अमेरिकी कूटनीतिज्ञों पर कथित हमले पर सुनवाई अस्वीकार्य : क्यूबा

हवाना: क्यूबा में अमेरिकी कूटनीतिज्ञों पर कथित हमले के मसले पर अमेरिकी संसद(सीनेट) में सुनवाई पर क्यूबा की ओर से आपत्ति जताई गई है। क्यूबा का कहना है कि हमले का कोई 'साक्ष्य' नहीं है और उसके ऊपर बेवजह आरोप मढ़ा जा रहा है। लिहाजा सीनेट की सुनवाई उसे 'अस्वीकार्य' है। समाचार एजेंसी 'सिन्हुआ' के मुताबिक, क्यूबा के उच्चपदस्थ कूटनीतिज्ञ ने सीनेट की सुनवाई की आलोचना की और कहा कि यह ऐसा आरोप है, जिसे साबित करने में वाशिंगटन अक्षम है। 

सबसे पहले नवंबर 2016 में हमले की घटना के बारे में बताया गया था, जिसमें क्यूबा में 20 से ज्यादा अमेरिकी कूटनीतिज्ञों और उनके परिवार के सदस्यों की ओर से उनमें श्रवण क्षमता की कमी, चक्कर आने, सिरदर्द, थकान की शिकायतें की गई थीं। 

इससे अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के उस दावे की पुष्टि होती है कि क्यूबा इसके लिए जिम्मेदार है। 

क्यूबा के विदेश मंत्रालय में अमेरिकी प्रभाग के महानिदेशक जोसफिन विडाल ने मीडिया को बताया कि यह सच है कि वह (क्यूबा) मंगलवार की सीनेट की सुनवाई का सबसे 'बड़ा शिकार' हैं। 

उन्होंने कहा, "जाहिर है कि क्यूबा के खिलाफ आरोप निराधार है। अमेरिकी विदेश विभाग के पास कोई सबूत नहीं है, जिससे उनका दावा साबित होता हो कि हवाना में उनके कूटनीतिज्ञों पर हमले हुए थे अथवा क्यूबा को इसके लिए उत्तरदायी ठहराया जाए या उनके पास विदेशी राजदूतों के खिलाफ तीसरे पक्ष की कार्रवाई की जानकारी हो।" 

अमेरिकी विदेश मंत्रालय के अधिकारियों ने सीनेट की सुनवाई में कहा कि यह 'समझ से बाहर' है कि जो कुछ हुआ उससे क्यूबा की सरकार अवगत नहीं थी या इसके लिए कौन जिम्मेदार है। 

विडाल ने अमेरिकी विदेश विभाग के कई अधिकारियों की ओर से दिए गए बयान को खारिज करते हुए उसे अस्वीकार्य बताया।

कथित हमले को लेकर अमेरिकी जांच एजेंसी फेडरल ब्यूरो ऑफ इन्वेस्टिगेश की रिपोर्ट प्रकाशित होने के एक दिन बाद सीनेट में सुनवाई हुई। रिपोर्ट में कहा गया है कि क्यूबा में अमेरिकी अधिकारियों पर हमले के कोई सबूत नहीं पाए गए हैं। 

उन्होंने कहा, "अमेरिकी कूटनीतिज्ञों की ओर से बताई जा रही स्वास्थ्य संबंधी शिकायतों के लिए क्यूबा की सरकार जिम्मेदार नहीं है। हम अपनी जिम्मेदारी समझते हैं और उदाहरण स्थापित करते हुए उसे निभाते हैं।"

--आईएएनएस

POPULAR ON IBN7.IN