी कह सकते हैं कि ट्रेंट बोल्ट की अंतिम गेंद जो लेग स्टम्प पर फुलटॉस थी और अगर स्टोक्स दो रन के लिए नहीं जाते तो वह उसे छह रनों के लिए भेज सकते थे।"

जाइल्स ने कहा, "हम विश्व विजेता हैं। हमें ट्रॉफी मिली है और हम इसे अपने पास रखना चाहते हैं।"

इंग्लैंड को इस मैच में कुल लगाई गई बाउंड्री के आधार पर जीत मिली थी। न्यूजीलैंड ने भी इस मैच में 241 रन बनाए और इंग्लैंड ने भी इतने ही रन बनाए। मैच सुपर ओवर में गया और यहां भी मैच टाई रहा जिसके बाद बाउंड्री ज्यादा मारने के कारण इंग्लैंड टीम विश्व विजेता बनी।

--आईएएनएस

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.