पोर्ट ऑफ स्पेन : पूर्व टेस्ट बल्लेबाज ब्रायन डेविस ने ड्वायन ब्रावो के टेस्ट क्रिकेट से संन्यास लेने के फैसले पर खेद जताते हुए कहा कि उन्हें अभी और कई साल वेस्टइंडीज टीम का हिस्सा बने रहना चाहिए था। समाचार एजेंसी सीएमसी के अनुसार, 31 वर्षीय ब्रावो ने शुक्रवार को टेस्ट को अलविदा कह दिया। ब्रावो हालांकि एकदिवसीय और टी-20 मुकाबले खेलना जारी रखेंगे।

डेविस ने समाचार पत्र 'त्रिनिदाद एक्सप्रेस' से कहा, "मैं उनकी परेशानी समझ सकता हूं। उन्हें कई सालों तक नजरअंदाज किया गया। मैं उन्हें हमेशा अपनी टीम में रखता और इसलिए मुझे लगता है कि उन्हें और टेस्ट मैच खेलना चाहिए था।"

गौरतलब है कि ब्रावो ने आखिरी टेस्ट करीब चार साल पहले श्रीलंकाई दौरे पर खेला था। हरफनमौला खिलाड़ी ब्रावो के नाम 40 टेस्ट में 31 की औसत से 2,200 रन हैं। इस दौरान उन्होंने 40 विकेट भी हासिल किए।

बीते साल दिसंबर में ब्रावो को एकदिवसीय टीम की कप्तानी पद से भी हटा दिया गया और फिर विश्व कप के लिए घोषित टीम में भी उन्हें शामिल नहीं किया गया।

Published in क्रिकेट

नई दिल्ली : पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान इंजमाम-उल-हक ने कहा कि महेंद्र सिंह धौनी अपने लंबे अनुभव के कारण 14 फरवरी से शुरू हो रहे आईसीसी विश्व कप टूर्नामेंट में भारतीय टीम के लिए तुरुप का पत्ता साबित होंगे। इंजमाम के अनुसार धौनी के पास कप्तानी का लंबा अनुभव है और कप्तान के तौर पर वह बेहद सफल भी रहे हैं। ऐसे में निश्चित रूप से वह टीम को सही दिशा में ले जाने में कामयाब होंगे।

समाचार चैनल न्यूज 24 के क्रिकेट कॉनक्लेव कार्यक्रम में शिरकत करते हुए इंजमाम ने कहा कि भारतीय टीम अन्य सभी टीमों से ज्यादा करीब 70 दिनों से आस्ट्रेलिया में है और इसका फायदा उसे मिलेगा।

इंजमाम के अनुसार, "भारतीय उपमहाद्वीप और बाहर के क्रिकेट में काफी अंतर होता है और भारतीय टीम तो पिछले करीब दो महीने से आस्ट्रेलिया में है। ऐसे में टीम वहां के माहौल में पूरी तरह से ढल गई होगी और इसका फायदा उसे विश्व कप में मिलेगा।"

हाल में आस्ट्रेलिया दौरे में टेस्ट और फिर त्रिकोणीय श्रृंखला में भारतीय टीम के बेहद निराशाजनक प्रदर्शन पर इंजमाम ने कहा, "टीम कोई भी हो लेकिन विश्व कप नजदीक आते-आते एक नया माहौल बनने लगता है। यही माहौल हर खिलाड़ी को जीत के लिए प्रेरित करता है। ऐसे में सभी पुराने हार-जीत पीछे छूट जाते हैं।"

इंजमाम के अनुसार मजबूत बल्लेबाजी भी भारतीय टीम को विश्व कप के एक प्रबल दावेदार के रूप में पेश करती है। इंजमाम के मुताबिक 60-70 फीसदी यह संभावना है कि मौजूदा चैम्पियन भारत खिताब बचाने में सफल रहेगा।

Published in क्रिकेट

मेलबर्न : पूर्व दिग्गज स्पिन गेंदबाज शेन वार्न ने कहा है कि अगर आस्ट्रेलिया विश्व कप पर कब्जा करना चाहता है तो इसके लिए माइकल क्लार्क का फिट होना जरूरी है। विश्व कप टीम में शामिल किए गए क्लार्क के 14 फरवरी को इंग्लैंड के खिलाफ टूर्नामेंट के पहले मैच में खेलने पर अभी संदेह है। मांसपेशियों में खिंचाव की चोट से उबर रहे क्लार्क को क्रिकेट आस्ट्रेलिया (सीए) ने 21 फरवरी तक अपनी फिटनेस साबित करने को कहा है। आस्ट्रेलिया को इस दिन विश्व कप का अपना दूसरा मैच बांग्लादेश के खिलाफ खेलना है।

