अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव, घरेलू कारकों से तय होगी शेयर बाजार की चाल
Sunday, 01 November 2020 16:50

  • Print
  • Email

मुंबई: भारतीय शेयर बाजार इस सप्ताह भी मुख्य रूप से विदेशी बाजारों से मिले संकेतों से चाल पकड़ेगी, खासतौर अमेरिका में होने जा रहे राष्ट्रपति चुनाव की हलचलों पर निवेशकों की नजर होगी। इसके अलावा, घरेलू कारकों में प्रमुख आर्थिक आंकड़ों, देसी कंपनियों द्वारा जारी होने वाले दूसरी तिमाही के वित्तीय नतीजे और अक्टूबर में ऑटो कंपनियों की बिक्री के आंकड़ों के साथ-साथ सुप्रीम कोर्ट में लोन मोरेटोरियम मामले में होने वाली सुनवाई पर भी बाजार की निगाह बनी रहेगी। अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव के लिए तीन नवंबर को मतदान होगा। इस चुनाव में मौजूदा राष्ट्रपति और रिपब्लिकन पार्टी के उम्मीदवार डोनाल्ड ट्रंप को डेमोक्रेटिक पार्टी के जो बाइडन चुनौती दे रहे हैं। अमेरिकी राष्ट्रपति चुनाव को लेकर राजनीतिक हलचलों से शेयर बाजार में अस्थिरता रह सकती है।

वहीं, घरेलू मोर्चे पर भी तीन चरणों में हो रहे बिहार विधानसभा चुनाव को लेकर राजनीतिक सरगर्मियां तेज हैं। दूसरे चरण में तीन नवंबर को मतदान होगा जबकि अंतिम चरण का मतदान सात नवंबर को होगा और चुनाव परिणाम 10 नवंबर को आएंगे।

सप्ताह के आरंभ में सोमवार को लोन मोरेटोरियम मामले में सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई होने वाली है जिस पर बाजार की नजर होगी। वहीं, आईएनएस मार्केट की तरफ से देश के विनिर्माण क्षेत्र के अक्टूबर महीने के परचेजिंग मैनेजर्स इंडेक्स यानी पीएमआई के आंकड़े जारी होंगे जबकि सेवा क्षेत्र के पीएमआई के आंकड़े बुधवार को जारी होंगे।

वहीं, एचडीएफसी और एनटीपीसी समेत कई कंपनियां चालू वित्त वर्ष की दूसरी तिमाही के वित्तीय आंकड़े इस सप्ताह जारी करने वाली हैं, जिनका असर उनके शेयरों में होने वाले कारोबार पर देखने को मिलेगा। एनटीपीसी और एचडीएफसी के वित्तीय नतीजे सोमवार को ही जारी होंगे, वहीं बीते शनिवार को ही जारी हुए आईसीआईसीआई बैंक के वित्तीय नतीजे काफी अच्छे रहे हैं।

इसके अलावा, ऑटो कंपनियां बीते महीने अक्टूबर की बिक्री के अपने आंकड़े जारी करने शुरू कर दिए हैं जिनका असर शेयर बाजार पर देखने को मिलेगा।

उधर, एक्विटास फाइनेंस बैंक की लिस्टिंग के बाद शेयर बाजार में सोमवार को इसके शेयर में कारोबार की शुरूआत होगी।

वहीं, दुनियाभर में कोरोना के गहराते प्रकोप का साया लगातार शेयर बाजारों पर बना हुआ है। लेकिन इसके बीच विदेशी मोर्चे पर खासतौर से अमेरिका, चीन और यूरोप में जारी होने वाले प्रमुख आर्थिक आंकड़ों का भी प्रभाव वैश्विक बाजार पर देखने को मिलेगा।

अमेरिका में मार्केट मैन्युफैक्च रिंग पीएमआई के अक्टूबर महीने के आंकड़े सोमवार को जारी होंगे और इसी दिन चीन में कैक्सिन मैन्युफैक्च रिंग पीएमआई के अक्टूबर महीने के आंकड़े जारी होंगे जबकि कैक्सिन कंपोजिट और कैक्सिन सर्विसेस पीएमआई के अक्टूबर महीने के आंकड़े बुधवार को जारी होंगे।

--आईएएनएस

पीएमजे-एसकेपी

Leave a comment

Make sure you enter all the required information, indicated by an asterisk (*). HTML code is not allowed.

Don't Miss