'उत्तर कोरियाई प्रतिनिधिमंडल का दक्षिण कोरिया दौरा अर्थपूर्ण'

उत्तर कोरिया के सरकारी मीडिया ने सोमवार को कहा कि दक्षिण कोरिया में शीतकालीन ओलंपिक खेल के दौरान उत्तर कोरिया के उच्चस्तरीय प्रतिनिधिमंडल का दौरा 'अर्थपूर्ण' था और इससे अंतर कोरियाई संबंधों में सुधार हुआ। योनहाप न्यूज एजेंसी की रिपोर्ट के अनुसार, उत्तर कोरिया के सेरेमोनियल हेड ऑफ स्टेट किम योंग नाम की अगुवाई में उत्तर कोरियाई प्रतिनिधिमंडल प्योंगचांग शीतकालिन ओलंपिक के लिए दक्षिण कोरिया का दौरा करने के बाद रविवार देर रात वापस स्वेदश आ गया।

उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग-उन की छोटी बहन किम यो-जोंग ने दक्षिण कोरिया के राष्ट्रपति मून जे-इन को अपने भाई का पत्र दिया जिसमें उन्हें प्योंगयांग आने का आमंत्रण दिया गया है।

उत्तर कोरिया के आधिकारिक अखबार रोडोंग सिनमुन ने एक रिपोर्ट में कहा, "उत्तर कोरिया के उच्चस्तरीय प्रतिनिधिमंडल के हालिया दक्षिण कोरियाई दौरे से दोनों देशों के बीच संबंध बेहतर करने और कोरियाई प्रायद्वीप में शांति स्थापना करने का माहौल बना।"

उत्तर कोरिया के नेता किम जोंग उन ने अपने नव वर्ष दिवस के संदेश में उत्तर कोरिया की ओर से शीतकालीन ओलंपिक में अपने प्रतिनिधिमंडल भेजे जाने के संकेत दिए थे। इसके बाद से दोनों देशों के बीच व्यापक स्तर की खेल कूटनीति देखी गई।

किम जोंग उन की ओर से मून को भेजे गए आमंत्रण से 10 वर्षो से ज्यादा अंतराल के बाद अंतर कोरियाई सम्मेलन होने की संभावना बन रही है। दोनों देशों के बीच इस तरह का सम्मेलन 2000 और 2007 में हुआ था।

अखबार के अनुसार, "उत्तर कोरिया के प्रतिनिधिमंडल को लेकर जेट विमान रविवार रात 10 बजकर 40 मिनट पर प्योंगयांग हवाईअड्डा पहुंचा।"

सियोल के एकीकरण मंत्रालय ने कहा कि सरकार अंतर-कोरियाई संबंध में हुए हालिया प्रगति का इस्तेमाल वाशिंगटन और प्योंगयांग के बीच बातचीत की संभावना को तलाशने में करेगी।

POPULAR ON IBN7.IN