Print this page

डॉलर की मजबूती से फिर मंद पड़ी पीली धातु की चाल
Friday, 06 November 2020 11:15

मुंबई: डॉलर की मजबूती के आगे शुक्रवार को फिर पीली धातु यानी सोने की चाल मंद पड़ गई, हालांकि निवेशकों को अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव के अंतिम नतीजे का इंतजार है। अंतर्राष्ट्रीय बाजार में बीते सत्र में सोने का भाव 2.71 फीसदी उछला था जो कि 9 अप्रैल 2020 के बाद की सबसे बड़ी एक दिन की तेजी है। भारतीय वायदा बाजार में भी बीते सत्र में सोने में 2.47 फीसदी और चांदी में 4.46 फीसदी की तेजी दर्ज की गई। घरेलू वायदा बाजार मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज (एमसीएक्स) पर शुक्रवार को सोने के दिसंबर वायदा अनुबंध में बीते सत्र से 175 रुपये यानी 0.34 फीसदी की कमजोरी के साथ 51,880 रुपये प्रति 10 ग्राम पर कारोबार चल रहा था जबकि इससे पहले सोने का भाव 51,912 रुपये पर खुला।

वहीं, चादी के दिसंबर अनुबंध में बीते सत्र से 190 रुपये यानी 0.30 प्रतिशत की तेजी के साथ 64,443 रुपये प्रति किलो पर कारोबार चल रहा था जबकि इससे पहले चांदी का भाव एमसीएक्स पर 64,479 रुपये प्रति किलो खुला।

अंतर्राष्ट्रीय वायदा बाजार कॉमेक्स पर शुक्रवार को सोने के दिसंबर अनुबंध में बीते सत्र से 5.25 डॉलर यानी 0.27 फीसदी की कमजोरी के साथ 1,941.55 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार चल रहा था। बीते सत्र में कॉमेक्स पर सोना 1,954.30 डॉलर प्रति औंस तक उछला था।

हालांकि कॉमेक्स पर चांदी के दिसंबर अनुबंध में बीते सत्र से 0.36 फीसदी की तेजी के साथ 25.30 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार चल रहा था।

अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव के परिणाम अभी घोषित नहीं हुए हैं, लेकिन डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जो बाइडन वर्तमान राष्ट्रपति और रिपब्लिकन पार्टी के प्रत्याशी डोनाल्ड ट्रंप के मुकाबले ज्यादा इलेक्टोरल वोट हासिल कर जीत के जादुई आंकड़ों के करीब हैं।

जानकार बताते हैं कि अमेरिका में आगे जो भी राष्ट्रपति चुनकर आएंगे कोरोना महामारी से निपटने के लिए बड़े राहत पैकेज लाने की कोशिश करेंगे जिससे महंगी धातुओं के दाम में आगे तेजी बनी रह सकती है।

उधर, अमेरिकी केंद्रीय बैंक फेडरल रिजर्व ने फिर मौद्रिक नीति में नरम रुख बनाए रखा।

दुनिया की छह प्रमुख मुद्राओं के मुकाबले डॉलर की ताकत का सूचक डॉलर इंडेक्स बीते सत्र से 0.10 फीसदी की मजबूती के साथ 92.61 पर बना हुआ था।

--आईएएनएस

पीएमजे-एसकेपी