दिग्गज अभिनेता अनुपम खेर ने विक्की कौशल की हालिया रिलीज फिल्म 'उरी : द सर्जिकल स्ट्राइक' देखने के बाद 'कलाकारों की दुनिया' में उनका स्वागत किया है। अनुपम ने सोमवार को ट्वीट किया, "'कलाकारों' की दुनिया में स्वागत है। 'उरी : द सर्जिकल स्ट्राइक' में आपका काम शानदार है। वास्तविक, प्रभावशाली और एक परफॉर्मर।"

अनुपम ने आगे कहा, "आप जितना ज्यादा अपने काम को मुश्किल बनाते हैं, उतना ही ज्यादा सीखने को मिलता है। हमेशा प्यार और शुभकामनाएं।" 

फिल्म 2016 में भारतीय सेना द्वारा अंजाम दिए गए सर्जिकल स्ट्राइक पर आधारित है। 

इस महीने की शुरुआत में रिलीज हुई फिल्म में यामी गौतम भी हैं। 

--आईएएनएस

Published in बॉलीवुड

अभिनेता अनुपम खेर का कहना है कि वह पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के जीवन पर आधारित अपनी नई फिल्म 'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' की नकारात्मक समीक्षा की अधिक परवाह नहीं करते। 

अनुपम ने तीन महीने के लिए विदेश यात्रा पर जाने से पहले कहा, "कोई फर्क नहीं पड़ता कि आप क्या करते हैं, लोग आपकी गिराने की कोशिश करेंगे। आलोचना हमेशा से देश में दिल बहलाव का जरिया रहा है। अब फिल्म आलोचना भी भारतीयों के लिए स्व-मनोरंजन का एक बड़ा स्रोत बन गई है। मैं आलोचना या फिल्म आलोचना को दिल पे नहीं लेता। अंतत: यह सिर्फ किसी पुरुष या महिला की राय होती है और मैंने अपने करियर में अच्छी-बुरी दोनों तरह की तमाम समीक्षाएं देखी हैं।"

मनमोहन सिंह का किरदार निभाने को लेकर अनुपम की जिस तरह से तीखी आलोचना हुई है, वह उससे चकित हैं।

उन्होंने कहा, "ऐसा लगता है कि कुछ आलोचकों का राजनीतिक एजेंडा हमारी अपेक्षा से कहीं बहुत बड़ा है। टिप्पणियां अनुचित और अप्रासंगिक हैं। मैं डॉ. मनमोहन सिंह को उस गरिमा और सम्मान के साथ चित्रित करना चाहता था, जिसके वे हकदार हैं। और मुझे लगता है कि मैं इसमें सफल रहा हूं। मुझे कम से कम अभिनेता के रूप में थोड़ा अनुभव और समझ है।"

वह 'न्यू एम्स्टर्डम' श्रंखला के नए सत्र की शूटिंग के लिए अगले तीन महीने अमेरिका में रहेंगे।

उन्होंने कहा, "मैं विजय कपूर नामक एक भारतीय चिकित्सक का एक मुख्य किरदार निभा रहा हूं। यह दुनिया का एक सबसे लोकप्रिय धारावाहिक है। मैं अपने अगले तीन महीने पूरी तरह इस श्रंखला के लिए समर्पित कर रहा हूं।"

'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' की समीक्षाओं के बारे में अनुपम के क्या विचार हैं?

उन्होंने कहा, "हमने एक ऐसे नायक की कहानी बताने की कोशिश की है, जो उस दर्जे के राजनीज्ञ नहीं थे, जितना होने की जरूरत थी। यह फिल्म डॉ. सिंह के राजनीतिक सलाहकार द्वारा लिखी गई पुस्तक पर आधारित है। लेकिन यह बायोपिक नहीं है। इसमें भारत के राजनीति के 10 महत्वपूर्ण वर्षो को दर्शाया गया है। आप फिल्म के बारे में भले ही ज्यादा न सोचें, लेकिन देश के फिल्मी दर्शकों की समझ को कम मत आंकिए।"

