सीरिया में अमेरिकी हमले में 100 सरकार समर्थक लड़ाके मरे

सीरिया में आतंकी संगठन इस्लामिक स्टेट से लड़ने वाले अमेरिकी नेतृत्व के गठबंधन ने सरकार समर्थक बलों के खिलाफ हवाई और तोप से हमले किए हैं जिसमें 100 से अधिक लड़ाके मारे गए है। 'सीएनएन' की रिपोर्ट के अनुसार, गठबंधन ने कहा कि बुधवार का हमला सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल असद के साथ जुड़े बलों द्वारा बगैर उकसावे के सीरियन डेमोक्रेटिक फोर्सेस (एसडीएफ) मुख्यालयों पर किए गए हमले के बाद हुआ जहां गठबंधन से जुड़े सलाहकार अमेरिका समर्थित सीरियाई लड़ाकों के साथ काम कर रहे थे। 

अमेरिकी सेना के एक अधिकारी ने कहा कि करीब पांच सौ की संख्या में सरकार समर्थक बलों ने तोपों, मोर्टार और रूस निर्मित टैंकों से हमले को अंजाम दिया। 

सैन्य अधिकारी के अनुसार, अमेरिका समर्थित लड़ाकों और गठबंधन बलों के हमले से पहले मुख्यालय के 500 मीटर के भीतर 20 से 30 तोपें और टैंक लाए गए जिसके बाद अमेरिका-समर्थित बलों ने हमलावरों को लक्षित कर हवाई और तोपखाने से हमला किया।

उन्होंने कहा, "हमने एसडीएफ और गठबंधन बलों संग मुठभेड़ में 100 सीरिया सरकार समर्थकों के मरने का अनुमान जताया है।" 

उन्होंने कहा कि जो बल वापस लौट गए हमने उन्हें निशाना नहीं बनाया और 'यह कार्रवाई आत्मरक्षा में की गई।' 

'सीएनएन' ने अधिकारी के हवाले से कहा कि इस दौरान कोई अमेरिकी सैनिक हताहत नहीं हुआ। 

अधिकारी ने कहा कि गठबंधन को संदेह है कि सरकार समर्थक बल उस क्षेत्र को अपने कब्जे में लेने की फिराक में थे जहां तेल संपन्न इलाके हैं और इसे एसडीएफ ने सितंबर में आईएस से मुक्त कराया था।

POPULAR ON IBN7.IN