कैंसर का बहाना बनाकर इस लड़की ने घरवालों और दोस्तों को ठगा...मिली ये सजा

आपको साउथ इंडियन सिनेमा की फिल्म 'मास' का एक कॉमिक सीन याद है जब कॉमेडी स्टार वेनू यादव झूठा कैंसर का मरीज बन गुंडा बने नर्सिंग यादव से पैसे एठते थे. वो कैंसर की झूठी बीमारी का बहाना कर पैसे लेकर शराब और पार्टी में उड़ाते थे. कुछ ऐसा ही मामला आस्ट्रेलिया से सामने आया है. यहां एक 24 साल की लड़की टर्मिनल कैंसर का बहाना कर अपने दोस्तों और घरवालों से ही पैसे लेती और बाहर शराब, पार्टी में उड़ाती. 

टर्मिनल कैंसर जैसी बीमारी होने का बहाना कर व झूठ बोलकर दोस्तों व परिवार से पैसे लेने वाली एक 24 वर्षीय आस्ट्रेलियाई युवती को तीन महीने की जेल हुई है. बीबीसी के मुताबिक, न्यायाधीश ने झूठ बोलकर पैसे जुटाने के इस घोटाले को 'घृणित' बताया. हन्ना डिकेंसन ने अपने माता-पिता से विदेश में इलाज कराने की जरुरत बताकर 31,0000 डॉलर (लगभग 2 करोड़ 3 लाख) लिया. 

उसके माता-पिता को अपने दोस्तों से दान मिला. डिकेंसन ने पैसों को छुट्टियां मनाने, मौज-मस्ती करने और पार्टी करने में उड़ा दिया. डिकेंसन को धोखा देकर संपत्ति प्राप्त करने पर मेलबर्न मजिस्ट्रेट कोर्ट ने सात आरोपों में दोषी बनाया. सजा सुनाने के दौरान न्यायाधीश डेविड स्टारवेगी ने कहा कि डिकेंसन उस काम में शामिल हुई, जो मानवीय स्वभाव के अनुसार, किसी को भी भावुक बना देता है. 

उन्होंने कहा, "लोगों की सहायता करने और सामाजिक विश्वास की इच्छा को ठोस पहुंचाया गया है. ये वो लोग हैं, जो कमाने के लिए कड़ी मेहनत करते हैं." अदालत को बताया गया कि एक शख्स ने अपना कैंसर का इलाज कराकर अस्पताल से छुट्टी मिलने के बाद डिकेंसन को 7,750 डॉलर दान में दिए. एक अन्य शख्स ने चार अलग-अलस मौके पर धन दिया. बीबीसी के अनुसार, डिकेंसन का यह झूठ तब पकड़ा गया, जब एक और दानकर्ता ने उसकी तस्वीर फेसबुक पर देखकर संदेह जताया और पुलिस को जानकारी दी. (इनुपट - आईएएनएस) 

POPULAR ON IBN7.IN