इस फिल्म ने अपनी रिलीज के पहले दिन शुक्रवार को 4.5 करोड़ रुपये की कमाई की और शनिवार को फिल्म ने 5.45 करोड़ रुपये कमाए।

--आईएएनएस

Published in बॉलीवुड

 'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की भूमिका निभा चुके अभिनेता अनुपम खेर का कहना है कि फिल्म के निर्माताओं का इसकी रिलीज के पीछे कोई राजनीतिक एजेंडा नहीं है। अनुपम ने शुक्रवार को यहां फिल्म जयंतीलाल गडा के प्रेजेंटर के साथ बॉम्बे स्टॉक एक्सचेंज में यह बात कही।

विजय रत्नाकर गुट्टे द्वारा निर्देशित फिल्म 'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' संजय बारू की किताब 'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' पर आधारित है।

यह पूछे जाने पर कि क्या आम दर्शक फिल्म से जुड़ पाएंगे, इस पर अनुपम ने कहा, "लोगों में उत्साह है कि मैं भारत के पूर्व प्रधानमंत्री की भूमिका निभा रहा हूं, लेकिन अंत में फिल्म की कहानी ही दर्शकों को खींचेगी। दर्शक तय करेंगे कि यह फिल्म बॉक्स ऑफिस पर चलेगी या नहीं।"

अनुपम ने कहा कि फिल्म बहुत ही ईमानदारी के साथ बनाई गई है।

उन्होंने कहा, "हमने बहुत ईमानदारी के साथ इस फिल्म को बनाया है और फिल्म की रिलीज के पीछे हमारा कोई राजनीतिक एजेंडा नहीं है। अक्षय खन्ना ने एक अच्छी बात कही थी कि यह फिल्म लोगों को डिबेट करने का मौका देगी न कि विवाद का।"

--आईएएनएस

Published in बॉलीवुड

विवाद के लिए बनी फिल्म 'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' ट्रेलर रिलीज होने के बाद धीरे-धीरे अपने मकसद की ओर बढ़ने लगी है। विवाद शुरू है और इस विवाद में अब इसमें कानूनी कार्रवाई का तड़का भी लग गया है। यहां की एक अदालत ने मंगलवार को पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह की भूमिका निभानेवाले अभिनेता अनुपम खेर समेत 14 कलाकारों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने का आदेश स्थानीय थाने को दिया। मुजफ्फरपुर व्यवहार न्यायालय के अनुमंडल न्यायिक दंडाधिकारी (एसडीजेएम) (पश्चिम) न्यायाधीश सब्बा आलम की अदालत ने अधिवक्ता सुधीर ओझा के एक परिवादपत्र की सुनवाई करते हुए फिल्म के अभिनेता अनुपम खेर सहित कुल 14 कलाकारों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कर मामले की जांच का आदेश मुजफ्फरपुर के कांटी थाना प्रभारी को दिया है। 

अधिवक्ता सुधीर ओझा ने बताया कि अदालत ने थाना प्रभारी को भादवि की धारा 295, 293, 153, 153 (ए), 504, 506, 120 (बी) तथा 34 के तहत सभी कलाकारों पर प्राथमिकी दर्ज करने का आदेश दिया है। 

ओझा ने 2 जनवरी को अदालत में एक परिवादपत्र दायर कर फिल्म में पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की छवि खराब करने और देश की छवि से खिलवाड़ करने का भी आरोप लगाया है।

परिवादपत्र में फिल्म की रिलीज पर रोक लगाने की मांग करते हुए कहा गया है कि पूर्व प्रधानमंत्री डॉ. सिंह समेत देश के कई नेताओं की छवि को बिगाड़ने की नीयत से ही यह फिल्म बनाई गई है। फिल्म में देश की सुरक्षा व्यवस्था के साथ भी खिलवाड़ किया गया है। 

