13 साल बाद मूडीज की रेटिंग में हुए सुधार पर बोले अरुण जेटली, आर्थिक सुधारों ने अर्थव्‍यवस्‍था को किया मजबूत

 देशों को क्रेडिट रेटिंग देने वाली अमेरिकी संस्था मूडीज ने  सम्प्रभु देशों की रेटिंग में भारत के स्थान में सुधार करते हुए उसे ‘बीएए2’ कर दिया है. इस पर वित्‍त मंत्री अरुण जेटली ने कहा है कि आर्थिक सुधार लागू करने के बाद मूडीज ने रेटिंग में सुधार किया है.उन्‍होंने कहा कि मुझे लगता है कि पिछले कुछ सालों में सरकार ने जो कदम उठाए हैं उन सभी कदमों का नतीजा है जिससे कि हमारे देश की अर्थव्यवस्था मजबूत हुई है.

अरुण जेटली ने कहा कि इस देश में हर साल होते हैं इसलिए इसे उससे जोड़कर नहीं देखना चाहिए. मूडीज द्वारा किया गया यह सुधार भारत के लिए बड़ा सकारात्मक कदम है. उन्‍होंने कहा कि जिन लोगों का आकलन इन विषयों के बारे में बहुत ज्यादा गहराई पर आधारित होते हैं. वो राजनीतिक टिप्‍पणियां ना करें. मूडीज ने 13 वर्ष के बाद भारत की क्रेडिट रेटिंग में सुधार किया है. इससे पहले वर्ष 2004 में संस्था ने भारत की क्रेडिट रेटिंग में सुधार करते हुए उसे ‘बीएए3’ किया था.

वित्‍त मंत्री ने कहा कि नोटबंदी और जीएसटी जैसे फैसले की मदद से भारतीय अर्थव्यवस्था को अधिक डिजिटल बनाने में मदद की, जिसे हमें आज दुनियाभर में मान्यता मिल रही है. उनहोंने कहा कि मूडीज रैंकिंग से एक अंतरराष्ट्रीय मान्यता स्वीकार हुई है. जेटली ने कहा कि देश में जितने परिवर्तन आए हैं वह सभी एक दिशा में थे.

आपको बता दें कि रेटिंग एजेंसी मूडीज के भारत की रेटिंग सुधारने के बाद बैंकों के शेयरों में तेजी आने से आज घरेलू बाजारों ने शानदार शुरुआत की. शुरुआती कारोबार में सेंसेक्स 414 अंक की छलांग लगा कर 33,521 अंक पर पहुंच गया जबकि दोपहर 11 बजकर 40 मिनट पर सेंसेक्स 351 अंक तेजी पर कारोबार करता देखा गया. निफ्टी भी 10,300 अंक के स्तर को पार कर गया.