आइडिया-वोडाफोन विलय के लिए एनसीएलटी की मंजूरी का इंतजार

वोडाफोन व आइडिया के विलय के लिए भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग (सीसीआई) से मंजूरी मिलने के बाद अब आइडिया सेलुलर ने राष्ट्रीय कंपनी कानून प्राधिकरण (एनसीएलटी) के पास मंजूरी के लिए अर्जी दाखिल की है। कंपनी ने मंगलवार को एक बयान में यह जानकारी दी। बयान के मुताबिक, यह अर्जी सोमवार को एनसीएलटी की अहमदाबाद पीठ में दाखिल की गई।

आइडिया सेलुलर ने एक बयान में कहा, "भारतीय प्रतिस्पर्धा आयोग से 24 जुलाई को और सेबी से 4 अगस्त को मिली मंजूरी के बाद आइडिया सेलुलर ने कल (सोमवार) राष्ट्रीय कंपनी कानून प्राधिकरण के अहमदाबाद पीठ के पास वोडाफोन इंडिया और वोडाफोन मोबाइल सेवाओं के कंपनी के साथ विलय के लिए आवेदन दाखिल किया है।"

वोडाफोन इंडिया और आदित्य बिरला समूह की कंपनी आइडिया सेलुलर ने 20 मार्च को दोनों कंपनियों के विलय की घोषणा की थी।

इस नई कंपनी के अध्यक्ष आदित्य बिरला समूह के अध्यक्ष कुमार मंगलम बिड़ला होंगे।