तेजाब में डुबो कर गला दिए तीन लड़के, पैसों के लिए हैवान बन गया यह यूट्यूब स्‍टार

मैक्सिको के पश्चिमी शहर ग्वाडलाहारा में तीन कॉलेज छात्र अपने कॉलेज प्रोजेक्ट के लिए वीडियो शूट करने गए थे। उन्होंने अपने रास्ते में एक और युवा साथी को हमराह बना लिया, जो सेलिब्रिटी का दर्जा रखता था। नए साथी की उम्र 24 साल थी और उसने एक यू ट्यूब चैनल बनाया था। जिसे 5 लाख से ज्यादा बार देखा गया था। इन वीडियोज में ड्रग्स और क्राइम के कारण पैदा होने वाली बर्बाद , हिंसक जिंदगी के बारे में बताया गया था। कॉलेज के छात्र मैक्सिको शहर में फिल्म निर्देशक बनना चाहते थे। वह अपनी सफलता के प्रति इतना ज्यादा उत्साहित ​थे कि अगले साल आॅस्कर भी ​जीतना चाहते थे। लेकिन सभी छात्र नशे का कारोबार करने वाले गैंग के चंगुल में फंस गए और उन्हें फंसाने वाला वही यू ट्यूबर था। जांच करने वाली पुलिस टीम ने बताया कि इस केस में यू ट्यूबर पर आरोप है कि उसने तीनों छात्रों के शरीर को तेजाब में डुबोकर उनके ​अवशेष तक गला दिए थे।

यू ट्यूब की सनसनी था रैपर : गैंग के लिए काम करने के अलावा भी क्रिश्चिचयन ओमर पाल्मा गुतिरेज़ के पास और काम थे। गुतिरेज़ एक रैपर था। वह यू ट्यूब पर अपना ‘क़ुबा’ नाम का चैनल चलाता था। इस चैनल पर उसके 50 हजार से ज्यादा फॉलोअर थे। उसके वीडियो को 6,70,000 से ज्यादा लोगों ने देखा था। वह 29 अप्रैल को तिजुआना में एक रैप फेस्टिवल में भी परफॉरमेंस देना चाहता था। पाल्मा गुतिरेज़ के वीडियो के निर्माता का कहना है कि गुतिरेज़ इंटरनेट से इंस्ट्रूमेंटल ट्रैक डाउनलोड करने के बाद उनके ऊपर अपनी आवाज को डब करता था। अपने यूट्यूब वीडियो से गुतिरेज को हर महीने यू ट्यूब से 300 डॉलर तक की कमाई हो रही थी। इन पैसों से गुतिरेज़ अपने बीवी बच्चों के साथ आराम से रह रहा था। उसकी ख्वाहिश थी कि वह और ज्यादा पैसे कमाए ताकि अपने माता—पिता और परिवार की सभी जरूरतों को पूरा कर सके।

मैक्सिकों में तीन छात्रों की मौत पर मार्च निकालकर उन्हें श्रद्धांजलि देते लोग। फोटो- एटीआई

संगीत में देता था हिंसा का रेफरेंस : पाल्मा गुतिरेज़ के पूरे शरीर पर टैटू थे। वह अक्सर बैगी शर्ट और शॉर्ट पहनता था। लॉस एंजेल्स के डॉजर्स और बेसबॉल टीम की ​कैप लगाता था। उसे खुद को मोडेफुक्का कहलाना बेहद पसंद था। वह अक्सर अपने वीडियो में घर वालों से कहीं दूर जाकर रहने की बात करता था। वह कहता था कि मेरी आवाज तुम्हारा घर बने, जहां उनकी कब्र बने और वह अंधेरे में तब तक डूबे रहें, जब तक उनकी इच्छा करे। एक अन्य वीडियो में उसने एक रस्सी से बंधे आदमी को खूनी बोझे के साथ मारने और उनके शरीर को गैसोलीन डालकर जलाने की इच्छा जताई है। ये संकेतात्मक था और गुतिरेज़ उसे अपना संगीत सुनाकर मारना चाहता था। लेकिन गुतिरेज़ की एक पहचान ये भी थी कि वह मैक्सिको के सबसे तेज और सबसे हिंसक गैंग ‘जालिस्को न्यू जनेरेशन’ के लिए काम करता था।

गैंग के शिकार को गला देता था गुतिरेज़ : इस गैंग के सदस्य के तौर पर गुतिरेज़ का काम गैंग के विराधियों को किडनैप करने में मदद करना और विरोधियों को टॉर्चर करना था। लेकिन गुतिरेज का मुख्य काम वह था, जिसे गैंग कुक करना कहता था। गुतिरेज गैंग के विरोधियों को एसिड से भरे टैंक में फेंककर उनके अवशेष तक गला दिया करता था। इसके एवज में उसे महीने में 160 डॉलर तक मिलते थे। वह लोगों के शरीर को एसिड टैंक में फेंकने के बाद दो दिन के लिए छोड़ देता था। वह तेजाब को नाले में बहा देता था, जबकि बचे हुए अवशेषों को मैदान में फेंक दिया करता था। पुलिस की पड़ताल में पता चला कि तीन फिल्म छात्रों का भी गुतिरेज़ ने यही हाल किया था।

सिर्फ शक़ के कारण कर दिया क़त्ल : जांच कर्ताओं का कहना है कि मरने वाले फिल्म छात्रों की उम्र 20 से 25 साल के बीच थी। उनका नशे के कारोबार से कोई लेना-देना नहीं था। उनकी गलती सिर्फ इतनी थी कि उन्होंने अपनी फिल्म के लिए बैकग्राउंड के तौर पर उस घर को चुन लिया जिसे विरोधी गैंग अपने अड्डे के तौर पर इस्तेमाल करता था। जिस वक्त शूटिंग चल रही थी, जालिस्को गैंग की निगाह उस घर पर थी। जैसे ही तीन छात्र दिखे, उन्होंने छात्रों को अगवा कर लिया और जालिस्को गैंग के ठिकाने पर ले गए। वहां उनसे पूछताछ की गई। एक छात्र की मौत पूछताछ के दौरान हो गई। जबकि गैंग ने बाकी दो लोगों को मार ​डाला। सूत्रों के मुताबिक पाल्मा गुतिरेज़ ने अपना गुनाह कबूल कर लिया है। उसे विशेष सुरक्षा वाली जेल में रखा गया है क्योंकि गैंग को शक है कि वह विरोधी गैंग की मदद कर रहा था।

POPULAR ON IBN7.IN