अफगानिस्तान: काबुल बम ब्लास्ट में 95 की मौत, 163 घायल, तालिबान ने ली जिम्मेदारी

अफगानिस्तान की राजधानी काबुल में शनिवार को जबरदस्त बम धमाका हुआ। मध्य काबुल के सिदारत स्क्वेयर के पास हुए इस भयानक विस्फोट में अब तक 95 लोगों की मौत हो चुकी है तो वहीं 163 से ज्यादा घायल हैं। रिपोर्ट्स के मुताबिक एक एंबुलेंस में बम छुपाया गया था। धमाके की वजह से संपत्ति का काफी नुकसान हुआ है। रिपोर्ट्स के मुताबिक प्रत्यक्षदर्शी मोहम्मद मुस्तफा ने कहा कि विस्फोट जम्हूरियत अस्पताल के सामने अपराह्न लगभग 12.50 बजे हुआ, जहां कई सरकारी कार्यालय स्थित हैं। उन्होंने कहा, ‘‘हमें इलाके में भयानक विस्फोट सुनाई दिया, जो सिदारत स्क्वेयर से कुछ मीटर दूर है। फिलहाल, पूरे इलाके को सील कर दिया गया है।’’

सुरक्षा बलों ने एहतियाती कदम के रूप में इलाके को घेर लिया है। तालिबान ने हमले की जिम्मेदारी ली है। सांसद मीरवाइज यासिनी ने यह ब्लास्ट अपनी आंखों से देखा। उन्होंने बताया कि पुलिस चेकप्वॉइंट के पास खड़ी एक एंबुलेंस में जोरदार बम धमाका हुआ। उन्होंने बताया कि धमाके के बाद उन्होंने कई लोगों को जमीन पर पड़ा पाया। पब्लिक हेल्थ मंत्रालय के प्रवक्ता ने बताया कि घायलों को इलाज के लिए अस्पताल ले जाया गया है। आंतरिक मंत्रालय के उप प्रवक्ता नसरत रहिमी ने बताया, ‘सुसाइड बॉम्बर ने एंबुलेंस का इस्तेमाल किया ताकि पुलिस चेकप्वॉइंट को पार किया जा सके। वह पहसे चेकप्वॉइंट को क्रॉस कर गया, वहां उसने बताया कि वह एक मरीज को जमूरियत अस्पताल लेकर जा रहा है। दूसरे चेकप्वॉइंट पर उसे पहचान लिया गया था लेकिन उसने उसी वक्त धमाका कर दिया।

लगभग 50 लाख आबादी वाले इस राजधानी शहर में पिछले कुछ सालों से लगातार आतंकवादी हमले हो रहे हैं। काबुल में स्थित एक आलीशान होटल पर तालिबान द्वारा 20 जनवरी को किए गए हमले में 14 विदेशियों सहित 20 से अधिक लोग मारे गए थे और एक दर्जन से अधिक लोग घायल हो गए थे। सूत्र ने बताया कि विस्फोट की चपेट में आए लोगों में महिलाएं और बच्चे शामिल हैं। इस क्षेत्र में अफगान गृह मंत्रालय की पुरानी इमारत स्थित है।