Print this page

राजगीर चिड़ियाघर सफारी के अगले दो महीनों में खुलने की संभावना
Tuesday, 01 December 2020 17:06

पटना: मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की महत्वाकांक्षी परियोजना राजगीर में चिड़ियाघर सफारी को अगले दो महीनों में प्रकृति प्रेमियों के लिए खोले जाने की उम्मीद है। प्रधान मुख्य वन संरक्षक, बिहार ए.के. पांडे ने इस बाबत मंगलवार को आईएएनएस को जानकारी दी।

पांडे ने कहा, "कुछ काम जैसे कि तार का बाड़ लगाने का काम परियोजना में शेष है। हमारी उम्मीदों के अनुसार, यह अगले दो महीनों में पूरा हो जाएगा।"

मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने जनवरी, 2017 में लगभग 176 करोड़ रुपये की अनुमानित लागत से अपने ड्रीम प्रोजेक्ट की नींव रखी थी। चिड़ियाघर सफारी 472 एकड़ में फैला हुआ है और राजगीर की पहाड़ियों से घिरा हुआ है।

अधिकारियों के अनुसार, परियोजना पूरा करने की समय सीमा इस साल अगस्त में थी। इसमें पहले ही तीन महीने की देरी हो गई है और इसे पूरा होने में और दो माह का वक्त लगेगा।

एक अन्य वन अधिकारी ने कहा कि यह सफारी एशियाई शेरों, बाघों, पैंथरों, तेंदुओं, हिरणों और ब्लैकबक जैसी प्रजातियों के लिए एक तरह का प्राकृतिक आवास है। जानवरों को विशेष रूप से डिजाइन किए गए बाड़ों में रखा जाएगा। बड़े बाड़े 90 एकड़ में फैले हुए हैं। एक तितलियों का पार्क भी बनाया जा रहा है।

राजगीर बिहार के सबसे महत्वपूर्ण पर्यटन स्थलों में से एक है, जो नालंदा जिले में स्थित है। यह राज्य की राजधानी पटना से लगभग 90 किलोमीटर दूर है। हर साल बड़ी संख्या में पर्यटक यहां आते हैं। यह मुख्यमंत्री नीतीश कुमार का गृह जिला भी है।

--आईएएनएस

आरएचए/एएनएम