क्लार्क ने हालांकि पिछले हफ्ते एक ग्रेड मैच में वेस्टर्न सबअर्ब्स की ओर से खेलते हुए 51 रनों की पारी के साथ अपनी वापसी के संकेत दिए थे।

वार्न ने स्काई स्पोर्ट्स से कहा, "मुझे नहीं लगता कि आस्ट्रेलिया क्लार्क के बिना विश्व कप जीत सकता है।"

वार्न के अनुसार, "करीब 12 महीने पहले आस्ट्रेलियाई टीम मुश्किलों में नजर आ रही थी, लेकिन क्लार्क की कप्तानी में टीम ने 5-0 से एशेज श्रृंखला जीती और दक्षिण अफ्रीका को भी उसी के घर में हराने में कामयाब रही।"

वार्न का मानना है कि अगर संभव हो तो क्लार्क को विश्व कप का पहला मैच जरूर खेलना चाहिए। वार्न के मुताबिक अगर क्लार्क लौटते हैं तो उनके स्थान पर टीम का नेतृत्व कर रहे जार्ज बेले को अंतिम-11 से बाहर रखना चाहिए।

वार्न ने यह भी उम्मीद जताई कि हाल में खत्म हुए त्रिकोणीय एकदिवसीय श्रृंखला में 'मैन ऑफ द सीरीज' चुने गए मिशेल स्टार्क ने विश्व कप टीम में अपनी जगह पक्की कर ली है।

Published in क्रिकेट

इस्लामाबाद : क्रिकेट से राजनीति में आए इमरान खान मुख्य निर्वाचन आयुक्त न्यायमूर्ति सरदार मोहम्मद रजा खान से सोमवार को मुलाकात कर 2013 के आम चुनाव में हुई कथित धांधली पर चर्चा करेंगे। डॉन ऑनलाइन के अनुसार, पाकिस्तान तहरीक-ए-इंसाफ (पीटीआई) ने एक आधिकारिक बयान में कहा है कि पार्टी प्रमुख इमरान, न्यायमूर्ति रजा खान के दिसंबर 2014 में मुख्य निर्वाचन आयुक्त नियुक्त होने के बाद पहली बार उनसे मिल रहे हैं।

पीटीआई के एक पदाधिकारी ने कहा कि इमरान चुनाव में हुई कथित धांधली, विशेषकर चार संसदीय सीटों का मुद्दा उठाएंगे।

इनमें से एक संसदीय क्षेत्र वह है, जहां से नेशनल असेंबली के अध्यक्ष सरदार अयाज सादिक ने इमरान को हराया था।

गौरतलब है कि दो दिन पहले ही चुनाव संबंधी लाहौर की एक अदालत ने इमरान की उस याचिका को खारिज कर दिया था, जिसमें उन्होंने संसदीय क्षेत्र के रिकार्ड की जांच करने वाले आयोग के खिलाफ कार्रवाई की मांग की थी।

पीटीआई प्रमुख ने संसदीय क्षेत्र के कुछ निश्चित मतदान केंद्रों के रिकार्ड की दोबारा जांच कराने की मांग की थी।

Published in क्रिकेट

नई दिल्ली : भारतीय क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान कपिल देव ने सोमवार को कहा कि भारत की मौजूदा विश्व पर क्रिकेट टीम में अनुभव की कमी है लेकिन खिलाड़ी अपनी उर्जा और जूझारू खेल से इस कमी को पूरा कर सकते हैं। भारतीय चयनकर्ताओं ने इस बार चुनी गई टीम में युवराज सिंह, हरभजन सिंह, विरेंद्र सहवाग, जहीर खान, आशीष नेहरा, गौतम गंभीर जैसे अनुभवी खिलाड़ियों को शामिल नहीं किया है।

आस्ट्रेलिया और न्यूजीलैंड में 14 फरवरी से शुरू हो रहे विश्व कप में मौजूदा चैम्पियन भारत अपना खिताब बचाने उतरेगा।

