मुद्रा योजना से पैदा हुई 6.8 करोड़ नौकरियां : रिपोर्ट

प्रधानमंत्री मुद्रा योजना (पीएमएमवाई) के जरिये देश में दिसंबर, 2017 तक कुल 6.8 करोड़ नौकरियां पैदा होने का दावा किया गया है। यह दावा एक थिंक टैंक 'स्कॉच ग्रुप' ने किया है। देश का अग्रणी थिंक टैंक 'स्कॉच ग्रुप' मुद्रा योजना पर अपनी दूसरी शोध रिपोर्ट 10 मार्च को कांस्टीटूशन क्लब ऑफ इंडिया में 51वें स्कॉच समिट के दौरान प्रस्तुत करेगा।

सितंबर 2017 में जारी पहली रिपोर्ट के मुताबिक, जून 2017 तक मुद्रा योजना से 5.5 करोड़ नौकरियां पैदा हुईं। 

रिपोर्ट के आंकड़ों के मुताबिक दिसंबर 2017 तक मुद्रा योजना के माध्यम से कुल 6.8 करोड़ रोजगार के अवसरों का सृजन हुआ। 

यह रिपोर्ट माइक्रो यूनिट्स डेवलपमेंट एंड रिफाइनेंस एजेंसी लिमिटेड (मुद्रा लिमिटेड), बैंकों और वित्तीय संस्थानों से एकत्रित प्राथमिक आंकड़ों व सर्वेक्षणों पर आधारित है। 

रिपोर्ट के लेखक ए स्कॉच ग्रुप के अध्यक्ष समीर कोचर और ग्रुप में सार्वजनिक नीति मामले के निदेशक, रोहन कोचर के मुताबिक रोजगार की प्राप्ति की दर मजबूत है और जून-दिसंबर 2017 छमाही में रोजगार में 25 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है।

POPULAR ON IBN7.IN