ट्रेलर रिलीज होते ही इस फिल्म पर विवाद जोर पकड़ने लगा है। इसमें भाजपा सांसद किरण खेर के प्रसिद्ध अभिनेता पति अनुपम खेर और भाजपा सांसद रहे चर्चित अभिनेता (दिवंगत) विनोद खन्ना के बेटे अक्षय खन्ना ने प्रमुख भूमिका निभाई है। इस फिल्म का मुख्य उद्देश्य देश को यह बताना है कि वर्ष 2004 में अटल बिहारी वाजपेयी की सरकार जाने के बाद कांग्रेस सत्ता में आई थी और तत्कालीन कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने अपने बेटे राहुल गांधी को प्रधानमंत्री बनाने की तैयारी कर ली थी। उन दिनों जनता पार्टी के अध्यक्ष और पार्टी के इकलौते सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने तत्कालीन राष्ट्रपति एपीजे अब्दुल कलाम से अनुरोध कर ऐसा नहीं होने दिया। कांग्रेस को मजबूरी में अर्थशास्त्री डॉ. मनमोहन सिंह को प्रधानमंत्री बनाना पड़ा था।

संजय बारू की लिखी किताब पर बनी इस फिल्म की कहानी दर्शकों के गले उतरती है या नहीं, यह तो इसके रिलीज होने पर ही पता चलेगा। कांग्रेस का आरोप है कि भाजपा ने लोकसभा चुनाव में फायदा लेने के लिए यह फिल्म बनवाई है और जब चुनाव में सिर्फ पांच महीने रह गए हैं, तब इसे रिलीज किया जा रहा है।  

--आईएएनएस

Published in बॉलीवुड

दिग्गज अभिनेता अनुपम खेर ने बुधवार को पुणे स्थित भारतीय फिल्म एवं टेलीविजन संस्थान (एफटीआईआई) के अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया। इसकी वजह उन्होंने अंतर्राष्ट्रीय परियोजनाओं के प्रति अपनी बचनबद्धता को बताया है। अनुपम ने ट्वीट किया, "एफटीआईआई का अध्यक्ष रहते हुए मुझे बहुत कुछ सीखने को मिला और यह मेरे लिए सम्मान की बात थी, लेकिन अपनी अंतर्राष्ट्रीय परियोजनाओं के चलते मैं इस संस्थान को अपना समय नहीं दे पाऊंगा। इसलिए मैंने इस पद से इस्तीफा देने का निर्णय लिया है।"

अनुपम को पिछले साल अक्टूबर में प्रतिष्ठित भारतीय फिल्म एवं टेलीविजन संस्थान (एफटीआईआई) का अध्यक्ष नियुक्त किया गया था। अंतर्राष्ट्रीय परियोजनाओं समेत 500 से अधिक फिल्मों में काम कर चुके अभिनेता ने विवादास्पद गजेंद्र चौहान का स्थान लिया था। गजेंद्र की नियुक्ति के बाद संस्थान के विद्यार्थियों ने बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन किया था।

अनुपम इन दिनों अमेरिकी शो 'न्यू एम्स्टर्डम' की शूटिंग में व्यस्त हैं।

--आईएएनएस

Published in बॉलीवुड

दिग्गज अभिनेता अनुपम खेर ने पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के जीवन पर आधारित फिल्म 'द एक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर' की शूटिंग पूरी कर ली है और उनका कहना है कि इतिहास कांग्रेस नेता को गलत नहीं समझेगा। अनुपम ने शुक्रवार को एक वीडियो साझा किया, जिसमें वह मनमोहन सिंह के लुक में फिल्म का क्लैपबोर्ड पकड़े नजर आ रहे हैं। 

उन्होंने बताया कि फिल्म का अंतिम शॉट 27 अक्टूबर को लिया गया। 

अनुपम ने कहा, "मेरी सबसे पसंदीदा फिल्मों में से एक 'द एक्सिडेंटल प्राइम मिनिस्टर' की शूटिंग पूरी हो गई। धन्यवाद..सबसे बेहतरीन समय के लिए। डॉ. मनमोहन सिंहजी आपको आपके सफर के लिए आभार।"

अनुपम ने अभिनेत्री सुजेन बर्नर्ट की तस्वीर भी साझी की, जो फिल्म में यूपीए अध्यक्ष सोनिया गांधी की भूमिका में हैं। 