समाचार चैनल न्यूज 24 के क्रिकेट कॉनक्लेव कार्यक्रम में कपिल देव ने कहा, "अगर आप मौजूदा टीम की 2011 की विश्व चैम्पियन टीम से तुलना करेंगे तो पता चलेगा कि इस टीम में कई बड़े नामों को जगह नहीं दी गई है। उस टीम के मुकाबले मौजूदा टीम अनुभवहीन है।"

कपिल देव के अनुसार खिलाड़ियों में हालांकि नया जोश है और उनमें जूझने की प्रवृति है। यह खूबी टीम को आगे ले जाएगी।

उल्लेखनीय है कि भारत 1983 में पहली बार विश्व चैम्पियन कपिल देव के नेतृत्व में बना था।

कपिल देव ने यह भी कहा कि विश्व कप में अनुभव से ज्यादा टीम के खिलाड़ियों की प्रतिबद्धता उसे सफल बनाती है।

Published in क्रिकेट

सेंट जोंस (एंटिगा) : वेस्टइंडीज के दिग्गज क्रिकेट खिलाड़ी विवियन रिचर्डस ने रविवार को कहा कि महान भारतीय बल्लेबाज सचिन तेंदुलकर उनकी सार्वकालिक सर्वश्रेष्ठ एकदिवसीय बल्लेबाजों की सूची में सबसे ऊपर हैं। अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट परिषद (आईसीसी) की वेबसाइट पर रिचर्ड्स ने अपने स्तंभ में लिखा, "सबसे पहला नाम जो दिमाग में उभरता है वह तेंदुलकर का है। सीधे शब्दों में मैं उन्हें महानतम कहना चाहूंगा। वह हमेशा से मेरे पसंददीदा बल्लेबाज रहे और पैसे खर्च कर भी मैं उनकी बल्लेबाजी देखना चाहूंगा।"

वेस्टइंडीज को दो बार (1975, 1979) विश्व विजेता बनाने वाले रिचर्ड्स ने कहा, "विश्व क्रिकेट में अन्य दिग्गज खिलाड़ियों की तरह वह शारीरिक रूप से विशाल नहीं हैं, लेकिन दुनिया की हर अच्छी चीज छोटे पैकेट में ही आती है। वह कमाल के बल्लेबाज थे।"

रिचर्ड्स ने शीर्ष कैरेबियाई बल्लेबाज ब्रायन लारा को भी तेंदुलकर के समकक्ष बताया।

उन्होंने कहा, "मैं लारा को सचिन के बराबर ही मानता हूं। मैं उन्हें भी बल्लेबाजी करते देखने के लिए पैसे खर्च को तैयार हूं और मैं उन्हें बार-बार देखना चाहूंगा।"

रिचर्ड्स जिन बल्लेबाजों को खेलता देखने के लिए पैसे खर्च करना चाहेंगे, उनमें मौजूदा भारतीय टीम के स्टार बल्लेबाज विराट कोहली 10वें नंबर पर हैं।

रिचर्ड्स ने कोहली को भी दिग्गज बल्लेबाज बताया और कहा कि कुछ लोगों को यह निर्णय चौंका सकता है, लेकिन लोग इस बल्लेबाज को आने वाले समय में दिग्गज बनता हुआ देखेंगे।

रिचर्ड्स की बल्लेबाजों की सूची में क्रिस गेल, क्लाइव लॉयड, रिकी पोंटिंग, मैथ्यू हेडेन, माइकल हसी, विरेंद्र सहवाग अब्राहम डिविलियर्स भी शामिल हैं।

Published in क्रिकेट

वड़ोदरा : शार्दुल ठाकुर (39/5) की गेंदबाजी की बदौलत ने मुंबई ने रविवार को मोती बाग स्टेडियम में रणजी ट्रॉफी ग्रुप-ए मुकाबले में बड़ौदा को 169 रनों से हरा दिया। तीसरे दिन के दो विकेट के नुकसान पर 67 रनों से आगे खेलने उतरे बड़ौदा के सामने दूसरी पारी में 408 रनों का लक्ष्य था लेकिन टीम 238 रन बनाकर आउट हो गई। आखिरी बल्लेबाज के रूप में उतरे मुनाफ पटेल ने 35 गेंदों में चार चौकों और पांच छक्कों की मदद से 53 रन बनाए।

मुनाफ और केदार देवधर (58 नाबाद) के बीच दसवें विकेट के लिए 57 रनों की साझेदारी हुई। सलामी बल्लेबाज सौरभ वाकास्कर ने 48 रनों का योगदान दिया।

गौरतलब है कि मुंबई ने टॉस जीतकर बल्लेबाजी करते हुए अदित्य तारे (127) की बदौलत पहली पारी में 287 और फिर दूसरी पारी में 304 रन बनाए थे। जवाब में बड़ौदा पहली पारी में केवल 184 रन बना सका। आदित्य को 'मैन ऑफ द मैच' चुना गया।

मुंबई की सात मैचों में यह दूसरी जीत है और उसके कुल 17 अंक हैं। वहीं, अकतालिका में मुंबई से एक पायदान ऊपर बड़ौदा के इतने ही मैचों में 18 अंक हैं।

Published in क्रिकेट

किंग्सटन : बाएं हाथ के स्पिन गेंदबाज निकिता मिलर ने उम्मीद जताई है कि आईसीसी विश्व कप के लिए ऑफ-स्पिन गेंदबाज सुनील नरेन के नाम वापस लेने के बाद वह उनका स्थान भरने में कामयाब होंगे। समाचार एजेंसी सीएमसी के अनुसार 32 वर्षीय मिलर को नरेन की जगह टीम में शामिल किया गया है। मिलर ने पिछले करीब एक साल से कोई भी अंतर्राष्ट्रीय मैच नहीं खेला है। उनके पास हालांकि 40 एकदिवसीय मैचों का अनुभव है जिसमें उन्होंने 40 विकेट अपने नाम किए।

मिलर ने कहा, "मैं विश्व कप के लिए टीम में चुने जाने पर बेहद खुश हूं। नरेन का हालांकि टीम से नाम वापस लेना दुर्भाग्यपूर्ण है। उन्होंने वेस्टइंडीज टीम के कई अच्छे प्रदर्शन किए हैं।"

गौरतलब है कि नरेन को जनवरी में घोषित विश्व कप टीम में शामिल किया गया था लेकिन पिछले मंगलवार को ही उन्होंने अपनी गेंदबाजी एक्शन में सुधार की कोशिश का हवाला देते हुए टीम से नाम वापस ले लिया।

पिछले साल चैम्पियंस लीग टी-20 टूर्नामेंट के दौरान उनकी गेंदबाजी एक्शन को लेकर शिकायत की गई थी। नरेन इसके बाद से ही इसे सुधारने पर काम कर रहे हैं।

मिलर ने कहा, "नरेन का विश्व कप से बाहर होना हमारे लिए बड़ा झटका है लेकिन मुझे उम्मीद है कि मैं उनकी जगह भरने में कामयाब रहूंगा और टीम के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करूंगा।"

विश्व कप में वेस्टइंडीज को ग्रुप-बी में आयरलैंड, पाकिस्तान, जिम्बाब्वे, दक्षिण अफ्रीका, भारत और संयुक्त अरब अमीरात के साथ रखा गया है। वेस्टइंडीज टूर्नामेंट का अपना पहला मैच 16 फरवरी को आयरलैंड के खिलाफ खेलेगा।

Published in क्रिकेट

पर्थ : आस्ट्रेलिया के तेज गेंदबाज जेम्स फॉल्कनर को रविवार को वाका मैदान पर इंग्लैंड के साथ त्रिकोणीय श्रृंखला के फाइनल में गेंदबाजी के बीच में मैदान छोड़कर बाहर जाना पड़ा। फॉल्कनर को अपने तीसरा ओवर में गेंदबाजी करने के दौरान शरीर के दाहिने हिस्से में खिंचाव महसूस हुआ। इसके बाद कप्तान जॉर्ज बेली के साथ बातचीत के बाद फॉल्कनर ने मैदान छोड़ने का फैसला किया।

क्रिकेट आस्ट्रेलिया ने सोशल वेबसाइट ट्विटर पर फॉल्कनर के चोट की पुष्टि करते हुए लिखा, "फॉल्कनर ने पसली में हुए दर्द के बाद मैदान छोड़ा। टीम के चिकित्सा अधिकारी उनकी जांच करेंगे। इसके बाद विस्तृत जानकारी दी जाएगी।"

गौरतलब है कि विश्व कप शुरू होने में दो हफ्ते का समय बाकी रह गया है। ऐसे में यह आस्ट्रेलिया के लिए बड़ा झटका साबित हो सकता है।

फॉल्कनर ने इससे पूर्व खिताबी मुकाबले में बल्लेबाजी करते हुए 24 गेंदों में नाबाद 50 रन बनाए और पारी की आखिरी गेंद पर छक्का लगाया। उनकी विस्फोटक पारी की बदौलत आस्ट्रेलियाई टीम आठ विकेट के नुकसान पर 278 रन बना सकी।

Published in क्रिकेट

पर्थ : ग्लेन मैक्सवेल (95 रन, 4 विकेट) के हरफनमौला प्रदर्शन की बदौलत आस्ट्रेलिया रविवार को वाका मैदान पर इंग्लैंड को खिताबी मुकाबले में 112 रनों की करारी शिकस्त देकर न केवल त्रिकोणीय एकदिवसीय श्रृंखला पर कब्जा जमाने में कामयाब रहा बल्कि दो हफ्ते बाद शुरू हो रहे विश्व कप के लिए भी एक बार फिर अपनी प्रबल दावेदारी पेश कर दी। मैक्सवेल को 'मैन ऑफ द मैच' जबकि श्रृंखला में सर्वाधिक 12 विकेट हासिल करने वाले आस्ट्रेलिया के मिशेल स्टार्क को 'मैन ऑफ द सीरीज चुना' गया।

आस्ट्रेलिया ने बिना कोई मैच गंवाए यह त्रिकोणीय श्रृंखला जीता। तीसरी टीम और मौजूदा विश्व चैम्पियन भारत बिना कोई मैच जीते इस टूर्नामेंट से बाहर हो गया था।

आस्ट्रेलिया द्वारा पहले बल्लेबाजी करते हुए दिए गए 279 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरा इंग्लैंड 39.1 ओवरों में केवल 166 रनों पर सिमट गया।

आस्ट्रेलिया की ओर से मैक्सवेल ने चार जबकि करीब एक महीने बाद मैदान पर वापसी करने वाले मिशेल जानसन ने तीन विकेट हासिल किए। जोस हैजलवुड को दो सफलता मिली।

इंग्लैंड की ओर से रवि बोपारा ने सर्वाधिक 33 रन बनाए और स्टुअर्ट ब्रॉड (24) तथा स्टीवन फिन (6) के साथ क्रमश: आठवें और नौवें विकेट के लिए 32 और 30 रनों की साझेदारी कर टीम की हार कुछ देर तक टालने में कामयाब हुए। कप्तान इयान मोर्गन बिना खाता खोले पवेलियन लौटे।

सलामी बल्लेबाज मोइन अली ने 26 जबकि जोए रूट ने 25 रनों का योगदान दिया।

इससे पूर्व टॉस हारने के बाद पहले बल्लेबाजी करने उतरी मेजबान टीम ने निर्धारित 50 ओवरों में आठ विकेट के नुकसान पर 278 रन बनाए।

आस्ट्रेलिया ने आखिरी 10 ओवरों में 86 रन जोड़े। जेम्स फॉल्कनर 24 गेंदों में चार चौकों और चार छक्कों की मदद से 50 रन बनाकर नाबाद लौटे।

आस्ट्रेलिया की शुरुआत हालांकि खराब रही और उसके पहले चार बल्लेबाज केवल 60 रन जोड़ सके। इसके बाद ग्लेन मैक्सवेल (95) और मिशेल मार्श (60) के बीच पांचवें विकेट के लिए हुई 141 रनों की साझेदारी ने टीम को मुश्किल हालात से निकलने में मदद की।

मैक्सवेल ने 98 गेंदों की अपनी पारी में 15 चौके लगाए। वहीं, मार्श ने भी 68 गेंदों में सात चौकों और एक छक्के की मदद से महत्वपूर्ण पारी खेली।

इंग्लैंड की ओर से ब्रॉड ने तीन जबकि जेम्स एंडरसन ने दो विकेट हासिल किए। फिन और मोइन अली को एक-एक सफलता मिली।

Published in क्रिकेट

Don't Miss