शेयर बाजार : घरेलू, वैश्विक आर्थिक आंकड़े तय करेंगे चाल

अगले सप्ताह घरेलू और वैश्विक व्यापक आर्थिक आंकड़े, वैश्विक बाजारों के रुख, विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों (एफपीआई) और घरेलू संस्थापक निवेशकों (डीआईआई) द्वारा किए गए निवेश, डॉलर की तुलना में रुपये की चाल और कच्चे तेल की कीमतें शेयर बाजार की चाल तय करेंगे। संसद में चल रहे बजट सत्र पर निवेशकों की नजर बनी हुई है। संसद का बजट सत्र 29 जनवरी से शुरू हुआ था और इसका पहला चरण 9 फरवरी तक चला, जिसमें आम बजट समेत कई महत्वपूर्ण विधेयक पेश किए गए। बजट सत्र का दूसरा चरण 5 मार्च से शुरू होगा। 

घरेलू मोर्चे पर, मार्केट इकॉनोमिक्स देश के सेवा क्षेत्र के प्रदर्शन का फरवरी का आंकड़ा सोमवार (5 मार्च) को जारी करेगी। निक्केई सर्विसेज पीएमआई इंडिया सूचकांक जनवरी में 51.7 पर और इसके पिछले महीने 50.9 पर था। इस सूचकांक में 50 से कम का अंक मंदी का और 50 से अधिक अंक तेजी का सूचक है। 

वैश्विक व्यापाक आर्थिक मोर्चे पर, काइशिन चायना कंपोजिट पीएमआई का फरवरी का आंकड़ा और काइशिन चायना सर्विसेज पीएमआई का फरवरी का आंकड़ा सोमवार (5 मार्च) को घोषित किया जाएगा। 

जापान की निक्केई सर्विसेज पीएमआई का फरवरी का आंकड़ा भी सोमवार (5 मार्च) को ही घोषित किया जाएगा। अमेरिका के मार्किट कंपोजिट पीएमआई का फरवरी का आंकड़ा सोमवार (5 मार्च) को घोषित किया जाएगा। 

बैंक ऑफ जापान (बीओजी) ब्याज दरों पर अपने फैसले की घोषणा शुक्रवार (9 मार्च) को करेगी। बीओजे ने जनवरी में हुई बैठक में उम्मीद के मुताबिक ब्याज दरों को अपरिवर्तित -0.1 फीसदी पर रखा था।