फिल्म 21 दिसंबर को रिलीज होगी। 

--आईएएनएस

Published in बॉलीवुड

दिग्गज अभिनेता अनुपम खेर ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की तुलना करते हुए कहा है कि जहां मोदी के पास देश के विकास के लिए एक रोड मैप है, वहीं राहुल गांधी द्वारा देश के भविष्य को लेकर अपना दृष्टिकोण साझा किया जाना अभी बाकी है। अनुपम की अगली फिल्म 'द एक्सीडेंटल प्राइम मिनिस्टर' है। इसमें वह पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह की भूमिका में हैं। उनकी पत्नी किरण खेर चंडीगढ़ से भाजपा सांसद हैं लेकिन देश के सामाजिक, राजनीतिक और आर्थिक मुद्दों पर खुलकर बोलने के लिए मशहूर अनुपम खेर का कहना है कि वह राजनीति में शामिल हुए बिना देश के मुद्दों के बारे में बात करते रहेंगे।

अभिनेता ने न्यूयॉर्क की उड़ान के दौरान ट्विटर पर सवाल-जवाब सेशन में अपने प्रशंसकों के साथ ये विचार साझा किए।

जब एक ट्विटर यूजर ने अनुपम से प्रधानमंत्री मोदी के कामकाज का मूल्यांकन करने के लिए कहा और पूछा कि क्या उन्होंने उन मुद्दों पर काम किया है, जिसका सामना देश कर रहा है, तो अभिनेता ने कहा, "प्रधानमंत्री मोदी देश की बेहतरी के लिए ईमानदारी से काम कर रहे हैं। यह सभी देख सकते हैं। मुझे उनकी क्षमताओं और इरादों पर भरोसा है।"

मोदी और राहुल के बीच तुलना किए जाने के लिए कहे जाने पर अनुपम ने कहा, "मोदी अपने बूते उभरे हैं। ऐसा लगता है कि भारत के विकास के लिए उनके पास रोड मैप है। राहुल गांधी को बिना मेहनत के अब तक सबकुछ थाली में सजाकर मिलता रहा है, तो उन्हें हम लोगों को अभी भी बताना है कि भारत के भविष्य के लिए उनका क्या दृष्टिकोण है।"

जब एक यूजर ने उनसे राहुल गांधी की लंदन कॉन्फ्रेंस के बाद उनको (राहुल को) सुझाव देने के लिए कहा तो अभिनेता ने कहा, "दिल से बोलो मेरे दोस्त।"

जब एक यूजर ने अनुपम से कहा कि वह मोदी के एक भी काम का सबूत के साथ उल्लेख करें कि उन्होंने भारत और इसके गरीब लोगों की भलाई के लिए काम किया है तो अभिनेता ने कहा, "इसके लिए आप आरटीआई दाखिल कर सकते हैं।"

अभिनेता ने बताया कि मोदी के अलावा उनके पसंदीदा प्रधानमंत्री लालबहादुर शास्त्री और पी.वी. नरसिम्हा राव रहे हैं।

--आईएएनएस

Published in बॉलीवुड

दिग्गज अभिनेता अनुपम खेर को अभिनेत्री सोनाली बेंद्रे के साथ कुछ खास वक्त बिताने का मौका मिला। उन्होंने सोनाली को अपनी हीरो बताया। सोनाली इन दिनों वह मेटास्टैटिक कैंसर काा इलाज करा रही हैं। 

अनुपम ने रविवार को ट्वीट कर कहा, "मैंने सोनाली बेंद्रे के साथ कुछ फिल्में की हैं। हम मुंबई में कई बार मिले हैं। वह हमेशा गर्मजोशी से मिलने वालों में से हैं, लेकिन पिछले 15 दिनों में मुझे न्यूयॉर्क में उनके साथ खास वक्त बिताने का मौका मिला और और मैं आसानी से कह सकता हूं, 'वह मेरी हीरो हैं'।"

उन्होंने सोनाली की वही तस्वीर साझा की, जो उन्होंने इलाज के लिए बाल कटाने के दौरान साझा की थी।

