मंत्री के बेटे को टीम में लेने का जयसूर्या ने किया बचाव
Sunday, 31 March 2013 08:19

  • Print
  • Email

श्रीलंकाई चयन समिति के चेयरमैन सनथ जयसूर्या ने मंत्री के बेटे को बांग्लादेश के खिलाफ होने वाले ट्वेंटी-20 मुकाबले के लिए श्रीलंका की राष्ट्रीय क्रिकेट टीम में चुनने के फैसले का बचाव किया है। गौरतलब है कि श्रीलंका के सूचना एवं प्रसारण मंत्री केहिल्या रामबुकवेला के बेटे रमिथ रामबुकवेला को राष्ट्रीय टीम में चुनने के फैसले पर श्रीलंकाई मीडिया ने चयनकर्ताओं की कड़ी आलोचना की थी।

वेबसाइट 'क्रिकइन्फो' के मुताबिक जयसूर्या ने कहा, " रमिथ दाएं हाथ के बल्लेबाज हैं। साथ ही स्पिन गेंदबाजी भी करते हैं। वह शक्तिशाली खिलाड़ी हैं जो गेंद पर जोर से प्रहार करने की क्षमता रखते हैं। रमिथ ट्वेंटी-20 क्रिकेट में मिडिल आर्डर में खेल सकते हैं और इस प्रारूप के लिए हमें उन जैसे खिलाड़ियों की जरुरत है।"

रामबुकवेला (21) वर्ष 2011 से क्लब क्रिकेट खेल रहे हैं। उन्होंने पिछली 28 पारियों में क्रिकेट के सभी फॉर्मेटों में 16.87 की औसत के केवल 135 रन बनाए हैं।

जयसूर्या ने कहा कि हम उन्हीं खिलाड़ियों को ही टीम में नहीं चुनते हैं, जो अच्छा खेलते हैं। बल्कि ऐसे खिलाड़ियों को भी मौका दिया जाता है जिनमें प्रतिभा हो।

इंडो-एशियन न्यूज सर्विस।

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss