यहां लड़कियां किराए पर लेती हैं ब्‍वॉयफ्रेंड, कारण हैरान करने वाला

21वीं सदी में भी दुनिया के अलग-अलग देशों में महिलाओं को कई तरह की धारणाओं पर परखा जाना जारी है। परिणाम स्वरूप कई बार ऐसी खबरें सामने आती हैं जो चौंकाने वाली होती हैं। ऐसी ही एक खबर पड़ोसी मुल्क चीन से है। यहां एक उम्र के बाद सक्षम लड़कियां भी कलंकित मानी जाने लगती हैं। चीन में 20 वर्ष की उम्र तक लड़की की शादी न होने पर उसे हिकारत की नजर से देखा जाना आम है और परिवार वाले उसे लेकर चिंता के घूंट पीना शुरू कर देते हैं। ऐसी लड़कियों को ‘शेग नू’ का तमगा मिल जाता है, जिसका मतलब होता है- ‘ठुकराई गई औरतें।’ मसलन, परिवारवालों और समाज को खुश रखने के लिए पड़ोसी देश में किराए पर प्रेमिका या प्रेमी को रखने का व्यापार खासा फल फूल रहा है। 20 की उम्र की दहलीज पर खड़े लड़के-लड़कियां अक्सर किराए पर प्रेमिका-प्रेमी लेकर घर-समाज को धोखे में रख उनके ऊपर लगने वाले कलंक से बचने की नाकाम कोशिश करते हैं। लड़कियां ऐसा करके कुछ और आजादी की मोहलत का ख्वाब देख लेती हैं और लड़के भी शर्मिंदगी का जहर पीने से बच लेते हैं। ऐसा हम नहीं कह रहे हैं, अग्रेजी वेबसाइट अलजजीरा डॉट कॉम पर प्रकाशित एक पुरानी रिपोर्ट दावा कर रही है। इंटरनेट खंगालते वक्त चीन की इस बेतरतीब सच्चाई पर नजर पड़ी तो हमने यहां उसे जाहिर कर दिया।

रिपोर्ट में सीलिया नाम की लड़की की कहानी के हवाले से बताया गया है कि वह अपने एक जानने वाले लड़के को ही अपना नकली प्रेमी बनाकर अपने घरवालों से मिलवाती है। उससे पहले सीलिया अपने कुछ दोस्तों से किराए के प्रेमी को मिलवाती है, लेकिन उनकी चाल मिनटों में पकड़ी जाती है, ऐसा ही कुछ हाल उसके माता-पिता के सामने होता है जब वे पूरा माजरा भांप लेते हैं। रिपोर्ट में यह भी बताया गया है कि चीन में किराए पर प्रेमी-प्रेमिका उपलब्ध कराने वाली वेबसाइटें भी उपलब्ध हैं और करीब 150 डॉलर यानी करीब 10 हजार रुपये प्रतिदिन के हिसाब से चुकाने पर उनकी सेवाएं मिल जाती हैं।

सीलिया की मां लड़के को देख कहती हैं- ”वह तुम्हारे लिए काफी लंबा और सुंदर है। तुम्हें एक छोटे कद के और सादा लड़के की जरूरत है।” चीनी नववर्ष के दिन नए प्रेमी और प्रेमिकाएं बनाने का रिवाज है, इस दिन हर माता-पिता यह उम्मीद करते हैं कि उनके बेटे या बेटी अपने पार्टनर के साथ मंगनी की घोषणा करेंगे। रिपोर्ट के मुताबिक चीनी परिवारों की चाहत होती है कि उनके बच्चे समय से घर बसा लें और उनके घर-आंगन में बच्चे की किलकारी गूंजने लगे। लेकिन माता-पिता की अपेक्षाओं और उम्मीदों का बोझ लड़कियों और लड़कों को कई दफा किराए के प्रेमी और प्रेमिका का साथ लेने के लिए मजबूर कर देता है।

POPULAR ON IBN7.IN