अनुपम उनके साथ 'ढाई अक्षर प्रेम के', 'हमारा दिल आपके पास है' और 'दिल ही दिल में' जैसी फिल्मों में काम कर चुके हैं।

अनुपम इन दिनों वेब सीरीज 'न्यू एम्सटर्डम' की शूटिंग कर रहे हैं।

--आईएएनएस

Published in बॉलीवुड

 अमेरिकी ड्रामा सीरीज 'न्यू एम्सटर्डम' की शूटिंग कर रहे दिग्गज अभिनेता अनुपम खेर ने इसे संवेदनशील मेडिकल ड्रामा बताया। अनुपम ने ट्वीट कर कहा, "डॉक्टर के किरदार में कलाकार स्लो मोशन में अधिक आत्मविश्वासी लगते हैं। 'न्यू एम्सटर्डम' संवेदनशील मेडिकल ड्रामा है।"

अमेरिका के सबसे पुराने सार्वजनिक अस्पताल बेलेव्यू से प्रेरित वेब सीरीज है, जिसमें रेयान एगॉल्ड ने डॉक्टर मैक्स गुडविन का किरदार निभाया है। 

अनुपम और रेयान एगॉल्ड के अलावा श्रृंखला में जैनेट मोंटगोमेरी, जोको सिम्स और टेलर लाबिन जैसे सितारे प्रमुख भूमिकाओं में हैं।

--आईएएनएस

Published in बॉलीवुड

अभिनेता अनुपम खेर ने सोशल मीडिया पर चले रहे 'हैश टॉक टू ए मुस्लिम' अभियान की निंदा करते हुए इसे बेहूदा बताया है। अनुपम शुक्रवार को यहां केंद्रीय औद्योगिकी सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) की स्वर्ण जयंती वर्ष पूरे होने पर आयोजित कार्यक्रम में मीडिया को संबोधित कर रहे थे।

ट्विटर पर 'हैश टॉक टू ए मुस्लिम' अभियान पर उपयोगकर्ता कमेंट कर रहे हैं। स्वरा भास्कर और गौहर खान जैसी शख्शियतों ने भी इस पर अपने विचार व्यक्त किए हैं।

अनुपम खेर ने अभियान पर कहा, "मैं एक ऐसे परिवार से आया हूं जिसने कभी यह नहीं सिखाया कि दूसरे धर्म होते हैं। हम सभी धर्मो का सम्मान करते हैं और यह एक बेहूदा अभियान है।"

उन्होंने कहा, "मुझे लगता है कि इस अभियान में मुस्लिमों को छोटा बताया है, जो मेरे हिसाब से शर्मनाक है। हमें किसी की धार्मिक भावनाओं को नहीं दुखाना चाहिए। आज कोई अभियान चलाना वास्तव में बहुत आसान हो गया है। प्रतिदिन सोशल मीडिया पर कोई ना कोई अभियान ट्रेंड करने लगता है। मुझे लगता है कि कुशलता से काम करते हुए हमें चलन शुरू करना चाहिए। हर किसी के खून और जीवन में 'आई एम अ इंडियन' अभियान चलना चाहिए।"

अनुपम ने सीआईएसएफ कर्मियों के साथ राष्ट्रगान गाया।

उन्होंने कहा, "मैं वर्दी पहनने वाले लोगों के प्रति हमेशा ही खुद को भावुक और गौरवान्वित महसूस करता हूं।"

शिमला में बीते अपने बचपन के दिनों की याद ताजा करते हुए उन्होंने बताया कि वहां पश्चिमी कमान का मुख्यालय था, वहां 'जय हिंद' या राष्ट्र गान गाना स्वाभाविक था।

उन्होंने कहा, "हाल ही में एथलीट हिमा दास भी स्वर्ण पदक जीतने के बाद तब रोने लगी थीं जब पुरस्कार समारोह में अपना राष्ट्र गान चल रहा था। इसलिए जब आप तिरंगा झंडा देखें और पाश्र्व में राष्ट्रगान चल रहा हो तो आपके रोंगते खड़े होना स्वाभाविक है।"

--आईएएनएस 

 

Published in बॉलीवुड